विघ्न विनाशक की प्रतिमा विसर्जन में विघ्न

Kushinagar Updated Sun, 23 Sep 2012 12:00 PM IST
भुजौली बाजार/नेबुआ नौरंगिया। खड्डा थाने के भुजौली बाजार में गणेश प्रतिमा के विसर्जन को लेकर शनिवार को प्रशासन और ग्रामीण आमने-सामने हो गए। हालांकि एक बार प्रशासन और ग्रामीणों के बीच सहमति बन गई थी, लेकिन बात फिर बिगड़ गई। आखिर में प्रशासन ने बल प्रयोग करते हुए मूर्ति कब्जे में ले लिया और कड़े सुरक्षा इंतजाम के बीच इसे नारायणी नदी में विसर्जित करवा दिया।
भुजौली बाजार निवासी रामसरन जायसवाल के घर इस साल गणेश चतुर्थी के अवसर पर गणेश पूजा सेवा समिति ने भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित कराई थी। शनिवार की सुबह गांव के पोखरे में इस प्रतिमा का विसर्जन होना था, परंतु सुबह सात बजे गांव पहुंचे पुलिस वालों ने विवादित पोखरे में मूर्ति विसर्जन रोक दिया। हालांकि ग्रामीणों का कहना था कि चूंकि सभी मूर्तियां इसी पोखरे में विसर्जित होती रही हैं, इसलिए इस प्रतिमा का विसर्जन भी वहीं होगा। इसको लेकर माहौल गरमा गया। जानकारी पाकर सीओ खड्डा विनोद यादव, एसडीएम एसएन शुक्ला और चार थानों के एसओ मयफोर्स मौके पर पहुंच गए। प्रशासन ने इसके बाद ग्रामीणों के साथ बैठक कर विवाद हल कराने का प्रयास शुरू किया। दोपहर में सहमति बनी कि मूर्ति के बजाए केवल प्रतीकात्मक कलश विसर्जित कर दिया जाए और दशहरा पर दुर्गा प्रतिमा के साथ इस मूर्ति को भी विसर्जित कर दिया जाएगा। प्रतिमा को तब तक के लिए हनुमान मंदिर में रखवाने की बात हुई। सब कुछ तय हो जाने के बाद प्रशासन ने आयोजक मंडल के पांच लोगों के साथ कलश विसर्जित करवा दिया। पोखरे पर से जब तक लोग लौटकर आए, तब तक बाजार में माहौल फिर बिगड़ गया। मौके पर महिलाएं पहुंच गईं और वे इस जिद पर अड़ गईं कि जब कलश पोखरे में विसर्जित हो गया तो फिर मूर्ति विसर्जन भी वहीं हो, परंतु प्रशासन ने फिर इंकार कर दिया। अफसरों का इशारा पाते ही पुलिस कर्मियों ने आयोजन स्थल पर विराजमान गणेश प्रतिमा को उठवाकर ट्रैक्टर-ट्राली पर लदवा दिया और आयोजकों से कहा गया कि अगर मूर्ति विसर्जन करना ही है तो फिर इसे गंडक नदी तक ले चलें, परंतु महिलाएं नहीं मानीं और ट्रैक्टर के आगे बैठकर धरना देना शुरू कर दिया। करीब तीन बजे पुलिसवालों ने हल्का बल प्रयोग करते हुए भीड़ को हटाया और सिपाहियों ने खुद ही ट्रैक्टरों की स्टेयरिंग संभाली। इसके बाद सुरक्षा इंतजाम के बीच भगवान गणेश की प्रतिमा को देर शाम बड़ी गंडक नदी में ले जाकर विसर्जित कर दिया गया।
अतिरिक्त सतर्कता ही बन गई मुसीबत
भुजौली बाजार/नेबुआ नौरंगिया। भुजौली बाजार में शनिवार की सुबह पुलिसवालों की अतिरिक्त सतर्कता ही विवाद की जड़ बन गई। लोग भी इस बात को लेकर हैरत में थे कि जिनसे विरोध की आशंका हो सकती थी, उन्हें कोई आपत्ति ही नहीं है तो फिर पुलिस वाले इतने परेशान क्यों हैं।
भुजौली इंटर कालेज के पास एक बड़ा पोखरा है। इस पोखरे में हिंदू और मुसलमानों दोनों ही अपने धार्मिक क्रियाकलाप करते हैं। कुछ साल पहले दोनों समुदायों के बीच विवाद हो गया था। लोगों के मुताबिक तब प्रशासनिक हस्तक्षेप के बाद इस बात पर सहमति बनी थी कि पोखरे के पश्चिम घाट की तरफ मुसलमान ताजिया दफन करेंगे, जबकि पूर्वी घाट की ओर मूर्ति विसर्जन होगा। इसी ओर छठ घाट भी बने हैं। तीज समेत हिंदुओं के अन्य त्योहारों पर इसी पूर्वी घाट की ओर से कार्यक्रम होते हैं। दोनों समुदाय इस समझौते का पालन करते हैं। शनिवार को जब लोग इसी पूर्वी घाट की ओर से मूर्ति विसर्जन करने की तैयारी में लगे थे, तभी खड्डा पुलिस पहुंची और मूर्ति विसर्जन रोकवा दिया। पुलिस अफसरों का कहना था कि समझौते में गणेश प्रतिमा का उल्लेख नहीं है। यह प्रतिमा पहली बार बनी है और इसके लिए प्रशासन से कोई अनुमति नहीं ली गई है। प्रतिमा स्थापित करने वालों का कहना था कि उन लोगों ने डीएम से अनुमति मांगी थी, जिस पर उन्होंने एसडीएम को जरूरी कार्रवाई के लिए निर्देशित किया था। एसडीएम ने खड्डा थाने से आख्या मांगी तो पुलिस वाले सीधे मूर्ति विसर्जन रोकवाने पहुंच गए।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी का रिश्वतखोर लेखपाल कैमरे में कैद

ये वीडियो एक लेखपाल का है जो किसान से उसकी एक रिपोर्ट के लिए पांच हजार रुपये की मांग कर रहा है। वीडियो कुशीनगर की खड्डा तहसील का बताया जा रहा है।

7 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper