बत्ती-पानी ने हाथ मिलाया, शहर को तरसाया

Kanpur Updated Thu, 14 Jun 2012 12:00 PM IST
कानपुर। बुधवार को बिजली-पानी के लिए शहर में हाहाकार मच गया। अंधाधुंध कटौती और फाल्ट से कई मोहल्ले घंटो बत्ती-पानी को तरसे। रात में भी घंटो कटौती हुई। इससे लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और कई सब स्टेशनों पर हंगामा हुआ। केस्को एमडी का कहना है कि विद्युत उत्पादन में भारी कमी आई है। इसलिए हाल-फिलहाल राहत की कोई उम्मीद नहीं है।
शहर में सुबह 6.30 से 7.30 बजे तक बिजली कटौती की गई। इससे लोगों को पानी की दिक्कत उठानी पड़ी। इसके बाद अचानक 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक बिजली कटौती हुई। रात 10 बजे शहर में फिर अंधेरा हो गया। बाकी कसर फाल्ट ने पूरी कर दी। जबरदस्त कटौती से गुस्साए लोगों ने दोपहर में चीना पार्क सब स्टेशन पर हंगामा किया। दोपहर में ही साइकिल मार्केट में हो-हल्ला किया गया। दोपहर से लेकर रात तक बर्रा, नौबस्ता, जाजमऊ और कल्याणपुर में भीड़ के कई बार पहुंचकर हंगामा करने की खबरें रही। हालत यह हो गई है कि जेई से लेकर अधिशाषीअभियंता तक फोन नहीं उठा रहे हैं। सब स्टेशनों केफोन ज्यादातर समय बिजी रहे। लोगों को कटौती की पूरी जानकारी तक नहीं मिल सकी। केस्को एमडी आरएस पांडेय का कहना है कि हाल-फिलहाल राहत की उम्मीद नहीं है। उत्पादन में 1500 मेगावाट की कमी आई है। मांग और बढ़ रही है। केंद्र से और बिजली मिल नहीं रही। सेंट्रल पूल से ओवर ड्रा की स्थिति भी नहीं रही। इस समय अगर ओवर ड्रा किया गया तो फ्रिक्वेंसी बहुत घट जाएगी। ऐसे में बहुत बड़ी सजा का प्रावधान है।


फैक्ट्रियों में 14 घंटे काटी बत्ती

-औद्योगिक क्षेत्र में कटौती का रिकार्ड टूटा
-रुक गईं मशीनें, फंस गया कच्चा माल
-6 दिन में 800 करोड़ की उत्पादन हानि
-उद्यमियों में गुस्सा, कहा सीएम को सौंपेगे चाभी
कानपुर। बुधवार उद्यमियों और पर भारी पड़ गया। औद्योगिक क्षेत्र में रिकार्ड बिजली कटौती की गई। दिन में बिजली गुल होने से मशीनें रुक गई और उनमें कच्चा माल फंस गया। उद्यमियों को छह दिन में 800 करोड़ की उत्पादन हानि हुई है। 14 घंटे बिजली काटने से गुस्साए उद्यमियों ने आपात बैठक बुलाकर चेतावनी दी है कि 48 घंटे के अंदर सुधार न हुआ तो फैक्ट्रियां बंद कर मुख्यमंत्री को चाभियां सौंप देंगे।
पिछले कई दिनों से उद्योगों की बिजली रात 10 से 3 बजे तक काटी जा रही थी। बुधवार को ग्रिड संकट में आने पर अचानक सुबह 11 बजे से रात 8 बजे तक बिजली काट दी गई। इससे मशीनें बंद हो गई और मजदूरों की बैठकी हो गई। रात में 10 से 3 बजे तक बिजली कटौती प्रस्तावित थी। अधिशाषी अभियंता तकनीकी एकेएस चौहान का कहना है कि सिस्टम कंट्रोल ने प्रस्तावित कटौती की सूचना दे दी है। इसलिए रात में पांच घंटे कटौती होगी। इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन ने आईआईए भवन में आपात बैठक बुलाई। उद्यमियों ने बैठक में कहा कि बुधवार को बिजली कटौती का रिकार्ड टूटा है। इतनी कटौती कभी नहीं हुई। प्रदेश सरकार कई जिलों का 24 घंटे बिजली आपूर्ति कर रही है। कानपुर के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। बैठक में सुनील वैश्य, मनमोहन राजपाल, सतीश गुप्ता, संजीव पाठक, राजेश ग्रोवर, अनूप गुप्ता, राजेश शर्मा, आरके जैन और अश्वनी गुप्ता मौजूद थे। आईआईए मंडलाध्यक्ष सुनील वैश्य ने बताया कि इंडस्ट्री में बिजली कटौती का छटवां दिन है। बुधवार को तो पूरे दिन काम ही नहीं हुआ। जनरेटरों के सहारे फैक्ट्रियां नहीं चल सकती। इन छह दिनों में उद्यमियों को करीब 800 करोड़ रुपए केउत्पादन की हानि हुई है।


पानी को तरसे ढाई लाख लोग
बत्ती गुल होने से गुजैनी वाटर वर्क्स ठप
कानपुर। औद्योगिक क्षेत्र की बिजली कटौती ने ढाई लोगों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी। गुजैनी वाटर वर्क्स से आपूर्ति न होने के कारण ढाई लाख लोग पानी को तरस गए। भरी दुपहरी लोग बाल्टी लिए पानी की जुगाड़ में लगे रहे। गुजैनी वाटर वर्क्स से दबौली, गुजैनी, बर्रा, रतनलाल नगर और विश्व बैंक बर्रा को पानी की आपूर्ति होती है। वाटर वर्क्स की बिजली आद्योगिक क्षेत्र के फीडर से जुड़ी है। सुबह 11 से रात 8 बजे तक औद्योगिक क्षेत्र की बिजली काट दी गई। इस कारण वाटर वर्क्स से नौ घंटे तक पानी की आपूर्ति ही नहीं हो सकी। गर्मी में पानी न आने से हाय-तौबा मची रही। गुजैनी के आरएन सिंह ने बताया कि बुधवार का दिन तो बड़ा मुसीबत भरा रहा। बिजली के साथ पानी को भी तरसना पड़ गया। दबौली के श्रीकांत और बर्रा के विशाल अवस्थी का कहना है कि पानी न आने से कई तरह की दिक्कतों की सामना करना पड़ा। इधर-उधर से एक बाल्टी पानी की जुगाड़ करने में पसीना छूट गया।


अब नहीं रुकेगी पानी की आपूर्ति
अधिशाषी अभियंता तकनीकी एकेएस चौहान का कहना है कि इस ओर ध्यान नहीं दिया जा सका। इस कारण दिक्कत हुई। अब अगर दिन में औद्योगिक क्षेत्र की बिजली कटेगी तो गुजैनी वाटर वर्क्स को बिजली आपूर्ति करने वाले फीडर को कटौती मुक्त रखा जाएगा। इस बारे में एमडी से बात हो गई है। वह सिस्टम कंट्रोल में बात कर इस फीडर को कटौती मुक्त कराएंगे।

Spotlight

Most Read

National

राजनाथ: अब ताकतवर देश के रूप में देखा जा रहा है भारत

राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से नया आयाम मिला है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

आत्महत्या करने से पहले युवती ने फेसबुक पर अपलोड की VIDEO, देखिए

कानपुर के पांडुनगर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसमें एक महिला ने फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर आत्महत्या कर ली। वजह जानने के लिए देखिए, ये रिपोर्ट।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper