बाबू गेंदा सिंह को दी श्रद्धांजलि

Kushinagar Updated Fri, 16 Nov 2012 12:00 PM IST
सेवरही। बाबू गेंदा सिंह किसानों और गरीबों के सच्चे हितैषी थे। उनका पूरा जीवन समाज के प्रति समर्पित रहा है। सेवरही जैसे अति पिछडे़ क्षेत्र के किसानों की तरक्की और खुशहाली की देन बाबू गेंदा सिंह ही हैं। वे हमारे लिए हमेशा ही प्रासंगिक रहेंगे। ये बातें एमएलसी रामसुंदर दास निषाद ने कहीं।
बृहस्पतिवार को सेवरही में आयोजित बाबू गेंदा सिंह की पुण्यतिथि और श्रद्धांजलि समारोह में रामसुंदर दास ने कहा कि क्षेत्र में विश्व स्तर के गन्ना शोध संस्थान, बकरी फार्म, रेशम फार्म, मसाला फार्म और सब्जी अनुसंधान केंद्र सब बाबू गेंदा सिंह की ही देन है। उन्होंने कहा कि किसानों की लाइफ लाइन कही जाने वाली नहर प्रणाली भी उन्हीं की देन है। पूर्व विधायक विश्वनाथ सिंह ने कहा कि गेंदा सिंह को देश और प्रदेश के लोग गन्ना सिंह के नाम से पुकारते थे। बाबू गेंदा सिंह हमेशा ही अनुकरणीय रहेंगे। पूर्व विधायक डा. पीके राय ने कहा कि वर्तमान परिवेश में लोगों को बाबूजी के बताये रास्ते पर चलकर ही समाज की दशा और दिशा बदलने की कोशिश करनी चाहिये। सभा को ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि उदय गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष जयंत कुमार सिंह, पूर्व चेयरमैन त्रिभुवन प्रसाद जायसवाल, आनंद प्रकाश राय, सुरेंद्र राय ने भी संबोधित किया। इस दौरान जुनेद आलम, इस्लाम अंसारी, समशुल हक, हरिलाल यादव, राजेश यादव आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता रामनगीना यादव प्रधान और संचालन अवधेश राय ने किया।
इनसेट
बभनौली में बांटी गई साड़ी
सेवरही। पूर्व मंत्री बाबू गेंदा सिंह की पुण्यतिथि पर बृहस्पतिवार को बभनौली गांव में कार्यक्रम का आयोजन कर श्रद्धांजलि दी गयी। कांग्रेसी नेता संजय कुमार राय ने गरीब महिलाओं में साड़ी वितरित की। इस दौरान वयोवृद्ध कांग्रेसी नेता सिराज अहमद ने कहा कि बाबू गेंदा सिंह गरीबों और किसानों की खातिर लड़ते रहते थे। किसानों के चेहरे पर मुस्कान कैसे आये, यह उनकी कोशिश रहती थी। आयोजक संजय कुमार राय ने कहा कि बाबू गेंदा सिंह का अनुसरण करके ही समाज का विकास किया जा सकता है। नौजवानों को बाबू गेंदा सिंह के व्यक्तित्व से सीख लेने की जरूरत है। इस अवसर पर प्रधान प्रतिनिधि हामिद अंसारी, मुर्तुजा अली, उपेंद्र राय आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Rohtak

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

19 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper