बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

फरियादी काट रहे कार्यालयों के चक्कर, नहीं मिल रहा इंसाफ

Allahabad Bureau इलाहाबाद ब्यूरो
Updated Wed, 17 Feb 2021 12:36 AM IST
विज्ञापन
Complaints of offices being cut with complaints, justice not available
Complaints of offices being cut with complaints, justice not available - फोटो : KAUSHAMBI
ख़बर सुनें
आमजन को सुलभ न्याय दिलाने के लिए शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल समाधान दिवस पर भी लोगों की समस्याएं हल नहीं हो रही हैं। त्वरित इंसाफ की चाहत में समाधान दिवस पर पहुंचने वालों को सिर्फ मायूसी हाथ लग रही है। सबसे ज्यादा दिक्कतें राजस्व से जुड़े मामलों में आ रहीं हैं। मंगलवार को चायल तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस पर जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह व एसपी अभिनंदन के सामने कुछ ऐसे मामले आए जिनके फरियादी कई वर्षों से इंसाफ के लिए चक्कर लगा रहे हैं। कई फरियादियों ने अमर उजाला से अपना दर्द साझा किया।
विज्ञापन

जमीन पर कब्जे की शिकायत लेकर साल भर से भटक रही जया
सरायअकिल कोतवाली के बरई गांव में रहने वाली जयलता त्रिपाठी पुत्री प्रकाश चंद्र पेशे से अधिवक्ता हैं। जयलता का कहना है कि उसकी भूमिधरी जमीन पर कुछ लोग कब्जा कर रहे हैं। पिछले एक साल से वह पुलिस और प्रशासन के अफसरों से शिकायत कर रही है। हर बार सिर्फ जांच का आश्वासन दिया जाता है। अब तक उसकी जमीन पर हुए कब्जे को हटवाया नहीं गया।

डिक्री के बाद भी आदेश पर नहीं कराया जा रहा अमल
कुपोषण के खात्मे व टीकाकरण को लेकर बाल विकास विभाग की चलाई जा रही मुहिम में ब्रांड एंबेंसडर रहे छीतापुर आदमपुर नादिर अली गांव के सेवानिवृत्त शिक्षक हयातउल्ला चतुर्वेदी का भी समाधान दिवस दर्द छलक उठा। बुजुर्ग हयातउल्ला ने बताया कि भूमि संबंधी एक मामले में दो साल पहले उनके हक में डिक्री हो चुकी है। इसके बाद भी अफसर आदेश पर अमल नहीं करा रहे हैं। जिसकी वजह से वह लगातार अफसरों के कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं।
तीन साल से नहीं हटा सका कब्जा
चरवा कोतवाली के सिरियावां गांव के अनीस रिजवी ने बताया कि वह अपनी भूमिधरी पर अवैध कब्जे को हटवाने के लिए पिछले तीन सालों से तहसील व पुलिस के अफसरों से शिकायत करते चले आ रहे हैं। समाधान दिवस पर कई बार शिकायत की गई। समाधान दिवस की करीब 36 रिसीविंग उसके पास हैं। इसके बाद भी अब तक उसकी जमीन से अवैध कब्जा नहीं हटवाया गया।
आवास के लिए दो साल से भटक रहा गरीब
तहसील के पन्नोई गांव निवासी पंकज कुमार दिव्यांग हैं। पंकज के मुताबिक वह मेहनत मजदूरी नहीं कर सकता। एक आवास के लिए वह दो साल से तहसील और ब्लॉक के अधिकारियों के यहां चक्कर काट रहा है, लेकिन अभी तक उसको आवास नहीं मिल सका। हर बार प्रार्थना पत्र लेकर अफसर जांच पर जांच करा रहे हैं।
त्वरित न्याय के लिए 103 ने की शिकायतें,12 को मिला इंसाफ
जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने मंगलवार को चायल तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस पर आमजन की समस्याएं सुनीं। इस दौरान 103 लोगों ने अपनी समस्याओं को लेकर प्रार्थना पत्र दिया। जिसमें 12 मामलों का त्वरित निस्तारण कर दिया गया। बाकी प्रार्थना पत्रों को निस्तारित करने के लिए संबंधित विभागीय अफसरों को निर्देशित किया गया।
जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने कहा कि शिकायतों का समय से निस्तारित किया जाए। शिकायती पत्रों के निस्तारण में गुणवत्ता का ख्याल रखा जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। इस दौरान एसडीएम चायल ज्योति मौर्या, सीओ श्यामकांत आदि मौजूद रहे।
विभिन्न विभागों ने स्टॉल लगाकर दी योजनाओं की जानकारी
मंझनपुर। संपूर्ण समाधान दिवस पर तहसील परिसर में स्वास्थ्य विभाग, दिव्यांगजन कल्याण विभाग, समाज कल्याण विभाग समेत अन्य विभागों के स्टॉल लगाए गए थे। यहां लोगों को विभाग की तरफ से संचालित योजनाओं की जानकारी दी गई। डीएम ने स्टॉलों का निरीक्षण किया।
सीएचसी का संचालन नहीं होने पर जताई नाराजगी
समाधान दिवस पर डीएम अमित कुमार सिंह को पता चला कि महीने भर पहले दिए निर्देश के बावजूद अभी तक चायल सीएचसी का संचालन नहीं शुरू हुआ है। इस पर डीएम खुद सीएचसी का निरीक्षण करने पहुंच गए। करोड़ों रुपये की लागत से तैयार सीएचसी बंद मिला। चिकित्सक और मेडिकल स्टाफ अस्पताल में नहीं थे। इस पर डीएम ने सीएमओ डॉ. पीएन चतुर्वेदी से सवाल किया।
संतोषजनक जवाब नहीं मिलने से नाराज डीएम ने नाराजगी जताते हुए एक सप्ताह के अंदर अस्पताल संचालित करने की चेतावनी दी। साथ ही खंड विकास अधिकारी और जेई आरईएस को निर्देशित किया कि अस्पताल में आवागमन और अन्य प्रकार की सुविधाओं के लिए स्टीमेट तैयार करें।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X