जेल भेजे गए खाद्यान्न घोटाले के आरोपी

Lakhimpur Updated Thu, 03 May 2012 12:00 PM IST
सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया गया था
लखीमपुर खीरी। खाद्यान्न घोटालेे में मंगलवार को शहर के प्रमुख ट्रांसपोर्टर ज्ञान स्वरूप शुक्ला उर्फ ज्ञानू शुक्ला सहित गिरफ्तार किए गए सभी नौ आरोपियों को आज लखनऊ स्थित सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया गया। जहां से सभी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।
ज्ञातव्य है कि वर्ष 2004 में जिले में हुए करीब एक अरब के खाद्यान्न घोटाला मामले की जांच कर रही सीबीआई ने मंगलवार को शहर के प्रमुख ट्रांसपोर्टर एवं जेटीसी कंपनी के पार्टनर ज्ञान स्वरूप शुक्ला, बिचौलिये शिव नरेश सिंह उर्फ राजू, संजय गुप्ता उर्फ चन्नू, ट्रांसपोर्टर राजेश कुमार गुप्ता उर्फ राजन पूड़ी वाला, फाइनेंसर एवं ट्रांसपोर्टर सत्तार खां, गोला के प्रमुख फ्लोर मिल मालिक सत्य प्रकाश अग्रवाल, तत्कालीन गोदाम प्रभारी कैलाश नाथ शर्मा (अब सेवानिवृत्त), गोदाम प्रभारी कृष्णपाल शर्मा (अब बदायूं में) तथा गोदाम प्रभारी जगदीश प्रसाद (अब सीतापुर) को बयान के लिए लखनऊ स्थित सीबीआई दफ्तर पर बुलाने के बाद गिरफ्तार कर लिया था।
सीबीआई के अपर पुलिस अधीक्षक घनश्याम राय ने आज गिरफ्तार सभी नौ आरोपियों को सीबीआई की विशेष अदालत कोर्ट नंबर एक में पेश किया गया। जहां से सभी को 14 दिन की न्यायिक में जेल भेज दिया गया।
0000
रिमांड पर लेने की तैयारी, सुनवाई आज
बुधवार को सीबीआई ने आरोपी सभी नौ अभियुक्तों को न्यायालय में पेश करने के साथ ही उन्हें रिमांड पर लेने की भी अर्जी दाखिल की। अपर पुलिस अधीक्षक घनश्याम राय की ओर से पेश इस अर्जी में आरोपियों से मामले में और पूछताछ करने के लिए यह अर्जी दाखिल की गई है। इस पर न्यायालय ने बृहस्पतिवार को सुनवाई की तिथि सुनिश्चित की है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

18 जनवरी 2018