एनएसयूआई नेता को मिली धमकी से भड़के कांग्रेसी

Kaushambi Updated Tue, 20 Nov 2012 12:00 PM IST
मंझनपुर। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के जिलाध्यक्ष और मंझनपुर से सभासद अंशुल केसरवानी को दी गई जानलेवा धमकी से भड़के कांग्रेसियों ने सोमवार को डीएम को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। आरोप लगाया कि शिकायत करने के बाद भी पुलिस चुप्पी साधे है। चेताया कि यदि गिरफ्तारी नहीं की गई, तो कांग्रेसी सड़क पर उतरने को बाध्य होंगे। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) के जिलाध्यक्ष और मंझनपुर के सभासद अंशुल केसरवानी को दीपावली के दिन किसी ने फोन करके जान से मारने की धमकी दी थी। जिसकी शिकायत नगर कोतवाली और पुलिस अफसरों से की गई। आरोप है कि तहरीर देने के बाद भी पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है। पुलिस की खामोशी से भड़के कांग्रेसियों ने सोमवार को जिलाध्यक्ष इशरत अजीम की अगुवाई में कलेक्ट्रेट जाकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। साथ ही धमकी देने वाली की जल्द गिरफ्तारी की मांग की गई। पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते कलेक्ट्रेट पहुंचे कांग्रेसियों ने चेतावनी दी है कि यदि कार्रवाई नहीं हुई, तो कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर चक्काजाम को मजबूर होेंगे। इस मौके पर पीसीसी सदस्य रमेश अग्रहरि, सत्येंद्र प्रताप सिंह, शाहिद सिद्दीकी, कौशलेश द्विेदी, पप्पू मिश्रा, महेंद्र गौतम, वीरेंद्र सिंह, संतोष केसरवानी, विपिन कुमार, सुमित केसरवानी आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के कौशांबी से सामने आया फोन पर तीन तलाक का मामला

सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद तीन तलाक के मामले खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बार यूपी के कौशांबी से तीन तलाक का मामला सामने आया है।

10 जनवरी 2018