लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kanpur News ›   Irfan Solanki Case, Preparation to stop the assembly session, SP MLAs made strategy

Irfan Solanki Case: विधानसभा का सत्र ठप करने की तैयारी, सपा विधायकों ने बनाई रणनीति, सोमवार से है विशेष सत्र

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: हिमांशु अवस्थी Updated Sun, 04 Dec 2022 05:13 PM IST
सार

विधायक इरफान सोलंकी के मामले में सोमवार से शुरू होने वाले तीन दिवसीय विशेष सत्र को ठप करने की तैयारी है। इसके लिए सपा विधायकों ने रणनीति तैयार की है, जिसमें सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी अनुमति ली गई है।

हसन रूमी, इरफान सोलंकी और अमिताभ बाजपेई
हसन रूमी, इरफान सोलंकी और अमिताभ बाजपेई - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

सोमवार से शुरू हो रहे विधानसभा के तीन दिवसीय विशेष सत्र के हंगामेदार होने के आसार हैं। दरअसल, विधायक इरफान सोलंकी के खिलाफ की गई कार्रवाई को लेकर समाजवादी पार्टी के विधायक सत्र ठप करने की तैयारी में हैं।


इसके लिए महानगर के दोनों सपा विधायक अमिताभ बाजपेई और मोहम्मद हसन रूमी की अगुवाई में दो दिनों में पूरी योजना तैयार की गई है। इसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी अनुमति ली गई है। विधायक इरफान सोलंकी पर जाजमऊ डिफेंस कॉलोनी में रहने वाली एक महिला का घर जलाने का आरोप लगा है।

इसके अलावा उन्हें फर्जी आधार कार्ड बनाकर दिल्ली से मुंबई की यात्रा करने के मामले भी गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। समाजवादी पार्टी अपने विधायक पर लगाए गए इन सभी आरोपों को गलत बताते हुए इसे पुलिस की ओर से जल्दबाजी में की गई कार्रवाई बता रही है। 

जिस समय सपा विधायक इरफान पर महिला के प्लॉट कब्जाने और घर में आग लगाने को मुकदमा दर्ज किया गया था, उसी दौरान सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने 11 विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल कानपुर भेजा था। इस प्रतिनिधिमंडल ने जांच के बाद इसे साजिश करार दिया था।  

पहले दिन सत्र में नहीं जा पाएंगे इरफान
सपा विधायक इरफान सोलंकी ने जेल में रहते हुए विधानसभा सत्र में शामिल होने के लिए कोर्ट से अनुमति मांगी है। पता चला है कि अपने वकील के जरिये उन्होंने पूरे कागजात भी तैयार कराए, लेकिन शनिवार को ये कागजात कोर्ट में दाखिल नहीं हो सके।

यह भी पता चला है कि उन्होंने जेल अधीक्षक से भी सोमवार को विधानसभा सत्र में जाने के लिए अनुमति देने का पत्र दिया था, लेकिन मना कर दिया गया। अब सोमवार को फिर से कोर्ट खुलने के बाद यह अर्जी लगाई जाएगी। उसके बाद ही तय हो पाएगा कि बाकी दो दिनों में इरफान विधानसभा सत्र में जा पाएंगे या नहीं।

विधानसभा अध्यक्ष ने स्वीकारी जांच की अर्जी
सपा विधायक अमिताभ बाजपेई ने विधायक इरफान सोलंकी पर की गई कार्रवाई की जांच कराने की मांग विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना से की थी। इस पर विधानसभा अध्यक्ष की ओर से उनकी मांग स्वीकार कर ली गई है। इसके लिए शनिवार शाम विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय से एक पत्र भी अमिताभ को प्राप्त हुआ।

विधायक इरफान सोलंकी पर की गई कार्रवाई पुलिस का बुना जाल है। उनकी पार्टी के विधायक विधानसभा सत्र में पुलिस की इस कार्रवाई के खिलाफ जमकर आवाज उठाएंगे। ऐसे स्थिति में वे लोग विधानसभा सत्र नहीं चलने देंगे।  -अमिताभ बाजपेई, सपा विधायक  

विधायक इरफान को लेकर जिस तरह से पुलिस ज्यादती कर रही है। इस मामले को विधानसभा सत्र में मजबूती से उठाएंगे। अपनी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से यह भी मांग करेंगे। इस मामले में विधायकों की जांच कमेटी बनाई जाए।  -मो. हसन रूमी, सपा विधायक
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00