विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपीः सिलिंडर फटने से ध्वस्त हुए तीन मकान, 11 की मौत, बचाव कार्य जारी

उत्तर प्रदेश के जिला मऊ के मुहम्मदाबाद गोहना कोतवाली क्षेत्र के वलीदपुर नगर पंचायत में सुबह 6:45 पर सिलिंडर फटने से एक मकान पूरी तरह ध्वस्त हो गया। मकान के मलबे में दबकर छह के मरने की सूचना है।

14 अक्टूबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

कौशांबी

सोमवार, 14 अक्टूबर 2019

प्रापर्टी डीलर ने फांसी लगाकर दी जान

प्रापर्टी डीलर ने फांसी लगाकर दी जान
प्रयागराज के ट्रांसपोर्ट नगर में मकान में शुक्रवार दोपहर फंदे पर लटकती मिली लाश
वर्ष 2017 में साथी ने मकान की गारंटी पर ले लिया था 12 लाख का कर्ज
पइंसा (कौशाम्बी)। प्रयागराज के ट्रांसपोर्ट नगर मोहल्ले में रहने वाले कौशाम्बी के एक प्रापर्टी डीलर ने बुधवार को फांसी लगाकर जान दे दी। शुक्रवार को तीसरे दिन उसका फंदे पर लटकता हुआ शव मिला। आत्मघाती कदम उठाने के पीछे धोखाधड़ी का शिकार होने की बात सामने आ रही है। घटना से पीड़ित परिवार में कोहराम मच गया। मृतक के बेटे ने पीएनबी की कर्नलगंज शाखा के प्रबंधक सहित दो के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है।
पइंसा कोतवाली क्षेत्र के उदिहिन खुर्द गांव का अक्षय प्रताप सिंह उर्फ गप्पू सिंह (45) पुत्र चंद्रभूषण प्रापर्टी डीलर था। वह प्रयागराज के ट्रांसपोर्ट नगर में मकान बनवाकर परिवार सहित रहता था। मंगलवार को अक्षय पत्नी-बच्चे के साथ गांव आया था। इसके बाद बुधवार को फिर प्रयागराज चला गया। इसी के बाद से परिजनों का उससे संपर्क नहीं हो पा रहा था। शुक्रवार सुबह अनहोनी की आशंका पर परिवार वाले ट्रांसपोर्ट नगर पहुंचे और दरवाजा तोड़कर भीतर दाखिल हुए तो कमरे में अक्षय की फांसी के फंदे पर लटकती हुई लाश मिली थी। यह देख परिवार वाले चीख पड़े। सूचना पाकर पहुंची धूमनगंज पुलिस ने जांच के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के बेटे रितिक ने बताया कि वर्ष 2017 में प्रयागराज निवासी अमरजीत उर्फ मुन्नू ने पीएनबी की कर्नलगंज शाखा के प्रबंधक से सांठगांठ कर अक्षय का घर गिरवी रखकर अपने नाम 12 लाख रुपये का लोन ले लिया था। इसकी जानकारी अक्षय को आरसी जारी होने पर हुई। वसूली के लिए तहसील के अफसर बार-बार घर पहुंचते थे। इसी बात को लेकर अक्षय तनाव में रहता था। इसी वजह से उसने खुदकुशी की है। रितिक ने शाखा प्रबंधक व अमरजीत के खिलाफ पिता को आत्महत्या के लिए उकसाने व धोखाधड़ी कर ऋण लेने की तहरीर धूमनगंज पुलिस को दे दी है।
... और पढ़ें

20 हजार का इनामी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

पुलिस मुठभेड़ में 20 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार
-घेराबंदी कर रही पइंसा पुलिस पर झोंका फायर, पैर में गोली लगने से हुआ घायल
कोई पुलिस कर्मचारी हताहत नहीं, बदमाश को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती
पइंसा। पइंसा पुलिस ने शुक्रवार रात मुठभेड़ के दौरान 20 हजार रुपये के इनामी जुल्फेकार को गिरफ्तार कर लिया। घेराबंदी कर रही पुलिस पार्टी पर उसने चार राउंड फायर झोंका । जवाबी गोलीबारी में पैर में गोली लगते ही घायल होने के बाद पुलिस ने उसे धर दबोचा। चर्चित बदमाश के खिलाफ जिले के साथ फतेहपुर में भी तीन दर्जन से अधिक संगीन मामले दर्ज हैं। घायलावस्था में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पइंसा इलाके के थोन गांव का जुल्फेकार पुत्र इश्तेयाक 20 हजार रुपये का इनामी है। उसके खिलाफ कौशाम्बी के साथ फतेहपुर में भी हत्या लूट, हत्या के प्रयास समेत करीब तीन दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं। पइंसा पुलिस लूट के एक मामले में लगभग दो महीने से उसकी तलाश कर रही थी। इसी बीच शुक्रवार रात एसओ संजय गुप्ता को सूचना मिली कि बदमाश जुल्फेकार इलाके के खूझा गांव में किसी से मिलने आया है। खबर मिलते ही फोर्स के साथ उन्होंने घेराबंदी कर दी। एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि पुलिस टीम को देखते ही बदमाश ने तमंचे से फायर करना शुरू कर दिया। तकरीबन चार राउंड गोलीबारी करने के बाद जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। दाहिने पैर में गोली लगते ही बदमाश खून से लथपथ होकर गिर पड़ा। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। बदमाश के कब्जे से एक अदद तमंचा के साथ पांच कारतूस बरामद किया गया है। पुलिस ने घायलावस्था में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। एसपी प्रदीप गुप्ता का कहना है कि पूछताछ के बाद आरोपी बदमाश को जेल भेजा जाएगा। कौशाम्बी पुलिस ने फतेहपुर से भी उसका आपराधिक रिकार्ड तलब कर लिया है। उधर, शाम ढलते ही हुई गोलीबारी से ग्रामीणों के बीच दहशत फैल गई। बदमाश ने चार तो पुलिस ने लगभग छह राउंड गोली चलाई थी। ऐसे में ग्रामीणों को लगा कि गैंगवार हो गया है। बाद में एसपी खुद मौके पर पहुंचे। उन्होंने जांच के बाद प्रधान सहित अन्य ग्रामीणों को बुलाकर हकीकत से अवगत कराया। तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली।
... और पढ़ें

कच्चा मकान ढहा, मासूम की मौत, दो घायल

कच्चा मकान ढहा, मासूम की मौत, दो घायल
चायल तहसील क्षेत्र के सिंहपुर गांव की घटना, कोहराम
चायल। तहसील क्षेत्र के सिंहपुर गांव में गुरुवार शाम बारिश से जर्जर हुआ एक कच्चा मकान अचानक भरभराकर जमींदोज हो गया। इसके मलबे में दबने से एक मासूम बच्ची की मौत हो गई। उसके साथ खेल रहे दो अन्य बच्चे घायल हो गए। घटना से पीड़ित परिवार में कोहराम मच गया है।
सिंहपुर निवासी गुरुप्रसाद उर्फ रामनारायण केसरवानी पुत्र शारदा प्रसाद मजदूरी करके परिवार का खर्च चलाता है। आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के कारण उसका मकान कच्चा बना हुआ है। गुरुवार शाम गुरुप्रसाद की बेटियां कशिश (7) व निम्मी पड़ोसी सोम पुत्र श्यामबाबू के साथ घर पर खेल रही थीं। तभी बारिश से जर्जर कच्चा मकान अचानक भरभराकर ढह गया। भीतर खेल रहे तीनों बच्चे इसके मलबे में दब गए। दुर्घटना देख मौके पर पहुंचे ग्रामीणों की मदद से परिजनों ने मलबा हटाकर किसी तरह बच्चों को बाहर निकाला। हालांकि इससे पहले ही कशिश की मौत हो चुकी थी। घायल दोनों बच्चों को स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने जांच के बाद मृतका का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना की जानकारी दिए जाने के बाद भी करीब दो घंटे तक राजस्व विभाग का कोई अधिकारी अथवा कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा था। इसे लेकर ग्रामीणों में नाराजगी देखने को मिली।
death of a girl child in demolition of
death of a girl child in demolition of- फोटो : KAUSHAMBI
... और पढ़ें

दहेज के लिए विवाहिता को पीट, घर से निकाला

दहेज के लिए विवाहिता को पीटा, घर से निकाला
पति समेत तीन पर एफआईआर, पइंसा कोतवाली क्षेत्र के बंबूपुर गांव का मामला
अमर उजाला ब्यूूरो
मंझनपुर। पइंसा कोतवाली क्षेत्र के बंबूपुर गांव में ब्याही एक महिला को दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालियों ने घर से निकाल दिया। इससे पहले उसकी पिटाई भी की। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी पति समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
बंबूपुर गांव की काजल पुत्री वीरेंद्र ने बताया कि उसका विवाह करीब दो साल पहले तान सिंह से हुआ था। आरोप है कि शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर ससुराली विवाहिता को प्रताड़ित करने लगे। इसकी जानकारी होने पर रिश्तेदारों ने पंचायत की। सभी ने ससुुराल वालों को समझाया, लेकिन उनके रवैये में सुधार नहीं हुआ। पीड़िता की मानें तो पखवाड़े भर पहले दहेजलोभियों ने उसकी पिटाई की। इसके बाद घर से निकाल दिया। मायके वालों ने एक दफा फिर समझौते का प्रयास किया। बात नहीं बनने पर पीड़ित महिला ने पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने आरोपी पति तान सिंह, ससुर नथन व सास फूल कुमारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है।
... और पढ़ें

सीबीआई का खौफ नहीं, सीज बालू बेच रहे माफिया

सीबीआई का खौफ नहीं, सीज बालू बेच रहे माफिया
पिपरी इलाके के उमरवल घाट पर वर्ष 2012 में सीज की गई थी चार बीघे में डंप बालू
ग्रामीणों का आरोप, शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं कर रहे अधिकारी
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर/चायल। दोआबा के बालू माफिया को सीबीआई का जरा भी खौफ नहीं है। तभी तो पिपरी के उमरवल घाट पर सात साल पहले सीज की गई करोड़ों की अवैध बालू अब बेखौफ होकर बेची जा रही है। ऐसा नहीं कि इसकी जानकारी अफसरों को नहीं है। ग्रामीणों की शिकायत के बाद भी वह हाथ पर हाथ धरे बैठे हुए हैं।
यमुना नदी के उमरवल घाट पर वर्ष 2012 में तिल्हापुर के एक माफिया ने अवैध खनन कराया था। उसने उमरवल गांव के बाहर तपस्वी बाबा के मंदिर के समीप तकरीबन चार बीघा भूमि में बालू डंप करा दी थी। बताया जाता है कि यह बालू करीब चार सौ ट्रक है। तब ग्रामीणों की शिकायत पर तत्कालीन एसडीएम चायल व खान निरीक्षक ने पूरी बालू सीज कर दी थी। सात साल बाद अब माफिया ने सीज हुई बालू को फिर से बेचना शुरू कर दिया है। पूरी बालू की कीमत करोड़ों में बताई जा रही है। बताया जाता है कि 4 दिनों से लगातार बालू का उठान हो रहा है। मजदूर दिन-रात ट्रकों, डंपरों में बालू लोड करते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि तिल्हापुर निवासी बालू माफिया ने उमरवल गांव के ही एक व्यक्ति को बालू बेचने का जिम्मा दिया है। सीज बालू बेचने में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हो, इसके लिए किसी दूसरे घाट से डंप का रवन्ना ले लिया जाता है। इसके बाद अवैध बालू लदे वाहन बेखौफ होकर सड़कों पर फर्राटा भरते हैं। गांव के लोगों का साफ कहना है कि इसकी शिकायत कई बार स्थानीय पुलिस-प्रशासन से की गई, लेकिन सांठगांठ होने के कारण किसी ने इस तरफ ध्यान देना ठीक नहीं समझा।
-----
दो वर्ष पूर्व बाढ़ में डूब गई थी बालू
चायल। सीज की गई बालू दो वर्ष पूर्व यमुना नदी की बाढ़ में डूब गई थी। जलस्तर कम होने के बाद बालू के ऊपर करीब एक फीट तक मिट्टी जम गई थी और उसमें बड़ी-बड़ी जंगली घास उग गई थी। जिस वजह से ऊपर से देखने में बालू दिखती ही नहीं थी। बालू माफिया अब ऊपर की मिट्टी हटाकर धड़ल्ले से बालू निकालकर बेच रहे हैं।
-----
2017 से चल रही सीबीआई जांच
मंझनपुर। कौशाम्बी में बालू के अवैध खनन की जांच वर्ष 2017 से चल रही है। उमरवल में सीज बालू भी जांच के दायरे में है। जांच को आई सीबीआई टीम ने उमरवल जाकर सीज बालू का निरीक्षण भी किया था। बड़ी बात है कि माफियाओं को सीबीआई का भी खौफ नहीं है। वह खुलेआम सीज बालू बेच रहे हैं।
-----
इनका कहना है
सीज बालू बेचे जाने की जानकारी नहीं है। ऐसा है तो यह गंभीर बात है। जांच कराकर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अधिकारियों से बातचीत कर एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी।- पवन त्रिवेदी-इंस्पेक्टर, पिपरी
... और पढ़ें

बरसात और बाढ़ ले डूबी सवा दो करोड़ रुपये की फसल

बरसात और बाढ़ ले डूबी सवा दो करोड़ रुपये की फसल
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। गंगा-यमुना व ससुर खदेरी नदी के उफान और सितंबर महीने में हुई मूलसाधार बरसात ने करीब सवा दो करोड़ की फसल बर्बाद कर दी। जिले की तीनों तहसील से आई रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है। अब प्रशासन पीड़ित किसानों को जल्द से जल्द मुआवजा मुहैया कराने के लिए जरूरी औपचारिकताएं पूरी करने में जुटा है।
जिले की सिराथू तहसील से होकर गंगा नदी बहती है। गंगा में उफान तो था, लेकिन कछार में सब्जियों की फसल को ज्यादा नुकसान पहुंचा। सबसे ज्यादा नुकसान यमुना और उससे जुड़ी किलनहाई नदी ने नुकसान पहुंचाया। यमुना ने तो किसान को डुबोया ही, साथ ही किलनहाई ने भी काफी नुकसान पहुंचाया। नदियों का उफान थम भी नहीं सका था कि सितंबर के अंतिम पखवाड़े ने भी बची कसर को पूरी कर दी। नदियों से फसल की तबाही देख चुके किसानों के बाद मैदानी इलाके के खेत भी पानी से जलमग्न हो गए। किसानों को हुए नुकसान को लेकर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने अफसरों की टीम लगाकर खेती को हुए नुकसान का आंकलन कराया। अपर जिलाधिकारी कार्यालय में तीनों तहसीलों से आई रिपोर्ट पर गौर करें तो यहां यमुना व बरसात के कारण करीब दो करोड़ 13 लाख रुपये की फसलों को नुकसान हुआ है। फसलों को हुए नुकसान के बाद अब राजस्वकर्मी किसानों को मुआवजा भुगतान कराने की दिशा में तेजी से प्रयास कर रहे है। पैसा किसान के सीधे खाते में ट्रेजरी से भेजा जा रहा है। ज्यादातर पीड़ित किसानों के खाते में पैसा पहुंच भी चुका है।
---
15 लोगों की हो चुकी है मौत
मंझनपुर। बरसात के दौरान घर गिरने या फिर बिजली गिरने के कारण 15 लोगों की मौत हुई है। सभी परिवारों को मुआवजा देने की पहल शुरू हो गई है। कुछ पीड़ित परिवारों को मुआवजे की राशि भी उपलब्ध कराई जा चुकी है।
------
इनका कहना है
जिन लोगों के घर या खेती का नुकसान हुआ है, उनके खाते में ट्रेजरी से पैसा 25-25 के ग्रुप में ट्रांसफर किया जा रहा है। अगर खाता नंबर गलत फीड हो गया है तो दिक्कत आती है। फिलहाल मुआवजे से वंचित सभी परिवारों को आच्छादित किया जा रहा है।-मनोज, अपर जिलाधिकारी
... और पढ़ें

आवास के लिए ग्रामीणों ने विधायक कार्यालय में किया प्रदर्शन

आवास के लिए ग्रामीणों ने विधायक कार्यालय में किया प्रदर्शन
मूरतगंज ब्लॉक के फदिलाबाद का मामला, प्रधान-सेक्रेटरी पर मनमानी का आरोप
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं दिए जाने से भन्नाए फदिलाबाद गांव के ग्रामीणों का गुस्सा रविवार को फूट पड़ा। आक्रोशित गांव वालों ने चायल विधायक के कार्यालय पर प्रदर्शन किया। प्रधान-सेक्रेटरी पर मनमानी का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। बताया कि पात्रों को आशियाना नहीं दिए जाने पर जिलाधिकारी का घेराव किया जाएगा।
मूरतगंज ब्लॉक के फदिलाबाद गांव निवासी बाबूलाल, राकेश दिवाकर, अर्जुन सिंह, सुखलाल, चमनलाल, दर्शनलाल, अवधेश कुमार, विकास यादव आदि ने बताया कि प्रधान-सेक्रेटरी ने मनमानी की हद कर दी है। सांठगांठ करके वह चहेतों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिला रहे हैं। जबकि उनके करीबी अपात्र हैं। इन लोगों के पास गाड़ी, घर, दौलत, शोहरत सबकुछ पहले से ही है। वहीं पात्रों को योजना से वंचित किया जा रहा है। ग्रामीणों की मानें तो मीना देवी, कैलसिया, सरस्वती सिंह, जुगलाल, अवधेश कुमार, सीता देवी आदि के पास सिर छिपाने की जगह नहीं है। जर्जर हो चुके कच्चे मकान में यह सब जान जोखिम में डालकर गुजर-बसर कर रहे हैं। बताया कि आवास के लिए आवेदन किया था, लेकिन प्रधान-सेक्रेटरी की मनमानी के चलते पात्रता सूची में नाम ही नहीं आया। इसी बात से नाराज गांव वालों ने रविवार को विधायक कार्यालय में प्रदर्शन किया और पात्रों को आवास दिलाने के साथ प्रधान-सेक्रेटरी के खिलाफ कार्रवाई कराने की मांग की। विधायक संजय गुप्ता सभी को घर दिलाने के साथ आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कराने का भी भरोसा दिलाया है।
... और पढ़ें

संदिग्ध दशा में फांसी पर लटका मिला विवाहिता का शव

संदिग्ध दशा में फंदे से लटका मिला विवाहिता का शव
चायल। चरवा कोतवाली के धमसेढ़ा गांव में शनिवार दोपहर संदिग्ध दशा में एक महिला का शव फंदे से लटकता मिला। परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।
बताया जाता है कि धमसेढ़ा गांव निवासी मूलचंद्र खेती करता है। उसका पत्नी मीना देवी से शनिवार दोपहर किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। विवाद के कुछ देर के बाद मीना का शव कमरे के अंदर चुल्ले से लटकता मिला। यह देख परिजनों के होश उड़ गए। उन्होंने पड़ोसियों की मदद से शव को फंदे से नीचे उतारा। परिजनों ने करीब दो घंटे में ही अंतिम संस्कार कर दिया। आरोप है कि घटना की जानकारी ससुरालियों ने मृतक के मायके में भी नहीं दी है। इंस्पेक्टर राधेश्याम वर्मा का कहना है कि मामले की जानकारी नहीं है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

भाजपा के कद्दावर नेता के भतीजे को बनाया बंधक

भाजपा के कद्दावर नेता के भतीजे को बनाया बंधक
पानी के लिए परेेशान ग्रामीणों का फूटा गुस्सा, दो कोतवाली की फोर्स ने बचाया
मनमानी पर उतारू नलकूप ऑपरेटर के समर्थन में लाव लश्कर के साथ पहुंचा था भतीजा
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। मनमानी पर उतारू नलकूप ऑपरेटर के समर्थन में लाव लश्कर के साथ घटमापुर पहुंचना एक कद्दावर भाजपा नेता के भतीजे को महंगा पड़ा। बदसलूकी पर उतारू नेता के भतीजे को ग्रामीणों ने बंधक बनाकर सिराथू-धाता मार्ग पर जाम कर दिया। ग्रामीणों का उग्र रूप देख युवक के साथी भाग निकले। घटना की जानकारी पर सैनी व पइंसा कोतवाली की पुलिस मौके पर पहुंची। किसी तरह से युवक को अपने कब्जे में लिया। इस दौरान नेता के घरवाले भी मौके पर पहुंच गए थे। देर शाम तक किसी भी पक्ष से पुलिस को तहरीर नहीं दी गई थी।
पइंसा कोतवाली के घटमापुर गांव में जल निगम की टंकी से पानी की सप्लाई की जाती है। बताया जा रहा है कि नौ अक्तूबर को यहां लगा स्टार्टर चोरी होने के कारण पानी सप्लाई ठप हो गई। इस वजह से ग्रामीणों के सामने पेयजल का संकट खड़ा हो गया। ग्रामीणों की शिकायत पर जेई जल निगम आशीष सिंह ने यहां तैनात ऑपरेटर सुभाष यादव व ओम प्रकाश द्विवेदी को तलब किया। ओम प्रकाश ने बताया कि जिस दिन स्टार्टर चोरी हुआ है, उस दिन वह अवकाश पर था। पंप में सिराथू निवासी ऑपरेटर सुभाष यादव था। इस पर सुभाष ने 24 घंटे के भीतर दूसरा स्टार्टर लगवाने की बात कही। बताया जाता है कि सुभाष का बेटा राहुल सिराथू के एक कद्दावर भाजपा नेता के यहां काम करता है। शनिवार को भी पंप नहीं चला तो ग्रामीण सुभाष यादव के पास पहुंचे। यहां सुभाष की ग्रामीणों से बहस हो गई। यह बात सुभाष ने फोन करके अपने बेटे राहुल को बताया। राहुल ने भाजपा नेता के भतीजे को घटना के बारे में जानकारी दी तो वह तैश में आ गए। दोपहर करीब दो बजे लाव लश्कर के साथ नेता का भतीजा घटमापुर पहुंचा तो उसकी ग्रामीणों से बहस हो गई। इससे नाराज लोगों ने चक्काजाम कर दिया और नेता के भतीजे को बंधक बना लिया। घटना देख राहुल व उसके अन्य साथी भाग निकले। ग्रामीणों के चक्काजाम करने और नेता के भतीजे को बंधक बनाए जाने की खबर पर पुलिस के हाथ पांव फूल गए। आनन-फानन में पइंसा व सैनी कोतवाली की फोर्स मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने किसी तरह ग्रामीणों की मान-मनौव्वल कर नेता को भतीजे को छोड़वाकर अपने कब्जे में लिया।
---
इनका कहना है
नेता के भतीजे को ग्रामीणों ने बैठा लिया था। मामले में फिलहाल किसी तरफ से तहरीर नहीं दी गई है। इसके कारण कोई कार्रवाई नहीं की गई। नेता के भतीजे को छोड़ दिया गया है।-रामवीर सिंह, सीओ सिराथू
... और पढ़ें

मुकुट पूजन के साथ अजुहा की रामलीला शुरू

मुकुट पूजन के साथ अजुहा की रामलीला शुरू
अजुहा। स्थानीय बाजार की रामलीला का शुक्रवार रात मुकुट पूजन के साथ शुभारंभ हो गया। 10 दिवसीय रामलीला का शुभारंभ सिराथू विधायक शीतला प्रसाद ने किया। पूजा के बाद नारद मोह की लीला का मंचन किया गया।
अजुहा रामलीला का में पंडित महेश्वरी द्विवेदी ने पूजन कराया। पूजा होने के बाद भक्तों ने जय श्रीराम के जयकारे लगाए। रामलीला कमेटी के अध्यक्ष राजेश कुमार केसरवानी ने बताया कि दस दिन लीला प्रसंग दिखाए जाएंगे। इसके बाद दो दिवसीय मेले का आयोजन किया गया है। मंचन चित्रकूट से आए कलाकार कर रहे हैं। मुकुट पूजा के दौरान अजुहा कस्बा सहित आस-पास गांव से भी बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। इस मौके पर चेयरमैन अनिल कुमार निर्मल, ओमप्रकाश कुशवाहा, पंधारी सरोज, रवि कुमार वैश्य, शंकर लाल केसरवानी, गुलाब चंद मौर्य, आशीष कुमार मोदनवाल, विपिन कुमार मोदनवाल, आशीष कुमार चक, अंजनी कुमार पांडेय, डॉ. संतलाल कुशवाहा आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

मनाया गया कोजागिरी का त्योहार

मनाया गया कोजागिरी का त्योहार
छात्राओं ने मिट्टी के बर्तन से छात्रों की उतारी आरती
अमर उजाला ब्यूरो
कड़ा। विकास खंड के पूर्व माध्यमिक व प्राथमिक स्कूल सौरई बुजुर्ग में शनिवार को परंपरागत तरीके से कोजागिरी (ढेड़िया) का त्योहार मनाया गया। छात्राओं ने मिट्टी के जालीदार बर्तन में आरती रखकर साथी छात्रों की बलाएं उतारीं।
स्कूल के प्रधानाध्यापक अजय साहू ने त्योहार के बाबत बताया कि अवध प्रांत की मान्यता है कि जब भगवान राम लंका विजय के बाद अयोध्या पहुंचे तो वहां की महिलाओं ने ढेड़िया से उनकी आरती उतारी। इसी मान्यता के अनुसार यह त्योहार जिले में भी मनाया जाता है। पर्व के दिन बहने अपने भाइयों की आरती उतारती हैं। स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के बाद बच्चों को प्रसाद स्वरूप लाई, गट्टा, फल और चंदिया का वितरण किया गया। इस मौके पर वीरेंद्र शंकर, राम प्रसाद, शशी देवी, ममता देवी, राजेश शर्मा, योगेंद्र यादव, शिवम केसरवानी, अनूप सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

चायल कस्बे के रघुराज बने डिप्टी एसपी, खुशी

चायल कस्बे के रघुराज बने डिप्टी एसपी
पीसीएस की परीक्षा पास कर किया परिवार का नाम रोशन
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। पीसीएस 2017 में चायल कस्बे के रघुराज ने जिले का नाम रोशन किया है। उनका चयन डिप्टी एसपी के पद पर हुआ। इसे लेकर रघुराज व परिजनों के अलावा कस्बे के लोगों ने खुशी का इजहार करते हुए मिठाइयां बांटी।
चायल कस्बे के वार्ड नंबर पांच नईम मिंया का पूरा मोहल्ला निवासी रघुराज अपने पिता की तीसरी संतान हैं। एक भाई और एक बहन से छोटे रघुराज बचपन से ही मेहनत और लगनशील थे। उनके पिता श्रीनाथ सीआईएसएफ में बतौर इंस्पेक्टर मद्रास में तैनात थे। पिता की हार्ट अटैक से मौत होने के बाद उनकी शिक्षा में काफी रुकावट आई। लेकिन समय रहते ही बड़े भाई जगन्नाथ ने रघुराज के साथ ही पूरे परिवार के लिए पिता की जिम्मेदारी निभाई। पिता के स्थान पर नौकरी कर बड़े भाई जगन्नाथ ने रघुराज को पढ़ाया। पढ़ाई के दौरान ही रघुराज का चयन भारतीय खाद्य निगम में बतौर इंस्पेक्टर फरीदाबाद में पोस्टिंग हो गई। यहीं पर वह नौकरी के दौरान ही सिविल सेवा की तैयारी करते हुए वर्ष 2017 का पीसीएस एग्जाम दिया। गुरुवार को परीक्षा परिणाम आया तो रघुराज व उनके परिजन खुशी से उछल पड़े। रघुराज इस समय फरीदाबाद में है। बताते हैं कि बचपन से ही वह पिता के सपनों को पूरा करने के लिए डिप्टी एसपी बनने की तैैयारी में लगे थे। इस सफलता के लिए रघुराज अपनी माता और बहन बेबी व भाई जगन्नाथ को पूरा श्रेय देते हैं।
... और पढ़ें

औषधीय खेती से कमाएं लाभ

औषधीय खेती से कमाएं लाभ
उद्यान विभाग की तरफ से कलक्ट्रेट में किसानों को दिया जा रहा प्रशिक्षण
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। जिले के किसान परंपरागत खेती से हटकर औषधीय खेती के जरिए ज्यादा लाभ कमा सकते हैं। तुलसी, एलोवेरा और सतावर की खेती कर जिले के कई किसानों ने बेहतर लाभ कमाया है। ये बातें उप निदेशक उद्यान प्रयागराज मंडल डॉ. विनीत कुमार ने किसानों के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में शनिवार को शुभारंभ करते हुए कही।
प्रशिक्षण में मौजूद में किसानों से कहा कि जिले के सिघिया निवासी राम बहादुर ने तुलसी, रामचंद्र व अवधेश पाल ने सतावर की खेती करके बेहतर लाभ कमाया गया। प्रशिक्षण में मौजूद इन प्रगतिशील किसानों से उनके उपज तैयार करने के तरीके से बारे में भी अनुभव साझा कराया गया। उद्यान अधिकारी सुरेंद्र राम भाष्कर ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में 10 हेक्टेयर में सतावर व 20 हेक्टेयर में एलोवेरा लगवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। परंपरागत खेती से हटकर इस औषधीय खेती के करने से किसानों को तीन से चार गुना लाभ हो सकता है। प्रशिक्षण के पहले दिन किसानों को कृषि विश्वविद्यालय नैनी के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. शैलेष सिंह और विशेषज्ञ डॉ. जीतेंद्र प्रताप ने उपज लेने के तरीके के बारे में बताया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में इंद्रमणि यादव, जब्बार असगर, प्रमोद कुमार सिंह, आदित्य कुमार आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree