सौर ऊर्जा ही बिजली समस्या का समाधान

Kaushambi Updated Sun, 28 Oct 2012 12:00 PM IST
मंझनपुर। सौर ऊर्जा और गोबर गैस प्लांट ही बिजली समस्या का समाधान है। यह बात बैनर, पोस्टर और स्लोगन के माध्यम से छात्राओं ने कही। लड़कियों ने मंझनपुर से सटे छोकरियन का पुरवा गांव में ग्रामीणों को सौर ऊर्जा की जानकारी दी।
राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस की ओर से दुर्गा देवी इंटर कालेज ओसा (मंझनपुर) में ऊर्जा की संभावनाएं: पहचान और अध्ययन विषय पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें भाग लेने वाली छात्राएं प्रोजेक्ट समूह की प्रमुख सुस्मिता पांडेय के साथ शनिवार को छोकरियन का पुरवा गांव गई। इस दौरान लड़कियों ने बिजली की समस्या का देखा-समझा। गांववालों ने छात्राओं को बताया कि गांवों में ट्रांसफार्मर फुंकने, लो-वोल्टेज, ट्रिपिंग आदि से लोगाें को नियमित बिजली नहीं मिल पा रही है। इससे लोगों की दिनचर्या प्रभावित हो रही है। छात्राओं ने सूर्य से मिलने वाली ऊर्जा और गोबर गैस प्लांट को समस्या का समाधान बताया। सुस्मिता पांडेय ने नेडा के अधिकारी से फोन पर वार्ता करके उन्हें गांव की समस्या से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि गांव की आबादी 835 है। जबकि बिजली कनेक्शन सिर्फ 20 हैं। इससे गांव में सौर ऊर्जा की अपार संभावनाएं हैं। छात्राओं ने लोगों को अक्षय ऊर्जा की जानकारी भी दी। इस मौके पर प्रीतम चौरसिया, अंकिता यादव और सुधा मैर्या आदि लड़कियां मौजूद रही।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के कौशांबी से सामने आया फोन पर तीन तलाक का मामला

सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद तीन तलाक के मामले खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बार यूपी के कौशांबी से तीन तलाक का मामला सामने आया है।

10 जनवरी 2018