विज्ञापन

अपना शहर तो वोटिंग में फिर रहा फिसड्डी

Lakhimpur Updated Tue, 03 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
अशोक निगम
विज्ञापन
लखीमपुर खीरी। लखीमपुर शहर इस बार फिर मतदान में फिसड्डी साबित हुआ। जिले में हुए नगर निकाय चुनाव में सबसे कम मतदान का रिकार्ड लखीमपुर के नाम रहा। जबकि जिले की सबसे पिछड़ी नगर पंचायत बरबर वोटिंग में सबसे आगे रही। उधर मतदान की जो फाइनल लिस्ट बनी तो मतदान प्रतिशत 55.22 की जगह 54.71 ही रह गया। लखीमपुर शहर का जो मतदान रविवार रात 46.25 था, वह अंतिम गणना में 46.17 ही रह गया।
लखीमपुर शहर में कम मतदान के पीछे अगर कड़ी धूप और उमस भरी गर्मी रही तो लोगों का आलस और मतदान में अरुचि भी एक बड़ा फैक्टर रहा। विधान सभा चुनाव में भी लखीमपुर के मतदाता सबसे फिसड्डी साबित हुए थे। विधानसभा चुनाव में यहां केवल 57.80 प्रतिशत लोगों ने ही मतदान किया था जबकि अन्य क्षेत्रों में 64 फीसदी से अधिक मतदान हुआ था।
लखीमपुर शहर में सुबह से मतदान काफी धीमी गति से चला। सुबह नौ बजे तक शहर में सिर्फ 08.76 प्रतिशत मतदान हो सका था। 11 बजे यह बढ़ कर 22.83 हो पाया। इसके बाद दोपहर एक बजे तक 35.37 फीसदी तक ही मतदान हो पाया। इसके बाद मतदान की रफ्तार एकदम धीमी हो गई। एक बजे से तीन बजे तक मतदान में सिर्फ 3.78 फीसदी ही बढ़ोत्तरी हो सकी। तीन बजे तक केवल 39.15 फीसदी मतदान हो पाया था। शाम को मौसम ठंडा होने के बावजूद भी मतदान ने रफ्तार नही पकड़ी और अंत तक यहां की वोटिंग सिर्फ 46.17 तक ही पहुंच पाई।
मतदान के रुझान को देखें तो यहां के मतदाताओं में सुबह तो मामूली उत्साह दिखाई पड़ा लेकिन दोपहर होते-होते यह उत्साह बिल्कुल ठंडा पड़ गया। बाद में भी लोग मतदान के दिन को छुट्टी का दिन मानकर आराम फरमाते रहे। लोगों ने मतदान में वह दिलचस्पी नहीं दिखाई जो दिखानी चाहिए थी। कम मतदान ने उम्मीदवारों की नींद उड़ा दी है। उम्मीदवारों और राजनीतिक पंडितों को चुनावी आंकलन करना मुश्किल हो रहा है।
इसके विपरीत जिले की सबसे पिछड़ी नगर पंचायत बरबर में 79.24 प्रतिशत मतदान हुआ है जो सर्वाधिक है। यहां मतदाताओं में सुबह से जो उत्साह दिखाई पड़ा वह शाम तक बरकरार रहा। यहां सुबह नौ बजे तक ही 16.29 प्रतिशत मतदान हो चुका था। यहां दोपहर बाद भी वोटरों के जोश में कोई कमी नहीं आई। इसी का नतीजा रहा कि यहां सर्वाधिक 79. 24 प्रतिशत मतदान हुआ।


सभी उम्मीदवार कम मतदान को मान रहे घातक
शहर में कम हुए मतदान को सभी उम्मीदवार अपने लिए नुकसानदेय मान रहे हैं। उम्मीदवारों का कहना है कि उनके वोट ही कम पड़ पाए हैं इससे उनका नुकसान हो सकता है लेकिन जीत का दावा सभी उम्मीदवार कर रहे हैं। मतदाता कम होने के पीछे उम्मीदवार मतदाता सूची में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी भी बताते हैं। उम्मीदवारों का कहना है कि मतदाता सूची में खामियों के चलते तमाम वोटर वोट डालने से वंचित रह गए।


निकाय चुनाव में मतदान की अंतिम स्थिति
निकाय मतदाता पड़े वोट मतदान प्रतिशत
गोला 55403 30568 55.17
पलिया 34803 19355 55.61
मोहम्मदी 37456 22077 58.94
लखीमपुर 139541 64422 46.17
खीरी 25227 14584 57.81
सिंगाही 13168 9583 72.77
ओयल 9070 6066 66.88
धौरहरा 17249 11938 69.21
मैलानी 10499 6590 62.77
बरबर 9662 7656 79.24
..................................................................
योग 352082 192839 54.71
...................................................................

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Lakhimpur Kheri

... तो क्या कमरे के अंदर पकड़ा गया था जुनैद

... तो क्या कमरे के अंदर पकड़ा गया था जुनैद

15 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

VIDEO: जब किसानों के लिए मंडी पहुंची गुलाब देवी, दिए ये आदेश

लखीमपुर खीरी के दौरे पर आईं राज्य मंत्री गुलाब देवी ने मंडी समिति और जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। मंडी समिति के निरीक्षण के दौरान उन्हें क्रय केन्द्र पर गेहूं खरीद बंद मिली, किसान भी नजर नहीं आए।

17 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree