विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: दो प्रवासी श्रमिकों ने की आत्महत्या, लॉकडाउन के कारण आर्थिक तंगी से थे परेशान

यूपी के बांदा जिले में लॉकडाउन के बीच अपने घर पहुंचे दो प्रवासी श्रमिकों ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। मटौंध थाना क्षेत्र में बुधवार को एक युवक का पेड़ से लटका शव मिला तो पैलानी थाना क्षेत्र में दूसरे श्रमिक ने अपने घर के कमरे में फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया। मृतक के परिजन व गांव के लोग श्रमिकों के आत्महत्या की वजह आर्थिक संकट बता रहे हैं।

पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है। मटौंध थाने के प्रभारी निरीक्षक रामेंद्र तिवारी के अनुसार, थाना क्षेत्र के लोहरा गांव निवासी सुरेश (22) का शव बुधवार को खेत में लगे एक पेड़ से लटकता मिला।

वह लॉकडाउन में दिल्ली में फंसा था और पांच दिन पूर्व ही अपने गांव लौटा था। मृत युवक के परिजनों का कहना है कि, दिल्ली से लौटने के बाद सुरेश के पास खर्च के लिए पैसे नहीं थे, जिसके चलते उसने फांसी लगा ली।

ऐसी ही दूसरी घटना पैलानी थाना क्षेत्र के सिंधन कलां गांव की है। यहां दस दिन पहले मुंबई से लौटे प्रवासी श्रमिक मनोज (20) ने बुधवार को अपने घर के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। पड़ोसी अभिलाष के अनुसार, मनोज मुंबई में एक निजी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता था। लेकिन लॉकडाउन होने के बाद उसकी कंपनी बंद हो गई।

जिससे वह गांव लौट आया था। उसके माता-पिता की पूर्व में मौत हो चुकी थी और वह अकेला था। मुंबई से लौटने के बाद उसके पास राशन आदि भी खरीदने के लिए धन नहीं था।

पैलानी थाना प्रभारी निरीक्षक बलजीत सिंह ने बताया कि, पोस्टमार्टम कराने के बाद ग्रामीणों ने मृत प्रवासी मजदूर मनोज के शव का अंतिम संस्कार कर दिया है। गांव वाले उसकी आत्महत्या की वजह आर्थिक संकट बता रहे हैं, मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

... और पढ़ें

हमीरपुर: शराब पीकर हंगामा करने वाले हेड कांस्टेबल को एसपी ने किया निलंबित

हरदोई: लापता किशोरी का शव नहर में उतराता मिला, मोबाइल पर बात करते देख भाई ने डांटा था

हरदोई जिले में माधौगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सहिजना से मंगलवार रात से लापता किशोरी का शव मल्लावां कोतवाली क्षेत्र में ऊंचागांव के निकट नहर में उतराता मिला। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पूरे मामले में किशोरी के परिजन डांट से नाराज होकर खुदकुशी किए जाने की बात कह रहे हैं। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की की जाएगी। माधौगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सहिजना निवासी आकांक्षा (17) पुत्री राजबहादुर कक्षा 11 की छात्रा थी।

पिता राजबहादुर खेती करते हैं, जबकि बड़ा भाई विकास लॉकडाउन से पहले तक लखनऊ में प्राइवेट काम करता था। मां इंदिरा देवी का बीती एक मई को बीमारी के चलते निधन हो चुका है। आकांक्षा के बड़े भाई विकास के मुताबिक मंगलवार रात दस बजे वह किसी से मोबाइल पर बात कर रही थी। इस पर उसने डांट दिया और फिर सोने चला गया।

रात लगभग 12 बजे आकांक्षा बिना कुछ बताए घर से चली गई। काफी तलाश करने पर भी परिजनों को कोई सुराग नहीं मिला। गुरुवार सुबह लगभग दस बजे आकांक्षा का शव मल्लावां कोतवाली क्षेत्र में ग्राम ऊंचागांव के निकट नहर में उतराता मिला।

राहगीरों ने शव उतराता देखकर पुलिस को सूचना दी तो मल्लावां कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। ग्रामीणों की मदद से शव को बाहर निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मल्लावा कोतवाल कमलेश कुमार ने बताया कि परिजनों ने फिलहाल कोई आरोप नहीं लगाए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

कानपुरः छह प्रवासियों समेत 13 कोरोना संक्रमित मिले, एक सिपाही भी शामिल

शहर में गुरुवार देररात तक 13 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले। इनमें छह प्रवासियों समेत महाराजपुर थाने का एक सिपाही और डफरिन का कर्मचारी है। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ की माइक्रोबायोलॉजी लैब से देररात 11 कोरोना संक्रमित की सूची जारी की गई। इसे स्टेट पोर्टल पर भी अपडेट कर दिया गया है। 

इससे पहले मेडिकल कालेज की कोविड लैब ने दोपहर में बिल्हौर के एक युवक और एक अज्ञात के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि की थी। अज्ञात का सैंपल हैलट से भेजा गया था। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अब 351 हो गई है।

जिला प्रशासन ने केजीएमयू से जारी सूची की पुष्टि करते हुए जानकारी दी है कि नए संक्रमित  मरीजों में छह प्रवासी कामगार हैं। स्वास्थ्य विभाग ने इनकी रैंडम सैंपलिंग की थी। 

सूची के मुताबिक, महाराजपुर थाने के सिपाही और डफरिन अस्पताल के कर्मचारी के अलावा लक्ष्मपुरवा और बाबूपुरवा की एक-एक महिला के भी संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। बर्रा नई बस्ती  निवासी कोरोना से मृत मरीज के परिवार का एक युवक भी संक्रमित मिला है। 

इसके अलावा नोएडा से आए कल्याणपुर कलां निवासी दंपति, गाजियाबाद से आया लालबंगला की जेके कॉलोनी  निवासी युवक, गाजियाबाद से आए ककवन के फत्तेपुर गांव निवासी पिता-पुत्री, मुंबई से लौटे घाटमपुर के असवारमऊ निवासी अधेड़ की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
... और पढ़ें
demo pic demo pic

कानपुर: 50 हजार प्रवासियों को रोजगार देने की बनी योजना, जाने कैसे मिलेगा रोजगार, काम की खबर

कानपुर में लॉकडाउन के चलते अपना कामधंधा छोड़कर लौटे 50 हजार प्रवासियों को रोजगार देने की योजना तैयार की गई है। इस संबंध में इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन और विधायक सुरेंद्र  मैथानी की तरफ से बृहस्पतिवार को आईआईए कार्यालय में बैठक हुई।

बताया कि यहां से बड़ी  संख्या में कामगार अपने घरों को लौट गए हैं। ऐसे में यहां की इकाइयों में अनुभवी कामगारों की  जरूरत है। बैठक में तैयार किए गए प्रस्ताव में तय हुआ कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप आईआईए कानपुर 50 हजार प्रवासियों को रोजगार देगा।

इसके लिए जरूरतमंद को आईआईए द्वारा जारी की गई वेबसाइट www.iiaonline.in, ईमेल आईडी  [email protected] या दादा नगर स्थित कार्यालय में निशुल्क रजिस्ट्रेशन कराना  होगा।

प्रशिक्षित और अप्रशिक्षित दोनों प्रकार के लोगों को उनकी क्षमता अनुसार काम  मिलेगा। बैठक में तरुण खेत्रपाल, सुनील वैश्य, आलोक अग्रवाल, मनु रस्तोगी, दिनेश परस्तिया,  पार्षद दीपक सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

हरदोई: कोरोना की जांच के लिए बने तीन नए कलेक्शन सेंटर, सैंपल लेने के लिए लैब टेक्नीशियन की ड्यूटी

उत्तर प्रदेश के हरदोई में कोरोना वायरस की जांचों के नमूने लिए जाने को तीन नए कलेक्शन सेंटर बनाने की तैयारी कर ली गई है। बिलग्राम, संडीला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा टोडरपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आलमनगर में भी कलेक्शन सेंटर बनाया गया है।

नमूना लेने के लिए तीनों ही कलेक्शन सेंटर के लिए प्रयोगशाला सहायकों (लैब टेक्नीशियन/एलटी) की ड्यूटी भी लगा दी गई है। न सिर्फ जनपद में बल्कि पूरे प्रदेश और देश में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जनपद में भी अब तक 43 लोग कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। इनमें से छह स्वस्थ्य हो गए हैं, जबकि 36 अभी उपचार करा रहे हैं।
 
... और पढ़ें

हरदोई: डीएम ने किया क्वारंटीन सेंटर का निरीक्षण, बोले हर कमरे में रखा जाए पानी का घड़ा

कानपुर: आरटीओ आफिस में लाइसेंस आवेदकों का हंगामा, वाहनों के कागजों की वैधता 31 जुलाई तक बढ़ी

डीएम ने किया क्वारंटीन सेंटर का निरीक्षण

क्वारंटीन युवक ने लगाई फांसी, बीस मई को दिल्ली से लौटा था, बुधवार को सेंटर से चला गया था घर

फतेहपुर के गाजीपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटीन युवक ने बुधवार रात घर में फांसी लगा ली। आनन-फानन में परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। थाना क्षेत्र के सरकी गांव निवासी पूसू रैदास का बेटा ऋषि (28) दिल्ली में मजदूरी करता था।

वह बीस मई को गांव लौटा था। गांव के प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटीन था। परिजनों ने बताया वह रात को घर आया था। घर वाले उसे सेंटर पर जाने के लिए कहे थे, लेकिन वह घर पर ही रुक गया। सुबह फांसी के फंदे पर बरामदे में शव लटकता मिला।

युवक ने खुद को बुखार पीड़ित होना बताया था। घटना से मां श्यामकली और पत्नी नीलम का हाल बेहाल हो गया। एसओ आशीष सिंह ने बताया कि अफसरों को इसकी सूचना दे दी गई है।
... और पढ़ें

हरदोई: पुलिस पर पथराव में 21 नामजद, पांच गिरफ्तार, एसएचओ समेत पांच पुलिसकर्मी हुए थे घायल

इटावा: श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला की मौत, बेटी-दामाद संग नई दिल्ली से जा रही थी दार्जिलिंग

नई दिल्ली से पश्चिम बंगाल जा रही महिला की गुरुवार को श्रमिक स्पेशल ट्रेन में मौत हो गई। जीआरपी ने पीपीई किट पहनकर शव को उतारा। मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में कोरोना जांच के लिए सैंपल लेकर शव का पोस्टमार्टम कराया गया। प्रशासन से एक एंबुलेंस और एक वाहन की व्यवस्था कराकर शव और परिवार के लोगों को पश्चिम बंगाल भिजवाया। 

पश्चिम बंगाल के कलिंगपोल निवासी कीपा शेरपा (51) पत्नी श्रंग शेरपा 04094 श्रमिक स्पेशल ट्रेन से बुधवार शाम को दिल्ली से दार्जिलिंग के लिए चली थी। उसके साथ दामाद रंजीत के अलावा दो बेटियां और नाती था। रात करीब पौने नौ बजे महिला की तबीयत एकाएक बिगड़ गई। दामाद रंजीत ने बताया कि मुंह से झाग निकलने लगा।

 
... और पढ़ें

हरदोई: छप्पर छाते समय गिरने से किसान की मौत, एक जून को थी बेटे की शादी, मातम में बदली खुशियां

हरदोई के हरियावां थाना क्षेत्र के ग्राम पेरनपुरवा में कंडों के ढेर के ऊपर छप्पर छाते समय सिर के बल गिरने से किसान की मौत हो गई। परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। ग्राम पेरनपुरवा निवासी बाबूराम (58) पुत्र शिवराम खेती करते थे।

बुधवार की देर शाम गांव के बाहर अपने कंडों के ढेर पर छप्पर छा रहे थे। इसी दौरान ऊपर से सिर के बल नीचे आ गिरे। मौके पर ही उनकी मौत हो गई। आसपास काम कर रहे ग्रामीणों ने घटना की सूचना परिजनों को दी। मृतक के पुत्र नरेश ने घटनास्थल पर पहुंच कर अन्य परिजनों और पुलिस को जानकारी दी।

इस पर थानाध्यक्ष अरुणेश गुप्ता ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के छह पुत्र हैं। जिनमें तीन की शादी हो चुकी है। थानाध्यक्ष अरुणेश गुप्ता ने बताया कि परिजनों की सूचना पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। घटना को लेकर कोई आरोप नहीं लगाए गए हैं।

एक जून को जानी थी बेटे की बरात
बाबूराम की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। बाबूराम के चौथे बेटे की शादी एक जून को होनी थी। इसकी तैयारी भी कर ली गई थी। घर में भी उत्साह का माहौल था, लेकिन घटना से परिजनों और परिचितों में शोक की लहर दौड़ गई।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us