दुर्गाष्टमी पर मंदिरों, घरों और पंडालों में हुई पूजा-अर्चना

Gorakhpur Bureauगोरखपुर ब्यूरो Updated Sat, 24 Oct 2020 10:27 PM IST
विज्ञापन
पडरौना नगर में सजी माता के प्रतिमा की आरती करते श्रद्घालु ।
पडरौना नगर में सजी माता के प्रतिमा की आरती करते श्रद्घालु । - फोटो : KUSHINAGAR

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
दुर्गाष्टमी पर मंदिरों, घरों और पंडालों में हुई पूजा-अर्चना
विज्ञापन

सभी संवदेनशील स्थानों पर पुलिस और पीएसी तैनात
कोविड प्रोटोकॉल के तहत त्योहार मनाने की प्रशासन ने की अपील
संवाद न्यूज एजेंसी
पडरौना। इस शारदीय नवरात्र में दुर्गा अष्टमी के अवसर पर घर से लगायत मंदिरों और पंडालों में मां दुर्गा की विधि-विधान से पूजा-अर्चना की गई। श्रद्धालुओं ने मां दुर्गा से परिवार की सुख-समृद्धि तथा बीमारियों से बचाए रखने के लिए की प्रार्थना की। कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए जगह-जगह पुलिस के जवान तैनात रहे। हालांकि, अन्य वर्षों की भांति इस शारदीय नवरात्र में रौनक कम रही है।
कोरोना महामारी के चलते इस वर्ष शासन-प्रशासन ने भीड़ वाले मसलन, मेला, जुलूस, भगवती जागरण सरीखे आयोजनों पर प्रतिबंध लगा रखा है। दुर्गा पंडाल भी इसी शर्त पर सजाए जाने की इजाजत मिली है कि कहीं भी चौक-चौराहों अथवा भीड़ वाले स्थानों पर आयोजन न करें। इसके लिए संबंधित तहसील के एसडीएम से इजाजत मिलने के बाद ही दुर्गा पंडाल सजाना है। इसके अलावा वहां कोविड प्रोटोकॉल के तहत सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का उपयोग तथा अन्य नियमों का पालन करना है। मूर्तियां भी आकार में छोटी होंगी तथा किसी भी तरह का शोर-गुल या भीड़ नहीं जुटानी है।
ऐसे में एक तो मूर्तिकारों ने मूर्तियां कम बनाई हैं, दूसरे अधिकतर आयोजन समितियों की तरफ से इस साल पंडालों में केवल कलश स्थापना कराकर पूजा की जा रही है। पडरौना शहर के छावनी स्थित महादेव मंदिर, पूर्वांचल बैंक के निकट, सुभाष चौक पर मशीनरी मार्केट और आलू मंडी सहित कुछ सीमित स्थानों पर ही दुर्गा पंडाल सजाए गए हैं। वहां दुर्गा पूजा समितियों के लोग कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने में जुटे हैं। जगह-जगह पुलिस और होमगार्ड के जवान भी तैनात किए गए हैं।
इसी तरह पडरौना के दुर्गा मंदिर, अंबे मंदिर, लखरांव मंदिर, खिरकिया माता मंदिर, कुबेरस्थान क्षेत्र के खह्नवार मंदिर व जल्पा देवी मंदिर सहित अन्य देवी मंदिरों में भी लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पूजा-अर्चना करने में लगे हैं। घरों में भी श्रद्धालुओं ने कलश स्थापित कर मां दुर्गा की पूजा की। अनेक स्थानों पर शुक्रवार की रात में नेत्र दर्शन हुए, जिसके बाद पंडाल मां दुर्गा के जयकारे से गूंज उठे। आरती में भी श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया और पूजा-अर्चना की।
एसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि दुर्गा पूजा एवं दशहरा को सकुशल संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद है। कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराया जा रहा है। कहीं भी दशहरा मेले का आयोजन नहीं होगा। प्रत्येक थाना क्षेत्र में वहां की पुलिस दुर्गा पूजा सकुशल संपन्न कराने में जुटी है। पुलिस के जवानों के अलावा दो कंपनी पीएसी भी बुलाई गई है, जिन्हें आवश्यकता के अनुरूप तैनात कर दिया गया है। उन्होंने जनपद के लोगों से त्योहार शांतिपूर्ण तरीके से मनाने की अपील की है। डीएम भूपेंद्र एस चौधरी ने भी जनपद को लोगों को दुर्गा पूजा एवं दशहरा की शुभकामनाएं दीं तथा त्योहार आपसी भाईचारे के साथ कोविड प्रोटोकॉल का पालन करतेे हुए मनाने की अपील की है।
फोटो है
स्वयं सेवकों ने किया शस्त्र पूजन, योगासन
महर्षि अरविंद विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजन
संवाद न्यूज एजेंसी
कसया। महर्षि अरविंद विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कसया के परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की तरफ से विजया दशमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। नगर के सभी 11 शाखाओं के स्वयंसेवकों ने शस्त्र पूजन किए।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गोरक्ष प्रांत के सह प्रांत संघ चालक विष्णु गोयल ने कहा कि विजया दशमी के दिन ही 1925 में संघ की स्थापना हुई थी। संघ के कार्यों का विरोध हुआ, प्रतिबंध भी लगे, स्वयंसेवकों को यातनाएं भी दी गईं, लेकिन, जितना विरोध हुआ संघ उतना ही मजबूत होकर आगे बढ़ता गया। वर्तमान समय में संघ विश्व का सबसे बड़ा स्वयं सेवी संगठन है। 90 हजार शाखाएं, मिलन व मंडली हैं। एक लाख 53 हजार सेवा कार्य चल रहे हैं। इस कार्यक्रम के दौरान स्वयंसेवकों को योगाभ्यास भी किया। अध्यक्षता सह जिला संघ चालक डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने की। इस दौरान रामजी सिंह, मुख्य शिक्षक निहाल, प्रांजल तिवारी, अमृत वचन, आदित्य सिंह, सुरेश प्रसाद गुप्त, प्रदीप सिंह, प्रधानाचार्य चंद्रिका शर्मा, डॉ. अक्षयवर पांडेय, जनार्दन, राजेश वर्मा, विहिप नगर अध्यक्ष ओमप्रकाश जायसवाल, मृत्युंजय, मदन अग्रहरी, दिव्यांशु, प्रदीप शर्मा, जगदीश सिंह, ऋषभ राव, पयोदकांत, आलोक, घनश्याम, सूर्यप्रकाश आदि मौजूद रहे।
आज पडरौना में नहीं लगेगा दशहरा मेला
पडरौना। दशहरा मेला एवं रावण पुतला दहन इस बार पडरौना के रामलीला मैदान में नहीं होगा। कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए इस साल यह कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है। इसकी जानकारी पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री आरपीएन सिंह की तरफ से कांग्रेस के जिला मीडिया प्रभारी समशेर मल्ल ने दी। उन्होंने बताया कि पडरौना राज परिवार ने प्रशासन से दशहरा मेला के लिए अनुमति मांगी थी, लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुए प्रशासन की तरफ से अनुमति नहीं मिली। हालांकि, इस परंपरा को बनाए रखने के लिए राज परिवार ने दरबार परिसर में रावण के छोटे पुतले का दहन करने का निर्णय लिया है, जिसमें सिर्फ राज परिवार से जुड़े लोग शामिल होंगे। (संवाद)
फोटो है।
पुलिस प्रशासन ने पडरौना में किया मार्च
पडरौना। दशहरा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए एएसपी के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस ने पडरौना शहर में पैदल मार्च किया। लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और त्योहार शांतिपूर्ण तरीके से मनाने की अपील की। एएसपी अयोध्या प्रसाद सिंह के नेतृत्व में कोतवाल अनुज कुमार सिंह और कोतवाली के सभी पुलिसकर्मी पैदल मार्च किए। कोतवाली गेट से सुभाष चौक, रामकोला रोड, धर्मशाला रोड, मेन बाजार रोड, जटहां बाजार सहित सभी प्रमुख मार्गों पर मार्च किया। लोगों से कहा कि कोरोना महामारी के संकट को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का अनिवार्य रूप से पालन करें। मास्क का उपयोग करें तथा कहीं भी भीड़ न लगाएं। एएसपी ने कहा कि त्योहार में खलल किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अशांति उत्पन्न करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। संवाद
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X