दीपक का शव पहुंचते ही मचा कोहराम

Kushinagar Updated Fri, 19 Oct 2012 12:00 PM IST
पडरौना (कुशीनगर)। सपा जिलाध्यक्ष रामअवध यादव के बड़े बेटे दीपक यादव का शव बृहस्पतिवार की सुबह छह बजे के करीब उनके गांव सिसवा मठिया पहुंचा। गांव में शव पहुंचते ही कोहराम मच गया। पारिवारिक सदस्यों के चीत्कार से वहां मौजूद भारी भीड़ की आंखें नम हो जा रही थीं। बमुश्किल आधा घंटा दरवाजे पर दीपक का शव दर्शन के लिए रखने के बाद उसके अंतिम संस्कार के लिए शव को गांव के पास नहर किनारे ले जाया गया। रामअवध ने अपने बेटे की चिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।
जवान बेटे की मौत किसी बाप को किस हद तक तोड़ सकती है, यह बृहस्पतिवार को सपा जिलाध्यक्ष को देखकर समझा जा सकता था। एक हुंकार से कार्यकर्ताओं में जोश भरने का दम रखने वाला यह राजनैतिक योद्धा बेटे की चिता के पास संसार का सबसे असहाय लग रहा था। लेकिन व्यवहार कुशल रामअवध का गम साझा करने की सच्ची कोशिश में अनगिनत हाथ उनको संभालने को तत्पर दिख रहे थे। बृहस्पतिवार की सुबह जब बेटे का शव लेकर रामअवध रविन्द्रनगर धूस पहुंचे तो सैकड़ों की संख्या में लोग वहां मौजूद रहे, जबकि उनके आने से पहले सिसवा मठिया में हुजूम उमड़ पड़ा था। तीसरी पीढ़ी दीपक की लाश को दरवाजे पर उतरती देख रामअवध के बुजुर्ग पिता बंका यादव ने उसे बांहों में भर लिया और अचेत हो गये। दोनों बेटों ने रामअवध को संभाला लेकिन वे भी अचेत हो गये। जलती चिता की ओर टकटकी लगाये रामअवध यही बुदबुदा रहे थे कि सोनू शाकाहारी था ओर दोनों टाइम मंदिर जाता था। क्या पाप हो गया कि उसे ऐसा दंड मिला? इस दौरान एक कारुणिक मंजर यह रहा कि रामअवध के वृद्ध पिता और जवान बेटे उन्हें हौसला देने की नाकाम कोशिश कर रहे थे। वहीं दीपक को जन्म देने वाली मां इंद्रावती देवी की हालत खराब थी। घर में सभी लोग चीत्कार कर रहे थे। संभवत: उन्हें लाश आने तक नहीं बताया गया था कि उनके दीपक की लौ बुझ गयी है। सपा जिलाध्यक्ष को ढाढस बंधाने के लिए पूर्व सांसद बालेश्वर यादव, कबीना मंत्री ब्रह्मशंकर त्रिपाठी, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष प्रदीप जायसवाल, खड्डा विधायक विजय दूबे, हाटा विधायक राधेश्याम सिंह, राजेश जायसवाल सहित तमाम अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। वहीं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, केन्द्रीय राज्यमंत्री आरपीएन सिंह ने दूरभाष पर रामअवध यादव को ढाढस बंधाया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper