मजदूरों के हालत सुधरे तभी सुधरेगी देश की दशा

Lakhimpur Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
विभिन्न संगठनों ने मनाया श्रमिक दिवस, आर्थिक, शैक्षिक और सामाजिक उत्थान पर बल
लखीमपुर खीरी। विभिन्न श्रमिक और कर्मचारी संगठनों ने श्रमिक दिवस मनाया। कार्यक्रमों में मजदूरों की दशा पर चर्चा की गई। कहा गया कि मजदूरों के शोषण का सबसे बड़ा कारण उनका असंगठित होना है। मजदूरों के आर्थिक, शैक्षिक और सामाजिक उत्थान पर बल दिया गया।
राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की जिला शाखा ने विलोबी मेमोरियल हाल में श्रमिक दिवस मनाया। मुख्य अतिथि प्रांतीय अध्यक्ष एसपी तिवारी ने कर्मचारी नेता स्व. बीएन सिंह के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर एसपी तिवारी ने ‘कर्मचारी दर्पण’ स्मारिका का विमोचन भी किया। उन्होंने कहा कि मजदूरों के हालात सुधरेंगे तभी देश की दशा सुधरेगी।
कर्मचारी नेता उमाशंकर राय ने श्रमिक दिवस मनाए जाने के बारे में चर्चा की। श्याम किशोर बेचैन और करुणा शंकर मिश्रा ने काव्य पाठ किया। प्रांतीय नेता केएस निगम, हरिशरण मिश्रा, एसपी तिवारी, राजेश पांडे, वीरेंद्र कुमार, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के संरक्षक आरपी त्रिपाठी, घसीटे प्रसाद, अनुराग तिवारी, प्रदीप शुक्ला और केके अवस्थी ने भी संबोधित किया। संचालन केके अवस्थी ने किया।
मनरेगा मजदूर मिस्त्री महासंघ ने नसीरुद्दीन मौजी भवन के प्रांगण में मजदूर दिवस मनाया। इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषि संतोष कुमार शर्मा ने कहा कि आजादी के 64 साल बीत जाने के बाद भी मजदूरों की हालत में कोई बदलाव नहीं आया है। उन्होंने मजदूर कारीगर आयोग का गठन करने की मांग की।
पाल इंटरनेशनल स्कूल में श्रम दिवस मनाया गया। प्रधानाचार्य और वरिष्ठ अध्यापकों ने समाज में श्रमिकों के महत्व के बारे में बताया। प्रधानाचार्या रश्मि जौहर ने विद्यालय में कार्यरत सभी सहायक कर्मचारियों को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उपहार दिए। कार्यक्रम को शिखा टंडन ने भी संबोधित किया।
उत्तर प्रदेश सफाई मजदूर संघ ने सफाई कर्मचारी और उनके मानवाधिकार विषयक सेमिनार का आयोजन किया। नगर पालिका सभागार में हुई इस सेमिनार में प्रांतीय सचिव चंदन लाल वाल्मीकि ने कहा कि देश में सफाई कर्मचारी नियोजन और शुष्क शौचालय सन्निर्माण अधिनियम 1993 तो बनाया लेकिन इस कानून का पालन सच्चाई से नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सफाई मजदूर अपने बच्चों को खूब पढ़ाएं ताकि वह अपने हक की लड़ाई लड़ सकें। सभा को अशोक वाल्मीकि, श्याम किशोर बेचैन, देश राज वाल्मीकि, हरि प्रसाद, राजन, अर्जुन लाल, राम आसरे और रजनीश ने भी विचार रखे।
पलियाकलां। विद्यालयों में श्रमिक दिवस धूमधाम से मनाया गया। कुछ स्थानों पर सभाकर श्रमिकों की दशा पर लोगों ने विचार व्यक्त किए तो कुछ जगह श्रमिकों को उपहार देकर सम्मानित किया गया।
सेंटऐन स्कूल में प्रधानाचार्य फादर अगस्टिन ने कहा कि देश के श्रमिकों के बिना हम एक उन्नत देश की कल्पना नहीं कर सकते। वे अपना पेट पालने के साथ देश का विकास भी करते हैं, उन्होंने विद्यालय के रिक्शा चलाने वालों सहित अन्य श्रम करने वाले श्रमिकों को इस मौके पर उपहार भी दिए। विद्यालय की शिक्षिका ज्योति श्रीवास्तव ने श्रमिक दिवस का इतिहास बताया। विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने इस अवसर पर कई गीत गाए।
गोल्डन फ्लावर स्कूल में चतुर्थश्रेणी कर्मचारियों को पुरस्कृत कर मजदूरों की दशा पर प्रकाश डाला गया। छात्रा सलोनी अग्रवाल, मानसी खुलवे और गुत्तास रिवाना ने भारतीय मजदूरों की बदतर हालात पर विचार व्यक्त किए। विद्यालय की फाउंडर मलकीत कौर, चेयरमैन जसमेल सिंह मांगट और प्रधानाचार्य दीपकुमार शर्मा ने इस अवसर पर कर्मचारियों को स्मृति चिह्न दिए। छात्र-छात्राओं को कई सदनों में बांटकर कई प्रतियोगिताएं कराई गईं। जिसमें रोज हाउस सर्वाधिक अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान पर रहा। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक आशीष ने किया।
गोला गोकर्णनाथ। श्रमिक दिवस के अवसर पर ग्रीनलीफ संस्था के पदाधिकारियों ने श्रमिकों को फल वितरित किए।
संस्था के पदाधिकारियों ने सदर चौराहे पर दिहाड़ी की तलाश में खड़े श्रमिकों को फल वितरित कर उनके अधिकारों के बारे में जानकारी दी।
इस मौके पर अध्यक्ष शहनवाज खान, गौरव ज्ञान त्रिपाठी, नवनीत वर्मा, सुभाष गुप्ता, मुनेंद्र श्रीवास्तव, संजय कुमार सक्सेना, मोहित, राहुल राजपूत आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाले में लालू की नई मुसीबत, चाईबासा कोषागार मामले में आज आएगा फैसला

चारा घोटाला मामले में रांची की स्पेशल सीबीआई कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी। स्पेशल कोर्ट जज एस एस प्रसाद इस मामले में फैसला देंगे।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में ‘एनकाउंटर अभियान’ के तहत एक लाख का इनामी ढेर

यूपी एसटीएफ ने एक कार्रवाई के तहत इनामी बदमाश बग्गा सिंह को ढेर किया। जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने कार्रवाई लखीमपुर-खीरी के पास नेपाल बॉर्डर पर की है। बात दें कि बग्गा सिंह कई मामलों में वांछित था और इसके सिर पर एक लाख रुपये का इनाम था।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper