टूटती जा रही सुगम यात्रा की उम्मीद

Kushinagar Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
पडरौना। कप्तानगंज-थावे रेलमार्ग का आमान परिवर्तन हो गया। लंबी दूरी की दो ट्रेनों के लिए समय सारिणी भी मिल गई लेकिन ट्रेनों का अता-पता नहीं है। बड़ी रेल लाइन बनने के बाद लोगों की सुगम यात्रा की उम्मीद रेलवे के पेच में फिर टूटती नजर आ रही है।
लंबी प्रतीक्षा के बाद जब कप्तानगंज-थावे रेल मार्ग का आमान परिवर्तन होने के बाद 16 दिसंबर 2011 को उद्घाटन किया गया तो जनपद के लोगों की खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा। रेलवे लाइन बनने के बाद दूर-दराज के लोग स्टेशन को देखने के लिए आने लगे। इन लोगों को उम्मीद थी कि बड़ी लाइन बनने के बाद उनकी सुगम यात्रा का मार्ग प्रशस्त होगा। केंद्रीय पेट्रोलियम राज्य मंत्री आरपीएन सिंह का गृह जनपद होने के नाते लोगों में उम्मीद भी जगी कि इस रेल मार्ग पर लंबी दूरी की ट्रेनें भी मिल जाएंगी। उद्घाटन करने आए रेल राज्य मंत्री मुनियप्पा ने भी ट्रेनों की संख्या बढ़ाए जाने का आश्वासन दिया लेकिन उम्मीद बहुत दिनों तक कायम नहीं रह सकी। कारण यह कि रेलवे की मनमानी लोगों की सुगम यात्रा की सोच पर भारी पड़ रही है। रेलवे ने तात्कालिक तौर पर कुछ पैसेंजर ट्रेन चलाई। उसका भी बहुत लाभ लोग नहीं उठा पा रहे हैं। यही नहीं एक लंबी दूरी तथा एक और पैसेंजर ट्रेन के दो फेरों की समय सारिणी रेलवे स्टेशन पर तीन माह से लटकी हुई देखी जा सकती है लेकिन इन ट्रेनों का कहीं अता-पता नहीं है। तीन माह पूर्व घोषित हो चुकी समय सारिणी की ट्रेनें कब से चलेंगी यह भी रेलवे का कोई अधिकारी बताने को तैयार नहीं है।
समय सारिणी की इन ट्रेनों के संबंध में पूछने पर पडरौना के स्टेशन मास्टर एबी सिंह बताते हैं कि समय सारिणी की जानकारी तो है लेकिन ट्रेनों के संबंध में कोई भी जानकारी उनके पास नहीं है। जब ट्रेन चलनी होती है तो दो दिन पूर्व उन लोगों को सूचना मिल जाती है। ट्रेन कब चलेगी या क्यों नहीं चल रही है? इसकी जानकारी डीआरएम कार्यालय ही दे सकता है।
प्रस्तावित ट्रेन जिनकी समय सारिणी घोषित
15114 अप छपरा- लखनऊ एक्सप्रेस ट्रेन
15113 डाउन लखनऊ-छपरा एक्सप्रेस ट्रेन
55075 अप सीवान- गोरखपुर पैसेंजर
55076 डाउन गोरखपुर-सीवान पैसेंजर
इनसेट
रेलवे बोर्ड की फाइलों में अटकी ट्रेनें जो कप्तानगंज-थावे मार्ग से होकर गुजरनी थी
आसनसोल एक्सप्रेस हफ्ते में तीन दिन
बरौनी-ग्वालियर एक्सप्रेस डेली
कोट
जिन ट्रेनों की समय सारिणी मिल गई है, वे बहुत जल्द शुरू हो जाएंगी। गोरखपुर प्लेटफार्म पर ट्रैक सेटिंग का काम चल रहा है। इस वजह से ट्रेन नहीं चल पा रही हैं। केंद्रीय राज्य मंत्री आरपीएन सिंह लोगों की सुविधा के लिए रेलवे बोर्ड पर दबाव बनाकर अधिकाधिक संख्या में ट्रेनों को चलवाने का प्रयास कर रहे हैं। दो एक्सप्रेस ट्रेनों का रूट परिवर्तन कर कप्तानगंज-थावे मार्ग पर ले जाने का प्रयास चल रहा है।
शमशेर मल्ल, जिला मीडिया प्रभारी कांग्रेस
कोट
भारत सरकार के राज्यमंत्री आरपीएन सिंह के गृह क्षेत्र में तीन माह से ट्रेनों की समय सारिणी लगाकर रेलवे ट्रेन नहीं चला रहा है। ट्रेनों का ठहराव घोषित हो गया लेकिन अता-पता नहीं है। कांग्रेसी हमेशा ही लोगों को घोषणाओं का झुनझुना थमाते रहे हैं। इस बार कुशीनगर संसदीय क्षेत्र के लोगों के साथ भी ऐसा किया जा रहा है। आमान परिवर्तन के बाद एक भी ढंग की ट्रेन न दिया जाना जनता को गुमराह करना है
अतुल मिश्रा, जिला मीडिया प्रभारी, बसपा

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper