लिफ्ट के गड्ढे में गिरने से वृद्धा की मौत, बवाल

Kanpur Updated Mon, 18 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
कानपुर। लाजपत नगर स्थित गुरु तेग बहादुर चेरिटेबल हॉस्पिटल में रविवार को बिना दरवाजे वाली लिफ्ट के गड्ढे में गिरकर बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। महिला का शव 5 घंटे तक नीचे ही पड़ा रहा और किसी को पता नहीं चला। बाद में अस्पताल प्रबंधन ने शव बाहर निकाला और उसे ठिकाने लगाने जा रहा था, तभी परिजनों की नजर पड़ गई। इसके बाद परिजनों ने बवाल किया। पुलिस ने उन्हें शांत कराया। परिजनों ने घटना के लिए अस्पताल प्रबंधकों को दोषी मानते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग की। देर शाम तक नजीराबाद थानाध्यक्ष रवींद्र कुमार यादव की मौजूदगी में अस्पताल प्रबंधन समझौते का प्रयास कर रहा था। उधर, अस्पताल के संचालक डॉ. जेपी शर्मा का कहना है कि हादसे की जानकारी दोपहर 2:30 बजे मिली थी। गड्ढे से निकालने के बाद बुजुर्ग महिला को जीवित मानकर उन्हें कार्डियोलॉजी ले जाया जा रहा था, तभी परिजनों ने हंगामा कर दिया।
बर्रा 8 निवासी 60 वर्षीय प्रकाशवती मिश्रा का शव अस्पताल की लिफ्ट के नीचे मिला। बेटे विनय मिश्रा के अनुसार उनके पिता अवध नारायण मिश्रा (70 वर्ष) का हार्निया का ऑपरेशन अस्पताल में हुआ था। उन्हें रविवार को डिस्चार्ज होना था। मां दो दिन से पिता की देखभाल के लिए अस्पताल में थीं। रविवार सुबह 7 बजे के बाद से मां अस्पताल में नहीं दिखीं। परिजनों ने घंटों अस्पताल, आसपास और रिश्तेदारों के घर ढूंढ़ा पर उनका पता नहीं चला। परिजनों ने जानकारी के लिए अस्पताल स्टाफ पर दबाव डाला तो एक कर्मचारी ने लिफ्ट के नीचे मोबाइल की टार्च से देखा। वहां प्रकाशवती का शव पड़ा था। परिजनों आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन ने इसकी जानकारी उन्हें नहीं दी और चुपचाप शव निकालकर एंबुलेंस में रखकर उसे ठिकाने लगाने जा रहे थे। तभी उनकी नजर पड़ गई। विनय के अनुसार हार्निया के मामूली ऑपरेशन के लिए यहां 60 हजार रुपए जमा कराए गए थे, जबकि अस्पताल चैरिटेबिल है।



काकादेव में नर्सिगिं होम में करंट से
बिजली मिस्त्री की मौत, तोड़फोड़

-आगजनी व सड़क जाम के बाद पुलिस ने लाठियां चटकाई
- भाजपा नेता समेत चार लोगों को हिरासत में लिया गया

स्टाफ रिपोर्टर
कानपुर। नमक फैक्ट्री चौराहे पर एक नर्सिगिं होम में बिजली मिस्त्री की करंट लगने से मौत होने के बाद दो घंटे बबाल हुआ। परिवार और मोहल्ले के लोगों ने नर्सिगिं होम प्रबंधन को मौत का दोषी ठहराते हुए पथराव और तोड़फोड़ की। एक्सरे रूम में आग लगा दी। जनरटेर को फूंकने का प्रयास किया। कर्मचारियों को पीटने के बाद डॉक्टर के घर पर भी पथराव कर परिजनों से मारपीट की। सड़क जाम कर नारेबाजी की। कल्याणपुर पुलिस ने लोगों को समझाने का प्रयास किया भीड़ ने पुलिसवालों से भी हाथापाई की। जवाब में पुलिस ने लाठियां चटका कर हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ा। पुलिस ने भीड़ को उकसाने के आरोप में भाजपा से पार्षद पद के प्रत्याशी रामऔतार प्रजापति समेत चार लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने दोनों पक्षों की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर ली है।
काकादेव पी ब्लाक निवासी डॉ. टीपी सिंह का नमक फैक्ट्री चौराहा पर देव आर्थो सेंटर नाम से नर्सिगिं होम है। गणेश नगर, रावतपुर निवासी रामकिशन (45) नर्सिगिं होम में बिजली का काम करते थे। रविवार को वह नर्सिगिं होम की तीसरी मंजिल पर सीलिंग फैन लगाने गए थे, तभी करंट लगने से उनकी मौत हो गई। करीब दो घंटे तक वह वहीं पर पड़े रहे, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। इसके बाद नर्सिगिं होम कर्मी उसे कुलवंती हास्पिटल ले गए। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
सूचना पाकर परिवार और मोहल्ले के सैकड़ों लोगों ने नर्सिगिं होम पर धावा बोल दिया। भीड़ ने पथराव कर खिड़की, दरवाजों के शीशे तोड़ डाले। काउंटर पलट दिया। कुर्सियिंां और मेज तोड़ डाले। एक्सरे रूम में आग लगी दी। गेट मैन जगमोहन समेत कई कर्मचारियों को सड़क पर दौड़ाकर पीटा। हंगामा देख वहां भर्ती मरीज और तीमारदारों में अफरातफरी मच गई। डरे-सहमे लोगों ने वार्ड के दरवाजे बंद कर अपनी जान बचाई। इसके बाद गुस्साई भीड़ डॉ. टीपी सिंह के घर पहुंची। पथराव कर खिड़की, दरवाजों के शीशे और गमले तोड़ डाले। डॉक्टर की पत्नी शांति देवी, छोटे भाई यूपी सिंह, बहू शीला से मारपीट और बदसलूकी की। मारपीट में रामकिशन के भतीजे पंकज का हाथ फट गया। बवाल की सूचना पर कल्याणपुर, काकादेव, फजलगंज समेत कई थानों की फोर्स, एसपी रिजर्व और पीएसी पहुंची। पुलिस वालों को देखते ही भीड़ और भड़क गई। महिलाओं ने नर्सिगिं होम के सामने काकादेव-रावतपुर मार्ग पर जाम लगा दिया। नर्सिगिं होम प्रबंधन और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। कल्याणपुर थानाप्रभारी डीके शाही ने फोर्स के साथ जाम खुलवाने की कोशिश की, तो लोग उनसे भिड़ गए। हाथापाई की। जवाब में पुलिस ने लाठियां चटका कर भीड़ को तितर-बितर किया। इसके बाद एसीएम-छह के नर्सिगिं होम प्रबंधन पर एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई का भरोसा देने पर लोग शांत हुए। सोमवार को रामकिशन के शव का पोस्टमार्टम होगा। कल्याणपुर थानाप्रभारी का कहना है कि रामकिशन के भाई की तहरीर पर डॉ. टीपी सिंह के खिलाफ लापरवाही बरतने (धारा 304 ए) के तहत एफआईआर दर्ज हुई है। वहीं डाक्टर की अर्जी पर राम किशन के परिजनों और मुहल्ले वालों के विरुद्ध तोड़फोड़, आगजनी और मारपीट का मामला दर्ज किया गया है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

पासपोर्ट अधिकारी ने दी सफाई, तन्वी के निकाहनामे में दर्ज है मुस्लिम नाम

लखनऊ के रतन स्क्वायर स्थित पासपोर्ट ऑफिस में तन्वी सेठ और अनस सिद्धीकी के साथ बदसलूकी करने के आरोपी पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर गुरुवार को सफाई पेश की।

21 जून 2018

Related Videos

इन शहरों में ‘योग दिवस’ की रौनक देखेंगे तो हो जाएंगे हैरान

योग दिवस के मौके पर यूपी के कई शहरों में योग को लेकर लोगों में काफी जोश देखने को मिला। सहारनपुर, श्रावस्ती, कानपुर, सुल्तानपुर, रायबरेली जैसे शहरों से लोगों के योगा करते हुए तस्वीरें सामने आई हैं। देखिए ये रिपोर्ट

21 जून 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen