राष्ट्रीय लोक अदालत की बनी रूपरेखा

Kaushambi Updated Sun, 26 Jan 2014 05:43 AM IST
मंझनपुर। राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय मेगा लोक अदालत को लेकर शनिवार को जनपद एवं सत्र न्यायालय परिसर में बैठक हुई। इसमें न्यायिक अधिकारियों के अलावा तहसीलदारों ने हिस्सा लिया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के नोडल अधिकारी ने 12 मार्च को होने जा रही राष्ट्रीय और राज्यस्तरीय मेगा लोक अदालत के तैयारियों की समीक्षा की। तहसीलदारों को लोक अदालत से संबंधित टिप्स भी दिए।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के नोडल अधिकारी राम किशोर शुक्ला ने शनिवार को तहसीलदारों की बैठक ली। इसमें 12 मार्च को मंझनपुर में होने जा रही राष्ट्रीय और राज्यस्तरीय मेगा लोक अदालत की समीक्षा की। तहसीलदारों को नियत समय में ज्यादा से ज्यादा वादों के निस्तारण का निर्देश दिया। लोक अदालत में बड़ी संख्या में वादों को खत्म करने का आह्वान किया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव सुरजन सिंह ने राष्ट्रीय और लोक अदालत पर विस्तार से प्रकाश डाला। साथ ही तहसीलदारों से सहयोग का आह्वान किया। इस मौके पर सदर के संतोष कुमार, सिराथू के सुरेंद्र बहादुर सिंह, चायल के सुरेंद्रनाथ सिंह आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के कौशांबी से सामने आया फोन पर तीन तलाक का मामला

सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद तीन तलाक के मामले खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बार यूपी के कौशांबी से तीन तलाक का मामला सामने आया है।

10 जनवरी 2018