सदन में संग्राम, अफसरों से अभद्रता

Kanpur Updated Sat, 21 Jul 2012 12:00 PM IST
कानपुर। नगर निगम के शपथ ग्रहण समारोह में शुक्रवार को मर्यादाएं तार-तार हो गईं। सपा के वरिष्ठ नेताओं को समारोह में आमंत्रित न करने का आरोप लगाते हुए सपाइयों ने जमकर नारेबाजी और हंगामा किया। नगर आयुक्त ने समझाने की कोशिश की तो उनसे धक्का-मुक्की की गई। इससे भाजपा पार्षद भी उग्र हो गए और सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। दोनों दलों के पार्षद मंच पर पहुंच गए और माइक से नारेबाजी शुरू कर दी। हंगामा देख कमिश्नर और डीआईजी मंच छोड़कर चले गए। नवनिर्वाचित महापौर और नगर निगम के अफसरों ने शांति बनाए रखने की अपील की लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा। जैसे-तैसे पार्षदों को शपथ दिलाई गई और महापौर के संबोधन के बगैर आनन-फानन कार्यक्रम समाप्त कर दिया गया।
लाजपतभवन सभागार में शपथ ग्रहण समारोह के मंच पर नवनिर्वाचित महापौर कैप्टन जगतवीर सिंह द्रोण, निवर्तमान महापौर रवींद्र पाटनी, कमिश्नर शालिनी प्रसाद, डीआईजी अमिताभ यश, केडीए उपाध्यक्ष राम मोहन यादव और नगर आयुक्त एनकेएस चौहान मौजूद थे। शाम करीब सवा चार बजे कमिश्नर ने महापौर श्री द्रोण को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। नगर आयुक्त ने महापौर को अनुशासन और शक्ति की प्रतीक चांदी की गदा भेंट की। इसके बाद महापौर ने पार्षदों को शपथ दिलानी शुरू की। 18-18 पार्षदों के शपथ ग्रहण का चौथा राउंड चल रहा था कि सभागार में सपा नगर अध्यक्ष चंद्रेश सिंह, विधायक इरफान सोलंकी, सुखविंदर सिंह लाडी के नेतृत्व में कई पार्षद आ गए और हंगामा शुरू कर दिया। चंद्रेश ने कैबिनेट मंत्री शिव कुमार बेरिया, अरुणा कोरी व पूर्व सांसद हरमोहन सिंह और वरिष्ठ नेता सुरेंद्र मोहन अग्रवाल को समारोह में आमंत्रित न करने का आरोप लगाया। नगर आयुक्त ने उन्हें समझाने की कोशिश की तो सपाइयों ने उनसे धक्का-मुक्की की। समारोह में अराजकता फैल गई। भाजपा पार्षद सरकार विरोधी नारे लगाने लगे तो कांग्रेसी व कुछ निर्दलीय पार्षद भी उनके साथ हो गए। कमल शुक्ला बेबी, नवीन पंडित, अशोक तिवारी, शमीम आजाद ने बिजली-पानी-सड़क की सुविधा न दे पाने पर सरकार को कोसा। नवीन पंडित ने पोस्टर भी लहराया। सपाइयों ने सबसे आगे आरक्षित सोफे पर बैठे नगर निगम व जलकल विभाग के अफसरों को उठा दिया। आलम ये हो गया कि सपाइयों ने चंद्रेश और इरफान की भी नहीं सुनी। चंद्रेश ने कई सपाइयों को जबरन हटाया। फिर वह मंच पर चढ़ गए और माइक लेकर सपाइयों से शांत रहने की अपील की। हालांकि, दूसरा माइक भाजपाइयों ने संभाल लिया। मंच पर महेंद्र नाथ शुक्ला दद्दा, आदित्य शुक्ला, गौरव जैन, रमापति, राम अवतार प्रजापति, दीप अवस्थी, प्रमोद विश्वकर्मा, सुनीज बजाज जय श्रीराम के नारे लगाने लगे जिससे माहौल फिर गरमा गया। हंगामा देख कमिश्नर शालिनी प्रसाद, डीआईजी अमिताभ यश और केडीए उपाध्यक्ष राम मोहन यादव मंच छोड़कर चले गए। मंच पर अकेले निवर्तमान महापौर पाटनी ही रह गए। महापौर श्री द्रोण और नगर आयुक्त ने शांति बनाए रखने की अपील की लेकिन कोई असर नहीं हुआ। इसी अफरा-तफरी में बाकी बचे पार्षदों को शपथ ग्रहण कराई गई। इसी आपाधापी में राष्ट्रगान हुआ और नवनिर्वाचित महापौर ने शनिवार को नगर निगम व निगम के सभी स्कूलों में अवकाश की घोषणा की और अपने कार्यालय चले गए।

ऐसा कोई मंत्री व जनप्रतिनिधि नहीं है जिन्हें निमंत्रणपत्र न भेजा गया हो। निमंत्रण पत्र भेजने के साथ मैंने सबको व्यक्तिगत रूप से भी फोन कर बुलाया था।
एनकेएस चौहान, नगर आयुक्त

सपा के लोगों ने कार्यक्रम में व्यवधान किया। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। मेरे समझाने पर वह मान गए और कार्यक्रम शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ।
कैप्टन जगतवीर सिंह द्रोण, नवनिर्वाचित महापौर

सपा के लोगों ने जो किया वह ठीक नहीं था। अगर उन्हें कोई परेशानी या शिकायत थी तो बैठकर बात करनी चाहिए थी।
रवींद्र पाटनी, निवर्तमान महापौर

कैबिनेट मंत्री और वरिष्ठ नेताओं को शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित नहीं किया गया। नगर निगम ने आमंत्रण पत्र पार्टी कार्यालय भेजे, माननीयों के घर नहीं। सरकार के लोगों का सम्मान न होने से हम आक्रोशित थे। जब हम लाजपतभवन पहुंचे तो भाजपा का ज्यादा प्रभाव दिख रहा था। हमने विरोध जताया तो भाजपाइयों ने सरकार विरोधी नारे लगाकर सपाइयों को भड़का दिया। हालांकि, बाद में मैंने सपाइयों को शांत करा दिया।
चंद्रेश सिंह, नगर अध्यक्ष समाजवादी पार्टी

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper