विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मनचाहा जीवनसाथी  पाने के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

मनचाहा जीवनसाथी पाने के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

योगी सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार आज, एक दर्जन से ज्यादा नए चेहरे लेंगे शपथ

योगी आदित्यनाथ सरकार का बहुप्रतीक्षित पहला मंत्रिमंडल विस्तार बुधवार पूर्वाह्न 11 बजे राजभवन के गांधी सभागार में होगा।

21 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

कुशीनगर

बुधवार, 21 अगस्त 2019

वाल्मीकिनगर बैराज सीमा पर भंसार कार्यालय खुला

वाल्मीकिनगर बैराज सीमा पर भंसार कार्यालय खुला
लाइसेंसी व्यापारी ला-ले जा सकेंगे तय रकम तक का सामान
अमर उजाला ब्यूरो
खड्डा(कुशीनगर)। वाल्मीकिनगर बैराज सीमा पर रविवार को भंसार (कस्टम) कार्यालय का शुभारंभ कर दिया गया। इससे भारत-नेपाल के व्यापारियों को 25 हजार नेपाली और 16 हजार भारतीय रुपये के सामान के व्यापार में सहूलियत मिलेगी। उद्घाटन अवसर पर नेपाल के सांसद सहित दोनों देशों के कई अधिकारी शामिल हुए।
रविवार को इंडो-नेपाल सीमा पर बड़ी गंडक के बैराज सीमा पर नेपाली क्षेत्र के 36 नंबर फाटक पर नेपाली सांसद तिलक महंत व जनक लाल श्रेष्ठ ने छोटी भंसार कार्यालय का शुभारंभ करते हुए कहा कि इससे दोनों देशों के व्यापारियों को लाभ मिलेगा। साथ ही दोनों तरफ के क्षेत्रों का तेजी से विकास होगा।
भारत की तरफ से वाल्मीकिनगर कस्टम अधीक्षक एसके राय व अन्य विभागीय अधिकारियों ने इस कदम को ऐतिहासिक बताया और कहा कि जिन व्यापारियों के पास आयात-निर्यात का लाइसेंस है, वे प्रतिबंधित सामान छोड़कर तय रकम तक का माल ला-जा सकते हैं।
कुशीनगर की सीमा से नजदीक होने के चलते इस भंसार कार्यालय से जनपद के व्यापारियों को काफी सहूलियत मिलेगी। अब महराजगंज जनपद के बार्डर पर निर्भरता कम हो जाएगी। आने वाले समय में भंसार की क्षमता में बढ़ोत्तरी व मालवाहक के आवागमन की उम्मीद बढ़ गई है। उपस्थित व्यापारियों व आम जनता ने कहा कि जैसे-जैसे व्यापारिक क्षमता बढ़ेगी, इन क्षेत्रों का भी तेजी से विकास होने लगेगा।
इस मौके पर नेपाल की तरफ से भूतपूर्व सांसद चंद्रमणि खंडेल, नवल परासी के डीएम विष्णु कुमार, एसपी मोहन पोखरेल, कस्टम अधीक्षक महेशपुर विधु हरि निरोला सहित दोनों देशों के व्यापारी व अन्य लोग मौजूद थे। ... और पढ़ें

यूपी: गूगल मैप के जरिए माता-पिता से मिली लापता बच्ची, पुलिस और चाइल्ड लाइन ने की मदद

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के पडरौना जिले में गूगल मैप के जरिए एक बच्ची अपने माता-पिता के पास सही सलामत वापस पहुंच गई। करीब एक सप्ताह पहले घर से लापता हो गई बच्ची को उसके परिजनों तक वापस पहुंचाने में गूगल मैप सहायक साबित हुआ। शनिवार को जालंधर से बच्ची की मां सीडब्ल्यूसी के दफ्तर पहुंची और उसे अपने साथ लेकर गई।

दरअसल, जिले के पनियहवा रेलवे स्टेशन पर एक सप्ताह पहले जीआरपी को नौ साल की एक बच्ची भटकती हुई मिली थी। जीआरपी के जवानों ने इसकी सूचना चाइल्ड लाइन को दी थी। बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष दीपाली सिन्हा और बाल संरक्षण अधिकारी विनय शर्मा ने बताया कि बालिका को कार्यालय लाकर उससे नाम पता पूछा गया तो उसने केवल अपने गांव का नाम खोट्ठा बताया।

उसके बाद गूगल मैप के जरिए उसके गांव के एक व्यक्ति का नाम मिला, जिसने संबंधित थाने का नंबर उपलब्ध कराया। थाने में बात करने पर पता चला कि वहां पहले से ही बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज थी। थाने के माध्यम से उसके घरवालों को सूचना दी गई, जिसके बाद शनिवार को उसकी मां मालती देवी सीडब्ल्यूसी के दफ्तर पहुंचीं। वहां उन्हें बच्ची को सौंप दिया गया।

संदेह जताया जा रहा है कि इस बच्ची को गांव की ही कोई महिला बहला-फुसला कर बिहार में बेचने के इरादे से ले जा रही थी। हालांकि, पुलिस इसकी जांच कर रही है। 
... और पढ़ें

स्वस्थ पर्यावरण के लिए पौधरोपण जरूरी : प्रभारी डीजे

स्वस्थ पर्यावरण के लिए पौधरोपण जरूरी : प्रभारी डीजे
दीवानी न्यायालय में किया पौधरोपण, पर्यावरण संरक्षण का लिया संकल्प
पडरौना/कसया। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की तरफ से शनिवार को जिला न्यायालय और दीवानी न्यायालय कसया परिसर में पौधरोपण किया गया। इसमें पर्यावरण को बचाने के लिए अधिक से अधिक पौधरोपण के लिए प्रेरित किया गया।
प्रभारी जिला जज लक्ष्मीकांत शुक्ल ने कहा कि पेड़-पौधे धरती की शोभा बढ़ाने के साथ पर्यावरण को स्वच्छ करते हैं। इसलिए हमें अधिक से अधिक पौधरोपण कर पर्यावरण को स्वच्छ रखने में मदद करनी चाहिए। इसके बाद न्यायालय परिसर में विभिन्न प्रजातियों के 150 और कसया कोर्ट परिसर में 100 पौधे लगाए।
इस दौरान विनय कुमार द्विवेदी, अविनाष चंद्र त्रिपाठी, ज्योति कुमार त्रिपाठी, विनय कुमार, विवेका शरण त्रिपाठी, शालिनी सागर, अभिमन्यु सिंह, अमन कुमार श्रीवास्तव, शिभित रॉय, राकेश पांडेय, दुर्गेश्वर दीक्षित, राजकुमार वर्मा, प्रदीप कुमार झा, अमरनाथ यादव, राजन मिश्र आदि न्यायाधीश अधिवक्ता और कर्मचारी मौजूद रहे।
उधर, पौधरोपण अभियान के तहत वन विभाग की ओर से शनिवार को परिसर में पौधरोपण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान न्यायिक अधिकारियों समेत अधिवक्ता मौजूद रहे।
एसीजेएम विमल वर्मा की अगुवाई में दीवानी न्यायालय कसया परिसर में पौधरोपण किया गया। न्यायिक अधिकारियों के साथ मौजूद लोगों ने पौधरोपण व उनके संरक्षण का संकल्प भी लिया। वन विभाग से जुड़े कर्मियों ने कहा कि सरकार की तरफ से पौधरोपण का अभियान चलाया जा रहा है। सबको अपनी सहभागिता निभानी चाहिए। ताकि आने वाले समय में आवश्यक वन क्षेत्र के लक्ष्य को पूरा किया जा सके। इससे पर्यावरण को बचाया जा सकता है, इसलिए हम सबकी जिम्मेदारी है कि पौधरोपण में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें।
इस मौके पर जेएम कृष्णप्रताप सिंह, सिविल जज अनुपम त्रिपाठी, सिविल कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बद्रीनारायण दुबे, मंत्री अरविंद द्विवेदी, आनंद राय, दीनदयाल मल्ल, संजय सिंह, राजेंद्र श्रीवास्तव, दयानंद दुबे, नाजिर मुकुल गौड़, वरिष्ठ लिपिक सुरेश यादव आदि मौजूद रहे। ... और पढ़ें

छेड़खानी के विरोध पर जलाई युवती की मेडिकल कॉलेज में मौत

छेड़खानी के विरोध पर जलाई युवती की मेडिकल कॉलेज में मौत
- तीन आरोपी भेजे गए जेल, तीन की तलाश, 15 अगस्त को हुई थी वारदात
अमर उजाला ब्यूरो
कसया (कुशीनगर)। 15 अगस्त को क्षेत्र के एक गांव में कुछ लोगों ने घर में घुसकर युवती के साथ छेड़खानी की और विरोध करने पर केरोसिन डाल कर उसे जला दिया। मंगलवार को उपचार के दौरान युवती की मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। पुलिस ने मामले में पकडे़ गए तीन आरोपियों को जेल भेज दिया है, जबिक तीन आरोपी अभी फरार हैं। पुलिस ने मामले में जलाकर मारने के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर मुकदमे में धारा बढ़ाई जाएगी।
15 अगस्त को युवती घर में अकेली थी। छोटी बहन बाहर गई थी। आरोप है कि उसी दौरान गांव के लव कुशवाहा, संकट, सुचिता, राजकिशोर, मुन्नी व गरहनिया उसके घर में घुस गए। उन लोगों ने युवती के साथ छेड़खानी की और विरोध करने पर केरोसिन डाल कर जिंदा जलाने का प्रयास किया। बुरी तरह झुलसी युवती को परिजन पहले कसया सीएचसी ले गए। वहां से रेफर किए जाने पर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। मंगलवार को उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। एसओ ज्ञानेंद्र कुमार राय ने बताया कि युवती की मौत की जानकारी मिली है। पूर्व में तहरीर के आधार पर छह लोगों के खिलाफ घर में घुसने, छेड़खानी व मिट्टी का तेल डालकर जलाने के प्रयास का केस दर्ज किया गया था। ... और पढ़ें

सौतेली मां ने बालक को दिया करंट का झटका

सौतेली मां ने बालक को दिया करंट का झटका
खड्डा रेलवे स्टेशन पर मिली एक महिला ने बालक को पुलिस के पास पहुंचाया
चाइल्ड लाइन से संपर्क साधकर पुलिस ने शुरू की जांच
अमर उजाला ब्यूरो
खड्डा/ कुशीनगर। पिता की मौत के बाद संपत्ति हड़पने के लिए महराजगंज में सौतेली मां और चाचा ने दस वर्षीय बालक को करंट का झटका दिया। गुहार के बाद भी किसी ने मदद नहीं की। मजबूर होकर बालक घर से निकल पड़ा। सोमवार शाम खड्डा स्टेशन पर उसकी हालत देख रंजना उसे घर ले गई। मंगलवार सुबह पुलिस से मुलाकात कराई तो पूछताछ में बालक ने अपनी दर्द भरी दास्तां बयां कर दी। पुलिस ने चाइल्ड लाइन से संपर्क साधकर मामले की जांच शुरू कर दी।
महराजगंज निवासी दस वर्षीय बालक सोमवार देर शाम खड्डा रेलवे स्टेशन पर रोते-बिलखते खड्डा की रंजना को मिला। महिला बालक की दशा देखकर घर र्ले आई। मंगलवार सुबह पड़ोस की दुकान पर चाय पीने पहुंचे एसआई राजेश कुमार, एसआई जीतबहादुर यादव को मामले की जानकारी दी। एसआई राजेश कुमार ने बालक से पूछताछ की उसने बताया कि उसकी मां की मौत कई साल पहले हो गई थी। इसके बाद पिता ने दूसरी शादी कर ली। दूसरी मां से तीन बेटी पैदा हुई। चार साल पहले पिता चल बसे। अब संपत्ति की लालच में सौतेली मां ने उस पर ऊपर जुल्म ढा रही है। वह घर से भाग गोरखपुर पहुंचा और एक होटल में काम करने लगा। वहां काम कराने के बाद पैसा दिए बिना उसे भगा दिया गया। वह घर पहुंचा तो सौतेली मां और चाचा ने प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। बालक का आरोप है कि तीन दिन पूर्व सौतेली मां और चाचा ने उसे करंट का झटका दिया और बुरी तरह मारा पीटा। आरोप है कि सौतेली मां-चाचा उसकी हत्या करके उसके हिस्से की संपत्ति को हड़पना चाहते हैं। जब आसपास के लोगों ने मदद नहीं की तो वह सोमवार को घर छोड़कर निकल गया। बालक के आरोपों में सच्चाई क्या है यह तो जांच के बाद पता चलेगा। वहीं जिसने भी उसकी दर्द भरी कहानी सुनी वह आपने आंसू नहीं रोक सका। एसआई राजेश ने बताया कि बालक अपने घर जाने को तैयार नहीं है। उसकी सुरक्षा को देखते हुए चाइल्ड लाइन से संपर्क किया गया है। वैसे अभी बालक पुलिस की सुरक्षा में है। मामले की जांच पड़ताल कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
---------------------------------------------
संपत्ति की लालच में सौतेली मां और चाचा ने बालक को दिया करंट का झटका
- खड्डा रेलवे स्टेशन पर रंजना नामक महिला को मिला बालक
- महिला ने पुलिस से बालक को मिलाया तो पूछताछ में सामने आया प्रकरण
- पुलिस ने चाइल्ड हेल्प लाईन से साधा संपर्क,शुरु की जांच पड़ताल
खड्डा/ कुशीनगर। पिता की मौत के बाद संपत्ति हड़पने की लालच में सौतेली मां और चाचा ने मिल कर महराजगंज के एक दस वर्षीय बालक को करंट का झटका दिया।बालक ने मदद की गुुहार लगाई ,लेकिन कोई आगे नहीं आया। मजबूूर होकरबालक घर से निकल पडा और खड्डा रेलवे स्टेशन पर एक महिला से उसकी मुलाकात हुई। महिला ने बालक की पुलिस से मुलाकात कराई तो पूछताछ में उसकी दर्द भरी कहानी सामने आई। पुलिस ने चाइल्ड हेल्प लाइन से संपर्क साधा है और मामले की जांच पड़ताल शुरु कर दी।
महराजगंज शहर का रहने वाला एक दस वर्षीय बालक सोमवार की देर शाम को खड्डा रेलवे स्टेशन पर रोते - बिलखते हाल में खड्डा की रहने वाली रंजना नामक महिला को मिला। महिला उसकी दशा पर तरस खाकर उसे अपने घर ले गई। मंगलवार को पडोस में दुकान पर चाय पीने पहुंचे एसआई राजेश कुमार , एसआई जीतबहादुर यादव को मामले की जानकारी दी। एसआई राजेश कुमार ने बालक से पूछताछ की उसने बताया कि उसकी मां की मौत कई साल पहले हो गई थी। उसके बाद पिता ने दूसरी शादी कर ली। दूसरी मां से तीन बेटी पैदा हुई। करीब चार साल पहले पिता की भी मौत हो गई। उसके बाद संपत्ति की लालच में सौतेली मां ने उसके ऊपर जुल्म शुरू कर दिया। वह घर से भाग गोरखपुर पहुंचा और एक होटल में काम करने लगा, लेकिन वहां भी काम कराने के बाद पैसा न देकर उसे भगा दिया गया। उसके बाद वह घर पहुंचा तो सौतेली मां और चाचा ने उसकी प्रताडना शुरु कर दिया। आरोप है कि तीन दिन पूर्व उसकी सौतेली मां और चाचा ने मिलकर उसे करंट का झटका दिया और बुरी तरह मारा पीटा। बालक का आरोप है कि सौतेली मां और चाचा उसकी हत्या करके उसके हिस्से की संपत्ति को हड़पना चाहते हैं। प्रताड़ना से बचने के लिए आस-पास के लोगों से मदद से गुहार लगाई,लेकिन कोई मदद को आगे नहीं आया। मजबूर होकर वह सोमवार को घर छोड़ कर निकल गया। उसकी मुलाकात खड्डा रेलवे स्टेशन से रंजना आंटी से हुई। बालक के आरोपों में सच्चाई क्या है यह तो पुलिस की जांच पड़ताल के बाद ही पता चलेगा,लेकिन जिन लोगों ने उसकी दर्द भरी कहानी सुनी,उसने दांतों तले अंगुली दबा लिया। एसआई राजेश ने बताया कि बालक अपने घर जाने को तैयार नहीं है। उसकी सुरक्षा को देखते हुए चाइल्ड हेल्प लाइन से संपर्क किया गया है। वैसे अभी बालक पुलिस की सुरक्षा में है। इस मामले की जांच पड़ताल कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

दो अफसरों की वेतन वृद्धि रोकी, तीन स्वास्थ्यकर्मी बर्खास्त

दो अफसरों की वेतन वृद्धि रोकी, तीन स्वास्थ्यकर्मी बर्खास्त
मुसहरों की मौत की जांच करने पहुंचे एडी और जेडी हेल्थ
दुदही/बरवापट्टी। क्षेत्र के रामपुर पट्टी गांव की मुसहर बस्ती में तीनों मुसहरों के मौत की जांच करने मंगलवार को एडी हेल्थ एवं जेडी हेल्थ सीएमओ के साथ पहुंचे। इन अफसरों ने पहले तो दुदही सीएचसी के लेबर रूम, लैब सहित अन्य कक्षों में चिकित्सा व्यवस्था का हाल जाना। उसके बाद पीड़ित मुसहर परिवारों से मिले। इस मामले में मंगलवार को डीटीओ और दुदही सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी की लापरवाही मानते हुए उनकी वेतनवृद्घि बाधित कर दी गई है, जबकि एएनएम, आशा और एसटीएस की सेवा समाप्त कर दी गई। तहसीलदार की जांच में एक क्लीनिक को सील कर दिया गया।
दस दिन के अंदर बुखार और पेट दर्द से तीन मुसहरों की मौत के मामले में मंगलवार को एडी हेल्थ डॉ. जनार्दन मणि त्रिपाठी और जेडी हेल्थ डॉ. बीएम राव सीएमओ डॉ. हरिचरण सिंह के साथ जांच करने दोपहर 12 बजे दुदही सीएचसी में पहुंचे। यहां पैथालॉजी एवं टीबी का जांच रजिस्टर और कार्ड को अवलोकन किए। उसके बाद लेबर रूम की जांच किए। कमियां मिलने पर सुधार लाने की हिदायत दी।
उसके बाद रामपुरपट्टी गांव पहुंचे, जहां पंकज मुसहर, मनोज मुसहर की पांच वर्षीय पुत्री रीमा और वीपत मुसहर की मौत के मामले में उनके परिजनों से मिलकर बयान दर्ज किया। फिर एएनएम और आशा से करीब आधा घंटा तक पूछताछ की। उसके बाद ब्योरा अपने साथ लेकर चले गए। इधर, मुसहरों की मौत के मामले में जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. वीपी नरसरिया और दुदही सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एके पांडेय की लापरवाही मानते हुए उनकी एक साल की वेतनवृद्घि रोक दी है, जबकि संविदा पर कार्यरत गांव की एएनएम निधि तोमर, एसटीएस अमित पांडेय एवं आशा सुगांती देवी की सेवा समाप्त कर दी है। सीएमओ डॉ. हरिचरण सिंह ने इस कार्रवाई की पुष्टि भी की।
दूसरी ओर घटना के बाद दुदही सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एके पांडेय की तरफ से मुसहरों की मौत के मामले में खानगी बाजार के चिकित्सक विजय और गौरी श्रीराम के चिकित्सक विनोद को झोलाछाप बताते हुए विशुनपुरा थाने में जालसाजी, गैरइरादतन हत्या एवं इंडियन मेडिकल एक्ट में मुकदमा दर्ज कराया था। उसके बाद मंगलवार को दिन के 11 बजे नायब तहसीलदार विकास सिंह के साथ प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एके पांडेय गौरीश्रीराम पहुंचे और विनोद का क्लिनिक सील कर दिया। इस कार्रवाई के बाद झोलाछाप संचालकों में भी हड़कंप मच गया है। ... और पढ़ें

बीमारी से गनेश मुसहर की मौत, डीएम पहुंचे

बीमारी से गनेश मुसहर की मौत, डीएम पहुंचे
अमर उजाला ब्यूरो
दुदही। क्षेत्र के ठाढ़ीभार निवासी 50 वर्षीय मुसहर की बीमारी से मौत हो गई। सूचना मिलने पर डीएम ने मृतक के घर पहुंचकर जानकारी ली तथा दस हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के साथ ही सभी सरकारी योजनाओं से लाभान्वित करने का मातहतों को आदेश दिया।
ठाड़ीभार के राजी टोला की मुसहर बस्ती में रहने वाले गनेश मुसहर (50) लंबे समय से बीमार थे। उनका इलाज मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में चल रहा था। एक सप्ताह मेडिकल कॉलेज में भर्ती रहने के बाद डॉक्टर ने घर वापस भेज दिया था। घर आने पर मंगलवार की शाम गनेश की मौत हो गई।
सूचना मिलने पर डीएम डॉ. अनिल कुमार सिंह उसके घर पहुंचे और स्थिति के बारे में जानकारी ली। उन्होंने मृतक के परिवारीजनों को दस हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान करते हुए पेंशन, पारिवारिक लाभ सहित सभी सरकारी योजनाओं का लाभ देने का आदेश दिया। एसडीएम तमकुहीराज अरविंद कुमार ने पीड़ित परिवार को चार डिस्मिल आवासीय पट्टा प्रदान करने का आश्वासन दिया।
इस दौरान सीओ तमकुहीराज राणा महेंद्र प्रताप सिंह, एडीओ पंचायत रामविलास गोंड, सचिव राजकिशोर राय, निशिद राय, रविशंकर मिश्रा, रंजन मिश्रा, हिंदूवादी नेता व्यास गोंड सहित अन्य लोग मौजूद थे। ... और पढ़ें

दुकानदार की मौत से नाराज लोगों ने की सड़क जाम

दुकानदार की मौत से नाराज लोगों ने की सड़क जाम
पीड़ित परिजनों को आर्थिक मदद व कार्रवाई की मांग पर अड़े थे लोग
तहसीलदार व एसओ के आश्वासन पर दो घंटे बाद माने परिजन
अमर उजाला ब्यूरो
कसया। स्टेट हाइवे पर बनवारी टोला गांव के सामने सोमवार देर रात कार की चपेट से दुकानदार की मौत से नाराज लोगों ने मंगलवार की सुबह सड़क जाम कर दी। वे लोग पीड़ित परिजनों को आर्थिक मदद और वाहन स्वामी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसओ व तहसीलदार ने घंटों बातचीत के बाद कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम को खुलवाया। इस दौरान दो घंटे आवागमन बाधित रहा। हादसे में घायल बुजुर्ग का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।
बनवारी टोला निवासी जगदीश सिंह (55) व चिंरजी (60) दुकान बंद कर पैदल घर जा रहे थे। सामने से आई तेज रफ्तार कार की चपेट में आने से दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास के लोगों ने उन्हें सीएचसी कसया भेजवाया, जहां चिकित्सक ने जगदीश को मृत घोषित कर दिया, जबकि प्राथमिक उपचार के बाद चिंरजी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। नाराज लोगों ने कार को क्षतिग्रस्त कर दिया था। पुलिस ने समझाबुझाकर लोगों को शांत कराया था, लेकिन मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे फिर मृतक परिजन व गांव के लोग बनवारी टोला पहुंचकर स्टेट हाइवे पर जाम लगा दिया। एसओ ज्ञानेंद्र राय व तहसीलदार सत्यप्रकाश सिंह टीम के साथ पहुंचे। नाराज लोग प्रशासन से कार्रवाई के लिखित आश्वासन पर अड़े हुए थे। उनकी मांग थी कि मृतक के परिजनों को आर्थिक मदद, वाहन स्वामी के खिलाफ सख्त कार्रवाई व बनवारी टोला चौराहे पर स्पीड ब्रेकर बनवाया जाए। प्रशासन ने एक सप्ताह में कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया और करीब 11 बजे आवागमन बहाल हो सका। लोगों ने चेतावनी दी कि अगर प्रशासन तय समय में अपना वादा पूरा नहीं करता है तो फिर स्टेट हाइवे जाम किया जाएगा। एसओ ने बताया कि विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। आगे उनके निर्देश पर ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

रेलवे ट्रैक पर मिली युवक की लाश

बनवारी टोला गांव में सड़क हादसे में जगदीश की मौत के बाद जाम लगाए लोगों बात करते तहसीलदार व एसओ ।
रेलवे ट्रैक पर मिली युवक की लाश
कप्तानगंज। साखोपार गांव के पास रेलवे ट्रैक पर दो भाग में कटा युवक का शव मिला। शव की पहचान 22 वर्षीय मन्नू उर्फ गोलू गोंड पुत्र जगदीश गोंड निवासी बड़हरा बाबू के रूप में हुई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पीड़ित परिजनों ने बताया मन्नू उर्फ गोलू मंद बुद्धि था। सुबह नित्य क्रिया के लिए बाहर गया था। काफी देर बाद घर नहीं लौटा तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। लोगों ने आशंका जताई कि ट्रेन की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई। ... और पढ़ें

25 हजार का इनामी शराब तस्कर गिरफ्तार

25 हजार का इनामी शराब तस्कर गिरफ्तार
पूर्व एसओ कसया पर बगैर कार्रवाई के छोड़ देने का लगा था आरोप
विवेचना से प्रकाश में आने पर पुलिस ने मनीष को बनाया था आरोपी
अमर उजाला ब्यूरो
कसया(कुशीनगर)। मंगलवार को कसया पुलिस ने 25 हजार के इनामी शराब तस्कर मनीष सिंह को हेतिमपुर के पास से गिरफ्तार कर लिया। इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गोरखपुर, लखनऊ समेत कई शहरों में पूर्व में दबिश दे चुकी है। अब उसके पकड़े जाने से पुलिस ने राहत की सांस ली है।
बस स्टेशन कसया से 22 जुलाई को सीओ तमकुहीराज ने स्वाट टीम के साथ घेरेबंदी कर पूर्व एसओ कसया सुनील राय की भाभी की गाड़ी से अवैध शराब बरामद की थी और शराब तस्कर मनीष सिंह को पकड़ कर पूछताछ के लिए कसया पुलिस को सौंप दिया था। बगैर जांच पड़ताल और कार्रवाई के ही पूर्व एसओ ने मनीष सिंह को छोड़ दिया था। आईजी जेएन सिंह ने एएसपी गौरव वंशवाल से जांच कराई तो पूर्व एसओ दोषी पाए गए। विवेचना के दौरान मनीष सिंह को आरोपी बनाया गया। पूर्व एसओ सुनील राय पर भी मुकदमा दर्ज होने के साथ उनको निलंबित कर दिया गया। घटना के बाद से ही मनीष सिंह फरार चल रहा था। एसओ ज्ञानेंद्र राय ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसपी ने 25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। मंगलवार को सूचना के आधार पर हेतिमपुर के पास से इनामी शराब तस्कर मनीष को गिरफ्तार किया गया। एसओ ने बताया कि मनीष सिंह मूलत: बिहार के सिवान जिले के जीवीनगर करवारा क्षेत्र के काला डुमरा का निवासी है। फिलहाल गोरखपुर स्टेशन के निकट हाइडिल कॉलोनी में रहता था। पूर्व में गोरखपुर कैंट पुलिस ने इसे चोरी की गाड़ी के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा था। पूछताछ में उसने अवैध शराब के धंधे में संलिप्त होने की जानकारी दी है। इसके साथ कई महत्वपूर्ण जानकारियां दी है। उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

अपहृत बहनों को साथ ले गई राजस्थान पुलिस

एक आरोपी भी गिरफ्तार, पडरौना में किराए पर कमरा लेकर रहा रहा था आरोपी
जयपुर के कपड़ा व्यापारी की बेटियां हैं दोनों
अमर उजाला ब्यूरो
खड्डा। जयपुर (राजस्थान) के कपड़ा व्यापारी की अपहृत दोनों बेटियों को राजस्थान पुलिस अपने साथ ले गई। खड्डा पुलिस ने दोनों को ढूंढकर इसकी सूचना दी थी। एक अपहर्ता ग्राम रामपुर गोनहा थाना खड्डा निवासी राजू प्रसाद को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
खड्डा पुलिस की सूचना पर जयपुर के करणी थाने के एसआई जितेंद्र कुमार की अगुवाई में महिला सिपाही संतोष और सिपाही राजपाल सोमवार को खड्डा थाने पहुंचे। पुलिस के साथ लड़कियों के पिता भी थे। पिता ने बताया कि उनके घर के पास ही कपड़ा फैक्ट्री है। उसी में राजू व उसका एक दोस्त काम करते थे। एक दिन राजू व उसके दोस्त ने दोनों को भगाने की योजना बनाई और वे 22 जुलाई को दोनों को लेकर निकल गए। इस मामले में करणी थाने में केस दर्ज है। मामला राजस्थान के मुख्यमंत्री तक पहुंच तो करणी पुलिस ने राजू के भाई को हिरासत में ले लिया। इसी बीच खड्डा पुलिस ने रविवार को दोनों बहनों को ढूंढ निकाला। राजू दोनों को लेकर पडरौना में कमरा लेकर रह रहा था। महिला पुलिस की अभिरक्षा में दोनों बहने पिता को देखकर रोने लगीं। रोते कहा कि अपनी मर्जी से युवकों के साथ आयी थीं। पिता ने रोते हुए कहा कि हमारी सारी प्रतिष्ठा तार तार हो गई है। समाज में क्या मुंह दिखाऊंगा। एसआई जितेंद्र कुमार ने बताया कि अगवा का मुकदमा दर्ज है। दोनों को जयपुर में मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। ... और पढ़ें

जहरीली शराब कांड : अनुसूचित आयोग ने लिया संज्ञान

पूछा- कितने एससी की हुई मौत, क्या दी गई सहायता, एक सप्ताह में मांगी रिपोर्ट
अमर उजाला ब्यूरो
पडरौना। फरवरी में तरयासुजान थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से हुई 11 लोगों की मौत के मामले को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने संज्ञान में लिया है। अध्यक्ष ने जहरीली शराब पीने से मरने वाले अनुसूचित जाति के लोगों की संख्या और उन्हें उपलब्ध कराई गई आर्थिक मदद के बारे में प्रशासन से सूचना मांगी है।
फरवरी में जहरीली शराब पीने से तरयासुजान थाना क्षेत्र के बेंदूपार खलवा टोला, नौका टोला, खैरटिया आदि टोले के 11 लोगों की मौत हो गई थी। हालांकि उनमें नौ लोगों का ही पोस्टमार्टम हो पाया था, दो व्यक्तियों के शवों का परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया था। इस मामले में लापरवाही बरतने पर आबकारी इंस्पेक्टर, एसओ तरयासुजान समेत आठ को निलंबित कर दिया गया था। एसपी राजीव नारायन मिश्र की पहल पर मृतकों के घरवालों की तहरीर पर दो लोगों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या, जहरीली शराब बनाने और बेचने के आरोप में केस दर्ज किया गया था। एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।
जिला समाज कल्याण अधिकारी टीके सिंह ने बताया कि इस जहरीली शराबकांड मामले को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रमाशंकर कठोरिया ने संज्ञान लिया है। उन्होंने जानकारी मांगी है कि इस कांड में अनुसूचित जाति के कितने लोगों की हुई थी मौत और उन्हें कितनी आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई गई थी। यह सूचनाएं मुहैया कराने के लिए एक सप्ताह का समय मिला है। सूचना एकत्र कराई जा रही है। घटना में जहरीली शराब पीने से अनुसूचित जाति के दो व्यक्तियों की मौत हुई थी। ... और पढ़ें

मुसीबत में घबराएं नहीं, पुलिस की मदद लें

मुसीबत में घबराएं नहीं, पुलिस की मदद लें
- कसया के महर्षि अरविंद विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में पुलिस की पाठशाला आयोजित
अमर उजाला ब्यूरो
कसया/ कुशीनगर। अमर उजाला फाउंडेशन के अपराजिता अभियान के तहत सोमवार को कसया के महर्षि अरविंद विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में पुलिस की पाठशाला का आयोजन हुआ। इसमें सीओ रामदास प्रसाद ने कहा कि छात्राएं मुसीबत में घबराएं नहीं, पुलिस की मदद लें। महिलाओं की सुरक्षा के लिए तमाम कानून हैं। पुलिस महिला की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो अभियान चला रही है।
महिला थाने की एसओ विभा पांडेय ने कहा कि महिला पुलिस हेल्पलाइन नंबर 1090 व 181 पर फोन कर मदद ले सकती हैं। शिकायत करने वाली महिला की पहचान गोपनीय रखी जाती है। कहा कि अगर कोई सोशल मीडिया के जरिए अभद्रता करता है तो पुलिस से शिकायत करें। उन्होंने यातायात के नियमों का पालन करने, नशे में गाड़ी न चलाने, बाइक पर तीन सवारी न बैठाने व हेल्मेट का प्रयोग व सीट बेल्ट आदि का प्रयोग करने का आह्वान किया।
एसआई निकिता सिंह ने बेटियों की शिक्षा पर जोर दिया। उन्होंने छात्राओं से लक्ष्य तय कर पढ़ाई करने की सलाह दी। कहा कि छात्राओं, किशोरियों व महिलाओं की सुरक्षा में पुलिस सदैव तत्पर है। मुसीबत में धैर्य से काम लें, साहस न छोड़ें। भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष चंद्रप्रभा पांडेय ने कहा कि आज की नारी हर क्षेत्र में अपनी पहचान बना योग्यता सिद्ध कर रही है। शिक्षा के सहारे वह अपनी शक्ति को समझ रही है। वरिष्ठ होम्योपैथ चिकित्सक अनिल सिन्हा ने अमर उजाला फाउंडेशन की अपराजिता अभियान की प्रशंसा की।
इससे पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत मां सरस्वती के चित्र के समक्ष अतिथियों की ओर से दीप प्रज्ज्वलन व पुष्पार्चन से हुई। तत्पश्चात छात्राओं ने स्वागत गीत प्रस्तुत किए। संचालन जनार्दन जायसवाल ने किया। अंत में विद्यालय के प्रधानाचार्य चंद्रिका शर्मा ने आभार ज्ञापित किया। इस मौके पर जिला महामंत्री भाजपा महिला मोर्चा रूपम सिंह, वंदना ठाकुर, कन्हैया लाल श्रीवास्तव, संजय पांडेय, रामजीत सिंह, मनोज श्रीवास्तव, रणजीत उपाध्याय, नवीन सिन्हा, जितेंद्र यादव, जयनरायन यादव, रामनिवास सिंह, नंदकुमार शुक्ल, राजन राव, अमित राव, महेंद्र सिंह,राधेश्याम शुक्ल, शंभूशरण मिश्र, जयप्रकाश त्रिपाठी व तुलसी प्रसाद आदि मौजूद रहे।
00000
बोलीं छात्राएं
अपनी सुरक्षा खुद करने का साहस जुटाना होगा। मुसीबत के समय धैर्य व साहस के साथ काम लेना चाहिए।
- दीपिका अग्रहरी
---
अपराजिता अभियान से महिलाओं एवं छात्राओं का आत्मविश्वास बढ़ेगा। वे चुनौतियों से घबराएंगी नहीं, बल्कि उनका मुकाबला करेंगी।
- आंशी राव
---
महिलाओं का जागरूक होना जरूरी है। उनकी सुरक्षा के लिए तमाम कानून हैं, लेकिन जानकारी के अभाव में वे उसका लाभ नहीं ले पातीं।
-आकृति यादव ... और पढ़ें

पोखरे में मिला युवक का शव, हत्या की आशंका

पोखरे में मिला युवक का शव, हत्या की आशंका
डॉग स्क्वॉड के साथ पहुंची पुलिस ने की जांच पड़ताल
लक्ष्मीगंज। क्षेत्र के भरपटिया गांव के उत्तर पोखरे में युवक का शव मिला। थोड़ी देर में आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर डॉग स्क्वॉड के साथ पुलिस भी पहुंच गई। शव को बाहर निकलवा पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। प्रत्यक्षदर्शियों ने हत्या की आशंका जताई है।
मनिया छपरा के भरपटिया टोला के 45 वर्षीय राम अशीष साहनी पांच भाइयों में सबसे छोटे थे। वह दूसरे नंबर के भाई बनारसी साहनी के परिवार के साथ रहते थे। राम अशीष अविवाहित थे। वह पांच माह पूर्व भरपटिया चौराहे के पास किराए पर पोखरा लेकर मछली पाले थे। रखवाली के लिए रात में पोखरे के किनारे सोते थे। शनिवार की रात भी वह घर से भोजन कर सोने के लिए पोखरे पर गए थे। रविवार सुबह उनका भतीजा राजेश साहनी उनके मोबाइल पर फोन किया, लेकिन बात नहीं होने पर ढूंढते हुए पोखरे पर पहुंच गया। पोखरे में राम अशीष की लाश देख शोर मचाने लगा। परिजन और गांव के लोग काफी संख्या में पहुंच गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने हत्या कर शव पोखरे में फेंकने की आशंका जताई। सूचना पर एसओ के साथ डॉग स्क्वॉड भी पहुंच गया। पुलिस ने शव को पोखरे से बाहर निकलवाया। चेहरे और शरीर पर लगे घाव देख कर पुलिस ने भी हत्या की आशंका जताई और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसओ संजय मिश्रा ने बताया कि प्रथम दृष्ट्या हत्या कर पोखरे में फेंकने का मामला प्रतीत हो रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत की वजह स्पष्ट हो जाएगी। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree