विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

फैसले से पहले ही बढ़ाई जाने लगी अयोध्या की सुरक्षा, अग्रिम आदेश तक भेजे गए पुलिस अफसर व सिपाही

अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय के आने वाले फैसले को देखते हुए पुलिस महकमे ने वहां सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

16 अक्टूबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

कौशांबी

बुधवार, 16 अक्टूबर 2019

मनाया गया कोजागिरी का त्योहार

मनाया गया कोजागिरी का त्योहार
छात्राओं ने मिट्टी के बर्तन से छात्रों की उतारी आरती
अमर उजाला ब्यूरो
कड़ा। विकास खंड के पूर्व माध्यमिक व प्राथमिक स्कूल सौरई बुजुर्ग में शनिवार को परंपरागत तरीके से कोजागिरी (ढेड़िया) का त्योहार मनाया गया। छात्राओं ने मिट्टी के जालीदार बर्तन में आरती रखकर साथी छात्रों की बलाएं उतारीं।
स्कूल के प्रधानाध्यापक अजय साहू ने त्योहार के बाबत बताया कि अवध प्रांत की मान्यता है कि जब भगवान राम लंका विजय के बाद अयोध्या पहुंचे तो वहां की महिलाओं ने ढेड़िया से उनकी आरती उतारी। इसी मान्यता के अनुसार यह त्योहार जिले में भी मनाया जाता है। पर्व के दिन बहने अपने भाइयों की आरती उतारती हैं। स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के बाद बच्चों को प्रसाद स्वरूप लाई, गट्टा, फल और चंदिया का वितरण किया गया। इस मौके पर वीरेंद्र शंकर, राम प्रसाद, शशी देवी, ममता देवी, राजेश शर्मा, योगेंद्र यादव, शिवम केसरवानी, अनूप सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

मुकुट पूजन के साथ अजुहा की रामलीला शुरू

मुकुट पूजन के साथ अजुहा की रामलीला शुरू
अजुहा। स्थानीय बाजार की रामलीला का शुक्रवार रात मुकुट पूजन के साथ शुभारंभ हो गया। 10 दिवसीय रामलीला का शुभारंभ सिराथू विधायक शीतला प्रसाद ने किया। पूजा के बाद नारद मोह की लीला का मंचन किया गया।
अजुहा रामलीला का में पंडित महेश्वरी द्विवेदी ने पूजन कराया। पूजा होने के बाद भक्तों ने जय श्रीराम के जयकारे लगाए। रामलीला कमेटी के अध्यक्ष राजेश कुमार केसरवानी ने बताया कि दस दिन लीला प्रसंग दिखाए जाएंगे। इसके बाद दो दिवसीय मेले का आयोजन किया गया है। मंचन चित्रकूट से आए कलाकार कर रहे हैं। मुकुट पूजा के दौरान अजुहा कस्बा सहित आस-पास गांव से भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। इस मौके पर चेयरमैन अनिल कुमार निर्मल, ओमप्रकाश कुशवाहा, पंधारी सरोज, रवि कुमार वैश्य, शंकर लाल केसरवानी, गुलाब चंद मौर्य, आशीष कुमार मोदनवाल, विपिन कुमार मोदनवाल, आशीष कुमार चक, अंजनी कुमार पांडेय, डॉ. संतलाल कुशवाहा आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

चायल कस्बे के रघुराज बने डिप्टी एसपी, खुशी

चायल कस्बे के रघुराज बने डिप्टी एसपी
पीसीएस की परीक्षा पास कर किया परिवार का नाम रोशन
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। पीसीएस 2017 में चायल कस्बे के रघुराज ने जिले का नाम रोशन किया है। उनका चयन डिप्टी एसपी के पद पर हुआ। इसे लेकर रघुराज व परिजनों के अलावा कस्बे के लोगों ने खुशी का इजहार करते हुए मिठाइयां बांटी।
चायल कस्बे के वार्ड नंबर पांच नईम मिंया का पूरा मोहल्ला निवासी रघुराज अपने पिता की तीसरी संतान हैं। एक भाई और एक बहन से छोटे रघुराज बचपन से ही मेहनत और लगनशील थे। उनके पिता श्रीनाथ सीआईएसएफ में बतौर इंस्पेक्टर मद्रास में तैनात थे। पिता की हार्ट अटैक से मौत होने के बाद उनकी शिक्षा में काफी रुकावट आई। लेकिन समय रहते ही बड़े भाई जगन्नाथ ने रघुराज के साथ ही पूरे परिवार के लिए पिता की जिम्मेदारी निभाई। पिता के स्थान पर नौकरी कर बड़े भाई जगन्नाथ ने रघुराज को पढ़ाया। पढ़ाई के दौरान ही रघुराज का चयन भारतीय खाद्य निगम में बतौर इंस्पेक्टर फरीदाबाद में पोस्टिंग हो गई। यहीं पर वह नौकरी के दौरान ही सिविल सेवा की तैयारी करते हुए वर्ष 2017 का पीसीएस एग्जाम दिया। गुरुवार को परीक्षा परिणाम आया तो रघुराज व उनके परिजन खुशी से उछल पड़े। रघुराज इस समय फरीदाबाद में है। बताते हैं कि बचपन से ही वह पिता के सपनों को पूरा करने के लिए डिप्टी एसपी बनने की तैैयारी में लगे थे। इस सफलता के लिए रघुराज अपनी माता और बहन बेबी व भाई जगन्नाथ को पूरा श्रेय देते हैं।
... और पढ़ें

पूरामुफ्ती में दिनदहाड़े युवक का अपहरण

पूरामुफ्ती में दिनदहाड़े युवक का अपहरण
पूर्व सांसद अतीक अहमद के भाई अशरफ के साले पर आरोप, जांच में जुटी पुलिस
जमीन का बैनामा कराने के लिए किया अगवा, अब फोन करके दे रहा धमकी
अमर उजाला ब्यूरो
चायल। पूरामुफ्ती के मादपुर गांव में रहने वाले एक युवक का दिनदहाड़े अपहरण कर लिया गया। अपहरण का आरोप पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई अशरफ के साले पर है। पीड़ित की मां ने जमीन का बैनामा कराने के लिए वारदात को अंजाम देने का इल्जाम लगाते हुए मंगलवार को आरोपी के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस छानबीन कर रही है।
मादपुर गांव की शांति देवी पत्नी मोतीलाल ने बताया कि पूर्व सांसद अतीक अहमद के भाई अशरफ के साले अब्दुल बारी निवासी हटवा से उसने प्रयागराज स्थित अपनी जमीन बेचने की बात की थी। आठ अगस्त 2017 को विक्रय का एग्रीमेंट कराया। पीड़िता की मानें तो अब आरोपी उसे रुपये नहीं दे रहा है। तकादा करने पर जान से मार डालने की धमकी देता है। इसी का नतीजा रहा कि पीड़ित महिला ने भूमि का बैनामा अभी तक नहीं किया है। उसका कहना है कि बैनामा कराने के लिए आरोपी ने 11 अक्तूबर को साथियों संग घर के समीप से उसके बेटे निर्भय का अपहरण कर लिया। मंगलवार सुबह फोन करके बैनामा नहीं करने पर निर्भय को मार डालने की धमकी दी। धमकी भरा फोन आने के बाद पीड़ित परिवार को घटना की जानकारी हुई। इससे पहले वह निर्भय की खोजबीन कर रहे थे। मामले में पूरामुफ्ती कोतवाल बलराम सिंह का कहना है कि तहरीर मिली है। आरोपों की जांच के बाद आरोपी क खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अपहृत की बरामदगी के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।
... और पढ़ें

मारीच को फेंका समुद्र पार

मारीच को फेंका समुद्र पार
करारी नगर की रामलीला महोत्सव का तीसरा दिन, मंचन देख भावविभोर हुए दर्शक
अमर उजाला ब्यूरो
करारी। स्थानीय नगर की ऐतिहासिक रामलीला में सोमवार रात मारीच-सुबाहु वध, अहिल्या उद्धार, नगर दर्शन और फुलवारी लीला का मंचन किया गया। उत्तर भारत के प्रसिद्ध कलाकारों का अभिनय देख दर्शक भावविभोर हो उठे। दर्शक दीर्घा जय श्रीराम के जयघोष से गूंजती रही।
कथा प्रसंग के मुताबिक ताड़का का वध करने के बाद मुनि विश्वामित्र के साथ प्रभु श्रीराम और लक्ष्मण उनके आश्रम पहुंचते हैं। वहां ऋषियों-मुनियों के द्वारा धार्मिक अनुष्ठान कराया जाता है। इसमें बाधा डालने आने वाले राक्षसों का भगवान वध करते हैं। एक ही बाण से मारीच को समुंदर पार फेंक देते हैं। जबकि सुबाहु को मौत की नींद सुला देते हैं। इसी बीच मुनि विश्वामित्र को जनकपुर में धनुष यज्ञ होने की खबर मिलती है। राम-लक्ष्मण के साथ वह जनकपुर पहुंचते हैं। रास्ते में प्रभु श्री राम अहिल्या का उद्धार करते हैं। जनकपुर में नगर दर्शन के साथ फूलों की बाग देखने जाते हैं। जहां उनकी जगतजननी माता सीता से क्षणिक भेंट होती है। पहली ही नजर में सीता जी वर के रूप में अपने ईष्ट से श्री राम को मांगती हैं। इसी के साथ इस दिन की लीला का समापन हुआ। रामलीला देखने के लिए नगर के साथ आसपास के गांवों से भी बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी। इस मौके पर संयोजक/ट्रस्टी रमेश चंद्र शर्मा, कमेटी अध्यक्ष सुनील जायसवाल उर्फ पिंटू, संजय जायसवाल, पंकज शर्मा, पवन शर्मा, राकेश, पंकज वर्मा, श्याम सुंदर केसरवानी आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

केशौवापुर की एक महीने से बिजली आपूर्ति ठप

केशौवापुर की एक महीने से बिजली आपूर्ति ठप
25 केवीए के फुंके ट्रांसफार्मर को नहीं बदलवाने से बढ़ी परेशानी
अमर उजाला ब्यूरो
कल्यानपुर। सिराथू तहसील क्षेत्र के केशौवापुर गांव में महीने भर से अंधेरा पसरा हुआ है। शिकायत के बाद भी फुंके ट्रांसफार्मर को बदलवाया नहीं जा रहा है। इससे ग्रामीणों में आक्रोश है।
अंधावां विद्युत उपकेंद्र के केशौवापुर गांव में 25 केवीए का ट्रांसफार्मर लगवाया गया है। ग्रामीणों की मानें तो महीने भर पहले अचानक यह धू-धूकर जल गया। इसकी जानकारी उसी रोज बिजली विभाग के अधिकारियों को दे दी गई थी। ऑनलाइन शिकायत भी दर्ज करा दी गई। अफसरों ने जल्द ट्रांसफार्मर बदलवाने का भरोसा दिलाया था, लेकिन किसी ने किया कुछ नहीं। उधर ट्रांसफार्मर नहीं बदलवाए जाने से गांव की बत्ती गुल है। किसानी का काम प्रभावित होने के साथ बच्चों की पढ़ाई भी चौपट हो रही है। कुटीर उद्योग बंद होने के कगार पर पहुंच गए हैं। गांव के नीरज कुमार, बदलू पांडेय, सिंटू तिवारी, विनोद कुमार, राममिलन पटेल, विजय कुमार पटेल आदि का कहना है कि दो दिन के भीतर ट्रांसफार्मर नहीं बदलवाया गया तो सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया जाएगा।
... और पढ़ें

सड़क हादसों में किसान की मौत, दो घायल

सड़क हादसों में किसान की मौत, एक घायल
मूरतगंज पुलिस चौकी के समीप पलटा अप्पे
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। मूरतगंज पुलिस चौकी के समीप सोमवार सुबह एक बेकाबू अप्पे पलट गया। हादसे में चालक के साथ उस पर सवार किसान भी घायल हो गया। जिला अस्पताल में किसान की मौत हो गई। हादसे से पीड़ित परिवार में कोहराम मच गया है। वहीं इमामगंज में मैजिक की टक्कर से एक बाइक सवार का पैर टूट गया।
कोखराज कोतवाली क्षेत्र के मलाक रेजमा गांव का मोहनलाल (50) पुत्र श्यामलाल खेती करके परिवार का खर्च चलाता था। सोमवार सुबह वह प्रयागराज की मुंडेरा मंडी से अप्पे में सब्जी लेकर घर जा रहा था। मूरतगंज पुलिस चौकी के समीप अचानक अप्पे अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे में मोहन के साथ अप्पे चालक राजेंद्र निवासी निधियावां भी घायल हो गया। दुर्घटना देख मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने एंबुलेंस की मदद से घायलों को मूरतगंज पीएचसी में भर्ती कराया। जहां से प्राथमिक इलाज के बाद हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने मोहन को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। यहां उसकी सांसें थम गईं। मौत की मनहूस खबर घर पहुंचते ही कोहराम मच गया। पीड़ित परिजन दहाड़े मारकर रो पड़े। पीड़ितों को ढांढस बंधाने के लिए उनके घर पर पड़ोसियों की भीड़ जमा हो गई। नगर कोतवाली पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ऐसे ही गगोही पंसौर गांव का विनोद कुमार पुत्र सुखलाल सुबह किसी काम से इमामगंज गया था। इमामगंज चौराहे के समीप ही पीछे से आई मैजिक ने उसकी बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में विनोद का पैर टूट गया। उसे मूरतगंज पीएचसी में भर्ती कराया गया है।
... और पढ़ें

किशोरी से दुष्कर्म मामले में रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश

किशोरी से दुष्कर्म मामले में रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश
चरवा में नेत्रहीन दंपती की मौजूदगी में बेटी से युवक ने किया था दुष्कर्म
मंझनपुर। चरवा इलाके में करीब पांच महीने पहले दुष्कर्म की दिल दहला देने वाली घटना हुई। एक नेत्रहीन दंपती चीखते-चिल्लते रहे और पड़ोसी युवक उनकी बेटी के साथ दुराचार करता रहा। बाद में उसने गर्भपात भी करा दिया। पीड़िता की शिकायत पर सीओ सिटी ने चरवा कोतवाल को एफआईआर लिखकर दुष्कर्म के आरोपी के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया है।
चरवा इलाके की एक किशोरी ने बताया कि उसके माता-पिता नेत्रहीन हैं। परिवार का खर्च चलाने के लिए बड़ा भाई परदेश में मजदूरी करता है। पीड़िता की मानें तो तकरीबन पांच महीने पहले पड़ोसी युवक दीवार फांदकर भीतर घुस आया। उसने कनपटी पर तमंचा सटाकर दुराचार किया। चीखें सुन पीड़ित लड़की के माता-पिता परेशान हो गए। बेटी की इज्जत बचाने के लिए वह आरोपी के गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन दरिंदे का दिल नहीं पसीजा। दुष्कर्म के बाद कहीं भी शिकायत करने पर पूरे परिवार मार डालने की धमकी देते हुए आरोपी फरार हो गया। बाद में अभी पखवाड़े भर पहले लड़की को घर से ले जाकर गर्भपात करा दिया। पीड़िता सोमवार को एसपी को घटना से अवगत कराने आई थी। उनके नहीं मिलने पर डीएसपी सिटी को आपबीती सुनाई। डीएसपी एसएन पाठक का कहना है कि चरवा कोतवाल को रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई करने का निर्देश दे दिया गया है।
... और पढ़ें

प्रत्येक स्कूल से कम से कम एक प्रोजेक्ट बनवाएं

प्रत्येक स्कूल से कम से कम एक प्रोजेक्ट बनवाएं
विज्ञान शिक्षक मार्गदर्शक कार्यशाला में बेहतर प्रोजेक्ट के तकनीक पर की गई चर्चा
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। ब्लॉक संसाधन केंद्र मंझनपुर में सोमवार को 27 वें राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस कार्यक्रम में अधिकतम विद्यार्थियों की सहभागिता एवं स्वच्छ हरित, स्वस्थ राष्ट्र के लिए विज्ञान तकनीक एवं नवाचार के संबंध में विज्ञान शिक्षकों की कार्यशाला आयोजित की गई। समन्वयक जिला विज्ञान क्लब वसीम अहमद ने मुख्य विषय से संबंधित प्रोजेक्ट बनाने की तकनीक एवं नोडल तथा जिला स्तरीय आयोजन के पूर्व विद्यार्थियों के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के संबंध में जानकारियां दी।
उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस में बच्चों को एक ऐसा मंच प्राप्त होता है जिसके माध्यम से वह अपनी वैज्ञानिक जिज्ञासा को उजागर कर सकते हैं। बताया कि विज्ञान कांग्रेस में मुख्य विषय से संबंधित स्थानीय समस्याओं पर आधारित प्रोजेक्ट बनाए जाते हैं। इसके पश्चात बच्चे नोडल स्तर से चयनित होकर जिला, प्रदेश व राष्ट्र स्तर पर प्रतिभाग करते हैं। उन्होंने शिक्षकों से आह्वान किया कि प्रत्येक विद्यालय से कम से कम एक प्रोजेक्ट अवश्य तैयार किए जाएं। इस अवसर पर खंड शिक्षा अधिकारी डॉ अविनाश कुमार ने कहा कि विज्ञान कांग्रेस की गतिविधि के माध्यम से बच्चों में खोज एवं शोध की प्रवृत्ति जागृत होती है। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि बच्चों के बेहतर प्रोजेक्ट तैयार कराएं। ताकि वह आगे की प्रतियोगिताओं में सफल हो सकें। इस अवसर पर तुफैल अहमद, मो शाहिद, ज्ञान बाबू, विनोद कुमार, रमेश प्रसाद, दिनेश सिंह संगीता कुमारी, प्रीति गुप्ता, सपना सिंह आदि शिक्षक उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

दहेज के लिए विवाहिता को पीट, घर से निकाला

दहेज के लिए विवाहिता को पीटा, घर से निकाला
पति समेत तीन पर एफआईआर, पइंसा कोतवाली क्षेत्र के बंबूपुर गांव का मामला
अमर उजाला ब्यूूरो
मंझनपुर। पइंसा कोतवाली क्षेत्र के बंबूपुर गांव में ब्याही एक महिला को दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालियों ने घर से निकाल दिया। इससे पहले उसकी पिटाई भी की। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी पति समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
बंबूपुर गांव की काजल पुत्री वीरेंद्र ने बताया कि उसका विवाह करीब दो साल पहले तान सिंह से हुआ था। आरोप है कि शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर ससुराली विवाहिता को प्रताड़ित करने लगे। इसकी जानकारी होने पर रिश्तेदारों ने पंचायत की। सभी ने ससुुराल वालों को समझाया, लेकिन उनके रवैये में सुधार नहीं हुआ। पीड़िता की मानें तो पखवाड़े भर पहले दहेजलोभियों ने उसकी पिटाई की। इसके बाद घर से निकाल दिया। मायके वालों ने एक दफा फिर समझौते का प्रयास किया। बात नहीं बनने पर पीड़ित महिला ने पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने आरोपी पति तान सिंह, ससुर नथन व सास फूल कुमारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है।
... और पढ़ें

संस्कृत विद्यालयों में कंप्यूटर की भी दी जाएगी शिक्षा

संस्कृत विद्यालयों में कंप्यूटर की भी दी जाएगी शिक्षा
संस्कृत विद्यालयों में एनसीईआरटी की भी पुस्तकें पढ़ाई जाएंगी
जल्द ही सभी विद्यालयों को आवंटित किए जाएंगे कंप्यूटर
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। संस्कृत विद्यालयों को आधुनिक शिक्षा पद्धति से जोड़ने की कवायद प्रारंभ हो गई है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद द्वारा संचालित इन विद्यालयों में अब एनसीईआरटी की पुस्तकों से भी पढ़ाई होगी। इसके अलावा उन्हें कंप्यूटर की भी शिक्षा दी जाएगी।
कई सालों से संस्कृत विद्यालयों को विकसित करने की मांग उठाई जा रही थी। लोगों की मांग को ध्यान में रखते हुए शासन ने अब इन विद्यालयों में आधुनिक शिक्षा पद्धति से पढ़ाई कराने का फैसला लिया है। नए पाठ्यक्रम से विद्यार्थियों को संस्कृत के शास्त्र तो पढ़ाए ही जाएंगे। साथ में हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के आधुनिक विषय भी पढ़ाए जाएंगे। इससे संस्कृत विद्यालयों के विद्यार्थी किसी भी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सकेंगे। प्रथमा से उत्तर मध्यमा तक वही पाठ्यक्रम लागू होगा। जो बेसिक और माध्यमिक में लागू है। इसके अलावा इन विद्यालयों में कंप्यूटर से संस्कृत की शिक्षा दी जाएगी। इसके लिए जल्द ही कंप्यूटर आवंटित कर एक-एक प्रशिक्षक की तैनाती की जाएगी। प्रशिक्षक नियमित रूप से निर्धारित पाठ्यक्रमों को पीपीटी एवं ऑनलाइन पढ़ाएंगे। बताते चलें कि जिले में 19 संस्कृत विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। इनमें श्री नारायण संस्कृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय (उमावि) टेंवा, भूतनाथ मौनी स्वामी संस्कृत उमावि लौंगावां, हनुमत संस्कृत उमावि अर्कामहावीरपुर, पं. श्याम बिंद्रा प्रसाद संस्कृत उमावि मोहीउद्दीनपुर, श्रीराम संस्कृत उमावि लहुरे चरवा, श्री दुर्गा देवी संस्कृत उमावि मंझनपुर, श्री नारायण धर्मोपदेश उमावि बारंबारी, हुबलाल आदर्श संस्कृत महाविद्यालय भरवारी, गुरुक़ल संस्कृत महाविद्यालय सिराथू, आदर्श शिव शारदा संस्कृत उमावि इमली गांव, रामकृपाल बालिका संस्कृत उमावि डूड़ी रानीपुर, त्रिपाठी रामरूप संस्कृत विद्यालय जोगापुर, कृष्णा त्रिपाठी संस्कृत विद्यालय अलवारा समेत 13 स्कूल वित्त पोषित हैं। माना जा रहा है कि नवीन पाठ्यक्रम और कंप्यूटर से पढ़ाई होने पर संस्कृत विद्यालय अन्य बोर्डों के स्कूलों की तरह आधुनिक शिक्षा से जुड़ जाएंगे।
----------
इनका कहना है
संस्कृत विद्यालयों में नवीन पाठ्यक्रम और कंप्यूटर की पढ़ाई को लेकर शासन का पत्र मिला है। इस बाबत विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को दिशा-निर्देश जारी कर दिया गया है।-सत्येंद्र कुमार सिंह-डीआईओएस
... और पढ़ें

सीबीआई का खौफ नहीं, सीज बालू बेच रहे माफिया

सीबीआई का खौफ नहीं, सीज बालू बेच रहे माफिया
पिपरी इलाके के उमरवल घाट पर वर्ष 2012 में सीज की गई थी चार बीघे में डंप बालू
ग्रामीणों का आरोप, शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं कर रहे अधिकारी
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर/चायल। दोआबा के बालू माफिया को सीबीआई का जरा भी खौफ नहीं है। तभी तो पिपरी के उमरवल घाट पर सात साल पहले सीज की गई करोड़ों की अवैध बालू अब बेखौफ होकर बेची जा रही है। ऐसा नहीं कि इसकी जानकारी अफसरों को नहीं है। ग्रामीणों की शिकायत के बाद भी वह हाथ पर हाथ धरे बैठे हुए हैं।
यमुना नदी के उमरवल घाट पर वर्ष 2012 में तिल्हापुर के एक माफिया ने अवैध खनन कराया था। उसने उमरवल गांव के बाहर तपस्वी बाबा के मंदिर के समीप तकरीबन चार बीघा भूमि में बालू डंप करा दी थी। बताया जाता है कि यह बालू करीब चार सौ ट्रक है। तब ग्रामीणों की शिकायत पर तत्कालीन एसडीएम चायल व खान निरीक्षक ने पूरी बालू सीज कर दी थी। सात साल बाद अब माफिया ने सीज हुई बालू को फिर से बेचना शुरू कर दिया है। पूरी बालू की कीमत करोड़ों में बताई जा रही है। बताया जाता है कि 4 दिनों से लगातार बालू का उठान हो रहा है। मजदूर दिन-रात ट्रकों, डंपरों में बालू लोड करते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि तिल्हापुर निवासी बालू माफिया ने उमरवल गांव के ही एक व्यक्ति को बालू बेचने का जिम्मा दिया है। सीज बालू बेचने में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हो, इसके लिए किसी दूसरे घाट से डंप का रवन्ना ले लिया जाता है। इसके बाद अवैध बालू लदे वाहन बेखौफ होकर सड़कों पर फर्राटा भरते हैं। गांव के लोगों का साफ कहना है कि इसकी शिकायत कई बार स्थानीय पुलिस-प्रशासन से की गई, लेकिन सांठगांठ होने के कारण किसी ने इस तरफ ध्यान देना ठीक नहीं समझा।
-----
दो वर्ष पूर्व बाढ़ में डूब गई थी बालू
चायल। सीज की गई बालू दो वर्ष पूर्व यमुना नदी की बाढ़ में डूब गई थी। जलस्तर कम होने के बाद बालू के ऊपर करीब एक फीट तक मिट्टी जम गई थी और उसमें बड़ी-बड़ी जंगली घास उग गई थी। जिस वजह से ऊपर से देखने में बालू दिखती ही नहीं थी। बालू माफिया अब ऊपर की मिट्टी हटाकर धड़ल्ले से बालू निकालकर बेच रहे हैं।
-----
2017 से चल रही सीबीआई जांच
मंझनपुर। कौशाम्बी में बालू के अवैध खनन की जांच वर्ष 2017 से चल रही है। उमरवल में सीज बालू भी जांच के दायरे में है। जांच को आई सीबीआई टीम ने उमरवल जाकर सीज बालू का निरीक्षण भी किया था। बड़ी बात है कि माफियाओं को सीबीआई का भी खौफ नहीं है। वह खुलेआम सीज बालू बेच रहे हैं।
-----
इनका कहना है
सीज बालू बेचे जाने की जानकारी नहीं है। ऐसा है तो यह गंभीर बात है। जांच कराकर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अधिकारियों से बातचीत कर एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी।- पवन त्रिवेदी-इंस्पेक्टर, पिपरी
... और पढ़ें

देवर्षि की तपस्या से हिल उठा देवराज का सिंहासन

देवर्षि की तपस्या से हिल उठा देवराज का सिंहासन
नारद मोह के साथ शुरू हुई करारी की रामलीला
अमर उजाला ब्यूरो
करारी। नगर की ऐतिहासिक रामलीला का मंचन रविवार रात नारद मोह की लीला के साथ प्रारम्भ हुआ। उत्तर भारत से के कलाकारों की मनमोहक प्रस्तुति देख दर्शक भावविभोर हो उठे। खचाखच भरा स्टेडियम जय श्रीराम के जयकारों से गूंज उठा।
कथा प्रसंग के मुताबिक एक बार हिमालय की सुंदर पहाड़ियों में घूमते हुए देवर्षि नारद का मन मोह जाता है और वह वहीं एक गुफा में तपस्या करने लगते हैं। उनके तपोबल से देवराज इंद्र का सिंहासन हिल उठता है। ऐसे में देवराज को लगता है कि कोई उनका सिंहासन छीनने के लिए तप कर रहा है। तपस्वी का पता लगवाने के बाद वह तपस्या भंग करने के लिए अपने मित्र कामदेव के साथ अफसरा उर्वशी, रंभा और मेनका को हिमालय भेजते हैं। ये सभी तपस्या भंग करने में नाकामयाब हो जाते हैं। ऐसे में नारद को कामदेव पर विजय पा लेेने का अहंकार हो जाता है। घमंड में चूर होकर वह यह बात भगवान शंकर के मना करने के बाद भी विष्णु जी को बताते हैं। लिहाजा विष्णु भगवान अहंकार चूर करने के लिए माया की नगरी का निर्माण करते हैं। वहां विश्वमोहिनी के स्वयंवर का आयोजन होता है। शादी करने के लिए देवर्षि विष्णु जी के पास सुंदर स्वरूप मांगने जाते हैं, लेकिन विष्णु जी उन्हें वानर का रूप दे देते हैं। बाद में खुद स्वयंवर में पहुंचकर वरमाला पहन लेते हैं। इसी के साथ नारद जी का घमंड चकनाचूर होता है और वह भगवान विष्णु को श्राप देते हैं कि त्रेता में यही वानर-भालू उनकी मदद करेंगे। बाद में राम रूप में सीताहरण के बाद बंदर-भालुओं ने ही प्रभु श्रीराम की मदद की थी। फिलहाल इस दिन की लीला का यहीं पर समापन हुआ।
-----
प्रशासन से व्यवस्थाओं की मांग
मंझनपुर। करारी रामलीला कमेटी ने जिला प्रशासन से बिजली, पानी, सफाई, सुरक्षा आदि व्यवस्थाओें की मांग की है। अध्यक्ष सुनील जायसवाल उर्फ पिंटू ने बताया कि परशुराम-लक्ष्मण संवाद, राम विवाह, रावण दरबार, भरत मिलाप, ताड़का वध जैसी लीलाओं के दिन भीड़ उमड़ती है। लिहाजा इस दिन अधिक फोर्स की जरूरत पड़ेगी। आम दिनों में कम पुलिस बल के साथ अन्य सुविधाओं का किया जाना आवश्यक है।
-----
यू-ट्यूब पर भी देखिए रामलीला
मंझनपुर। करारी की रामलीला सोशल नेटवर्किंग साइट यू-ट्यूब पर भी देखी जा सकती है। कमेटी पदाधिकारियों ने बताया कि तमाम रामभक्त विदेशों में भी रहते हैं। किन्हीं कारणों से वह इस पावन मौके पर गांव नहीं आ पाते। ऐसे लोग जहां हैं, वहीं अपने नगर की रामलीला देखें, इसके लिए यह व्यवस्था की गई है। मंचन टुकड़ों में यू-ट्यूब पर अपलोड किया जाता है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree