रोडवेज बसों का बेड़ा 10 हजार करने का आश्वासन

Kanpur Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
कानपुर। यूपी रोडवेज इंपलाइज यूनियन के बैनर तले मेजर सलमान बस अड्डे पर हुई मंडलीय संगोष्ठी का उद्घाटन करते प्रबंध निदेशक आलोक कुमार ने यूनियन की मांग पर बसों का बेड़ा दस हजार करने की सहमति जताई। साथ ही संविदा चालकों और परिचालकों की सुविधाओं (मेडिकल, यात्रा भत्ता) में इजाफे का एलान भी किया। उन्होंने मातहतों से आह्वान भी किया कि राष्ट्रीयकृत मार्गों पर डग्गामार वाहन न चलने पाएं। जब सभी कर्मचारी और अधिकारी यह ठान लेंगे तो विभाग को ऊंचाईयों पर पहुंचाने में कोई नहीं रोक पाएगा।
संगोष्ठी के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री आत्म प्रकाश शुक्ल और विशिष्ट अतिथि मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमिताभ वाजपेयी ने संयुक्त रूप से कहा कि जब परिवहन कर्मचारी यात्रियों को सुविधाओं का ध्यान रखेंगे तो बसें अपने आप हाउसफुल होकर दौड़ेंगी। इंपलाइज यूनियन के प्रांतीय अध्यक्ष रामजी त्रिपाठी ने एलान किया कि उनकी मांगों को न माना गया तो इसके खिलाफ लखनऊ में 30 अक्तूबर-2010 को सभा करके भावी आंदोलन का खुलासा किया जाएगा। एमडी ने इन बातों पर सहमति जताते हुए कहा कि हर संभव प्रयास करके इन मांगों को पूरा कराया जाएगा। पर यह तभी संभव होगा जब कर्मचारी अपने कर्तव्यों का निवर्हन निष्ठा से करें। महामंत्री तेज बहादुर शर्मा ने मृतक आश्रितों को तत्काल नौकरी देने के साथ ही वेतन विसंगतियां दूर करने की मांग रखी। इस मौके पर संगोष्ठी को गया प्रसाद पांडे, रामकिशोर तिवारी, कौशल किशोर पांडे, रविशंकर तिवारी, अमर महेश्वरी, आरके सिंह, अवधेश श्रीवास्तव, वीके त्रिपाठी ने भी संबोधित किया। संगोष्ठी का संचालन शंकर तिवारी ने किया। उधर सर्किट हाउस में सेंट्रल रीजनल वर्कशॉप कर्मचारी संघ के प्रांतीय अध्यक्ष त्रिलोकी व्यास और महामंत्री अंबादत्त त्रिपाठी ने गांधीगीरी कर कर्मचारी समस्याओं के निस्तारण की मांग की।
-------------

परिवर्तन दिखेगा, थोड़ा समय दो
कानपुर। रोडवेज के प्रबंध निदेशक और परिवहन आयुक्त आलोक कुमार से जब संवाददाता ने टेंपुओं की ओवरलोडिंग, खटारा वाहनों को फिट का प्रमाणपत्र, यूनियन से नाता जोड़ समय पर ड्यूटी न आने वाले कर्मचारी और डग्गामार वाहनों को खुली छूट देने जैसे कई मुद्दों पर चर्चा की तो वह बोले कि गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। कोई बिगड़ी व्यवस्था को पटरी पर लाने में थोड़ा समय लगता है।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

आत्महत्या करने से पहले युवती ने फेसबुक पर अपलोड की VIDEO, देखिए

कानपुर के पांडुनगर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसमें एक महिला ने फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर आत्महत्या कर ली। वजह जानने के लिए देखिए, ये रिपोर्ट।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper