मीजान-उल-ईमान ने पदाधिकारी हटाया

Kanpur Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
कानपुर। 17 अगस्त को अलविदा जुमा की नमाज के बाद हुए यतीमखाना से उपद्रव भड़काने के आरोपी मीजान-उल-ईमान के पदाधिकारी मोहम्मद इरफान से संगठन ने किनारा कर लिया है। संगठन के सचिव मोहम्मद नसीब रब्बानी का कहना है कि इरफान ने संगठन को भरोसे में लिये बगैर ऐसा काम किया। इसलिए उनको संगठन की प्राथमिक सदस्यता से निकाल दिया गया है।
उन्होंने बताया कि मोहम्मद इरफान की प्रदर्शन को संबोधित करते हुए अखबारों में फोटो प्रकाशित हुई हैं। एसएमएस के माध्यम से नई सड़क की सुनहरी मसजिद में नमाज पढ़ने की अपील की भी जानकारी संगठन को विश्वास में लिये बगैर की गई। उनका संगठन किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन करने का पैरोकार नहीं है। इरफान को अगर प्रदर्शन करना था तो संगठन के पदाधिकारियों की मीटिंग बुलाकर प्रस्ताव पास कराना चाहिए था। उन्होंने मनमानी की इसलिए उनको संगठन की प्राथमिक सदस्यता से निकाल दिया गया है।

परवेजियों पर मुसलमानों में चखचख
कानपुर। अलविदा जुमा की नमाज के बाद प्रदर्शन की अगुवाई करने वाले ‘परवेजियों’ के संगठन पर मुसलिम बहुल इलाकों में चर्चाओं का बाजार गर्म है।
देवबंदी विचारधारा के नायब शहरकाजी मौलाना मतीनुल हक ओसामा का कहना है कि ‘परेवजी’ हदीस पाक को नहीं मानते, जानवरों की कुरबानी और आलिम से इनकार करते हैं। ऐसा करने वाला मुसलमान नहीं हो सकता है। परवेजी फिरके के लोग कुरान की व्याख्या अपने तरीके से करते हैं। बरेलवी विचारधारा के शहरकाजी मौलाना रियाज अहमद हशमती का कहना है कि इस फिरके का अमल गैरइसलामी है और इसके अनुयायी गुमराह रास्तों पर चल रहे हैं। मुसलमान इस फिरके की जानकारी के लिए मुफ्यिों से भी संपर्क कर रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Pilibhit

पारवलूम इकाइयों के खिलाफ कार्रवाई की मांग

पारवलूम इकाइयों के खिलाफ कार्रवाई की मांग

21 जनवरी 2018

Related Videos

कानपुर में बड़ा हादसा, मिट्टी में दबने से दो मजदूरों की मौत

शनिवार का दिन कानपुर के इन मजदूरों के लिए काल बनकर आया। दो मजदूरों की मौत तब हो गई जब वे शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट की खुदाई कर रहे थे। वहीं तीन मजदूर बुरी तरह घायल हैं।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper