‘जिगर के टुकड़ों’ को देख फटे कलेजे

Kanpur Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
कानपुर। विश्व बैंक आई सेक्टर पार्क में कांगड़ा हादसे में शिकार हुए ‘जिगर के टुकड़ों’ के शव पहुंचते ही सिसकियां चीखों में बदल गईं। बेसुध और बदहवास परिजन ट्रक की ओर दौड़ पड़े।.... मेरा लाल, कलेजे का टुकड़ा, तुम मझधार में क्यों छोड़ गए जैसी चीखें हर किसी का कलेजा छलनी कर रहीं थी। किसी के चेहरे पर अपने लाल को खोने का गम था, तो कोई अपने दुधमुंहे बच्चे को गोद में दबाए अपने सुहाग उजड़ने का मातम मना रहा था। चारों ओर कोहराम मचा हुआ था, एक साथ 7 शवों को देखकर लोगों का दिल बैठा जा रहा था।
सोमवार रात से अपनों का इंतजार करती आंखें मंगलवार सुबह से टकटकी लगाए हर आहट पर चौंक जाती थी। दोपहर 2.23 बजे शव वाहन जब बर्रा स्थित आई सेक्टर पार्क पहुंचा तो बदहवास परिजन अपने लाल को देखने के लिए दौड़ पड़े। हिमाचल से वाहन के साथ आए कर्मियों ने परिजनों को शिनाख्त की पोटली दी तो लोग फफक पड़े। लड़खड़ाती जुबान से बोले मेरा लाल कहां है। डबडबाई आंखों से शवों के बीच अपने जिगर के टुकड़े को खोजने लगे। शवों की शिनाख्त के बाद परिजन उन्हें लेकर जाने लगे। तभी ट्रक चालक ने पोस्टमार्टम की पर्ची दी और परिजनों से सुपुर्दगी लिखाई तो परिजनों की जुबान से एक बात निकली हमारा तो सबकुछ उजड़ गया। परिजन शव लेकर चले गए, लेकिन आंसुओं का सैलाब नहीं रुका। क्या पड़ोसी और क्या राहगीर सब आंसू बहाते रहे। लोगों ने कहा मां कांगड़ा मरने वालों की आत्मा को शांति और परिजनों को दुख सहने की हिम्मत दे।
------------------
दर्द बांटने उमड़ी भीड़
कांगड़ा में हादसे के शिकार हुए श्रद्धालुओं के परिजन सुबह 11 बजे बर्रा बाइपास पहुंच गए थे। बाद मेें पता चला कि सिलेंडर वाले पार्क में शव वाहन आएगा तो रोते बिलखते वहां पहुंचे। परिजन इस बीच कई बार चकराकर बेहोश हुए तो कुछ चकराकर सड़क पर गिर पड़े। उन्हें संभालने को दर्जनों हाथ उनकी तरफ बढ़े। उन्हें होश में लाने के लिए कोई भागकर पानी लेकर आया तो कोई हाथ, पैरों की मालिस करने लगा। इस बीच दर्द बांटने वाले लोगों के आंसू भी थमने का नाम नहीं ले रहे थे।

Spotlight

Most Read

National

अयोग्य घोषित 8 विधायक फिर पहुंचे हाईकोर्ट, बोले- हमारा पक्ष नहीं सुना गया 

लाभ के पद के मुद्दे पर सदस्यता गंवाने वाले आम आदमी पार्टी के 20 में से आठ विधायकों ने मंगलवार को हाईकोर्ट में पुन: याचिका दायर कर सदस्यता रद्द करने के निर्णय को गैर कानूनी बताया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper