प्रशासनिक सूझबूझ से हालात काबू मेंआए

Kushinagar Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
तमकुहीरोड। बृहस्पतिवार की शाम अराजक स्थिति के हवाले हुए सेवरही कस्बे के माहौल पर प्रशासनिक तंत्र ने तेजी से काबू पा लिया। ऐसा प्रशासनिक सूझबूझ के चलते हुआ।
जिस समय गुस्साई भीड़ पथराव कर रही थी, उस समय बिजली कटी थी। पूरा अंधेरा था और पुलिस वालों को भी अपनी सुरक्षा में कदम पीछे खींचने पड़ रहे थे। लेकिन इसी बीच प्रशासन ने बिजली आपूर्ति करा दी और पुलिस बल ने लाठियां भांजते हुए भीड़ को इधर-उधर कर दिया। पुलिस के लोग ही कह रहे हैं कि अगर समय से बिजली नहीं आती तो स्थिति नियंत्रित करने में मशक्कत करनी पड़ सकती थी।
इनसेट
लोगों का भी प्रशासन को मिला साथ
क्षेत्रीय विधायक अजय कुमार लल्लू, पूर्व विधायक डा. पीके राय, नगर पंचायत अध्यक्ष श्यामसुंदर विश्वकर्मा, व्यापार मंडल के अमरनाथ गुप्ता, धामबाबू वर्मा, दवा विक्रेता संघ के अध्यक्ष अर्जुन प्रसाद गुप्ता, सभासद संतोष वर्मा, लव जायसवाल, सुनील सिंह, जितेंद्र मोहन श्रीवास्तव, मनोज जायसवाल, चंद्रेश्वर वर्मा, प्रेमशंकर सिंह आदि ने कस्बे में शांति मार्च निकाला और सभी से आपसी सौहार्द कायम रखने की अपील की।
इनसेट
कस्बे में रहा बंदी जैसा माहौल
सेवरही कस्बे में शुक्रवार को बंदी जैसा माहौल दिखा। जबकि दुकान बंद रखने के लिए प्रशासन की ओर से कोई भी फरमान जारी नहीं किया गया था। लेकिन तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए अधिकतर दुकानें व स्कूल आदि बंद रहे।
इनसेट
सेवरही में कभी नहीं हुआ था तनाव
सेवरही में शायद पहले कभी भी इतना तनावपूर्ण माहौल नहीं हुआ था। लोग अलग-अलग झुंड में एकत्र होकर घटना की तीखी निंदा कर रहे हैं। कस्बे के लोगों का कहना है कि सेवरही के इतिहास में यह पहली घटना है, जिसमें स्थिति इतनी तनावपूर्ण हो गई।
इनसेट
सपाइयों ने भी निकाला शांति मार्च
पूर्व विधायक डा. पीके राय के नेतृत्व में सपाइयों ने भी शांति मार्च निकाला। शांति मार्च में शामिल पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष त्रिभुवन प्रसाद जायसवाल, सुरेंद्र राय, उदय नारायण गुप्ता, अवधेश राय, सुरेश यादव, राकेश यादव आदि ने लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की।



सेवरही की घटना के विरोध में सड़क जाम
हियुवा कार्यकर्ताओं ने आरोपियों पर रासुका लगाने की मांग की
अमर उजाला नेटवर्क
तमकुहीरोड। सेवरही कस्बे में बृहस्पतिवार की शाम हुई घटना से हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता नाराज हैं। शुक्रवार को वाहिनी के जिला प्रभारी अजय गोविंद राव शिशु के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में एडीएम एसएन शुक्ला को तीन सूत्री ज्ञापन सौंपकर आरोपियों पर रासुका लगाने और पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की।
शुक्रवार को सेवरही पहुंचे हियुवा व विश्व हिंदू महासंघ के कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए स्टेशन चौक पर जाम लगाकर धरना दिया। कार्यकर्ता आरोपियों पर रासुका लगाने की मांग कर रहे थे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने दुकानें भी बंद कराईं। सूचना मिलते ही कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर एसडीएम ईश्वर चंद्र बर्नवाल पहुंच गए और प्रदर्शनकारियों को फोर्स ने घेरे में ले लिया। बाद में कार्यकर्ताओं की मांग पर प्रशासनिक अधिकारियों ने उनकी पीड़ित परिवार से मुलाकात कराई। ज्ञापन लेने के बाद एडीएम के आश्वासन पर धरना-प्रदर्शन समाप्त हुआ। इस दौरान हियुवा जिलाध्यक्ष संजय सिंह मुन्ना, प्रेमप्रकाश तिवारी, बच्चा वर्मा, रमेश व्याहुत, पप्पू पांडेय आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper