दो लाख बच्चों ने पी पोलियो की खुराक

Kushinagar Updated Tue, 21 Jan 2014 05:46 AM IST
पडरौना। नगर के पुरुष एवं नेत्र चिकित्सालय में रविवार की सुबह पल्सपोलियो अभियान की शुरुआत की गई। सबसे पहले सीएमओ डॉ. हरगोविंद वर्मा ने पोलियोरोधी वैक्सीन पिलाई। इसके बाद वे नगर से सटे सोहरौना के प्राथमिक विद्यालय पर बने पोलियो बूथ पर भी गए।
इस बार के पल्सपोलियो अभियान में पांच वर्ष तक के 4,48,003 बच्चों को पोलियोरोधी खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। अभियान के पहले दिन बच्चों को पोलियोरोधी वैक्सीन पिलाने के लिए जिले भर में 1613 बूथ बनाए गए थे, जहां 1079 टीमें लगाई गईं। इन टीमों में 6048 कर्मचारी शामिल थे। इस अभियान की निगरानी के लिए 322 पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं। रविवार की शाम तक दो लाख बच्चों को पोलियोरोधी खुराक पिलाई गई थी।
इससे पहले अभियान की शुरुआत सीएमओ डॉ. हरगोविंद वर्मा ने की। वे सुबह पडरौना के पुरुष एवं नेत्र चिकित्सालय पहुंचे। वहां बने पोलियो बूथों पर उन्होंने बच्चों को पोलियोरोधी खुराक पिलाई। इसके बाद वे सोहरौना के पोलियो बूथ पर भी गए। एसीएमओ डॉ. लालता प्रसाद ने इस अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. एसएन पांडेय, प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. वीपी सिंह, डॉ. एसके गुप्ता, मुहम्मद यूनुस, वीके दीक्षित, काशीनाथ शर्मा, मनीष शुक्ला, विजय तिवारी, डॉ. एसके श्रीवास्तव, इंदु द्विवेदी सहित कई लोग मौजूद थे।
न शिक्षक मौजूद थे, न मध्याह्न भोजन बना
कुशीनगर। पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाने के लिए जिले के उन विद्यालयाें को खोलने का आदेश था, जिन्हें बूथ बनाया गया था। इन विद्यालयों में एमडीएम भी बनाने के लिए निर्देश था। बावजूद इसके कई प्राथमिक विद्यालयों में इस निर्देश की अनदेखी की गई। कई जगह तो जिम्मेदार ही मौजूद नहीं थे। कई जगह एमडीएम नहीं बनवाया गया।
तमकुही विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय खुदरा अहिरौली को पल्स पोलियो अभियान के लिए बूथ बनाया गया था। यहां रविवार को दिन के 11:05 बजे आशा और आंगनबाड़ी वर्कर बच्चों को बांटने के लिए पंजीरी तो रखी थीं, लेकिन वहां पर बच्चे मौजूद नहीं थे। विद्यालय में मध्याह्न भोजन बनवाने की बात दूर, न हेड मास्टर थे, ना ही शिक्षा मित्र। इसी विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय राजापाकड़ में दिन के 11:15 बजे एएनएम, आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता की ओर से बच्चों को पोलियो रोधी दवा की खुराक पिलाई जा रही थी। विद्यालय में शिक्षामित्र राकेश कुमार श्रीवास्तव उपस्थित थे, लेकिन यहां पर किचेन शेड में ताला लटका मिला। हेड मास्टर नहीं थे।
विकास खंड दुदही के प्राथमिक विद्यालय विजयपुर दक्षिण पट्टी में 11:35 बजे किचेन शेड में ताला लटका हुआ मिला। शिक्षा मित्र और हेड मास्टर मौजूद नहीं थे। पोलियो बूथ पर आंगनबाडी और आशा वर्कर स्वेटर बुनती दिखीं। खुराक पीने वाले बच्चोें का पता नहीं था। इसी विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय सरिसवॉं में 11:55 बजे क्रिकेट खेल रहे युवाओं ने बताया कि यहां पर दवा की खुराक पीने के लिए काफी संख्या में बच्चे तो आए थे, लेकिन इस बूथ पर किसी जिम्मेदार के न होने पर वे बैरंग लौट गए।
इस संबंध में बीएसए प्रदीप कुमार पांडेय ने बताया कि जिले में बूथ बनने वाले स्कूलों के शिक्षकों को यह आदेश दिया गया था कि वे अपने विद्यालय में उपस्थित रहें और मध्याह्न भोजन भी बनवाएं, जिससे अधिक-से अधिक बच्चे पोलियोरोधी दवा की खुराक पी सकें। इसमें लापरवाही बरतने वाले जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
पल्स पोलियो बनाए गए केंद्र पर बनना था एमडीएम
हाटा। पल्स पोलियो के अभियान के दौरान केंद्र बनाए गए परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों को इस दौरान न केवल अपने विद्यालय पर पहुंचना था, बल्कि इस दौरान बच्चों के लिए एमडीएम भी बनाया जाने का निर्देश जारी हुआ था, लेकिन रविवार कई विद्यालयों में न तो अध्यापक पहुंचे और न ही एमडीएम ही बना।
मोतीचक ब्लॉक के गांव बेलवा सुदामा के प्राथमिक विद्यालय पर पल्स पोलियो का केंद्र बनाया गया था। यहां पर आंगनबाड़ी वर्कर कमलावती देवी, कालिंदी देवी और आशा उर्मिला देवी बच्चों को ड्राप पिला रही थीं। इन लोगों ने शिक्षक के बारे में बताया कि सुबह से कोई नहीं आया था। एमडीएम के बारे में लोगों ने बताया कि जब अध्यापक ही नहीं आए तो एमडीएम कहां से बनेगा।
इसी तरह प्राथमिक विद्यालय बरवा हरपुर में भी देखने को मिला यहां पर हरपुर केंद्र की एएनएम बच्चों को पोलियो ड्राप पिला रही थी। उन्होंने बताया कि शिक्षक आए थे और चले गए। एमडीएम नहीं बना था। प्राथामिक विद्यालय अजिजनगर में आशा वर्कर माधुरी देवी मौजूद थीं। इन्होंने बताया कि विद्यालय के अध्यापक तो आए नहीं थे। एमडीएम भी नहीं बना था।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper