टेंपो को दी विदाई, बसों ने दौड़ लगाई

Kanpur Updated Sun, 10 Jun 2012 12:00 PM IST
कानपुर। शनिवार को माल रोड से टेंपो को अलविदा कराके गोल चौराहे से लाव-लश्कर के साथ एसी, नॉन एसी सिटी बसों ने रवाना होकर एक नए बदलाव की शुरुआत कर दी। हालांकि, इस दौरान प्रशासन को टेंपो चालकों का हल्का विरोध भी झेलना पड़ा। टेंपो चालक बड़े चौराहे पर डीएम, डीआईजी और नगर आयुक्त सहित तमाम अफसरों से भरी बस के आगे लेट गए। हालांकि, डीएम के यह कहने पर कि किसी को बेरोजगार नहीं होने दिया जाएगा टेंपो चालक शांत हो गए। इसके बाद बस दोपहर 12:21 बजे नरौना चौराहे पहुंची तो वहां मौजूद भीड़ ने जिंदाबाद के नारे लगाकर कहा कि बसों को इसी तरह चलाया जाए तो यह सेवा हिट नहीं बल्कि सुपरहिट साबित होगी।
पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत पूर्वाह्न 11 बजे रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक डीवी सिंह के निर्देशन में एआरएम राजेश सिंह सजी-धजी एसी और नॉन एसी बसों के साथ गोल चौराहे पहुंचे। हालांकि, दूसरी साइड पर मिनी बसें ठसाठस भरी आ-जा रही थीं। महापौर रवींद्र पाटनी, डीएम एमपी अग्रवाल, डीआईजी अमिताभ यश, नगर आयुक्त नरेंद्र चौहान, एडीएम अनूप श्रीवास्तव, एआरटीओ संजय तिवारी बस पर सवार होकर पूर्वाह्न 11:42 पर नरौना चौराहे के लिए रवाना हुए। चुन्नीगंज चौराहे के आसपास खड़े रिक्शों को देख डीएम ने इशारा किया तो नगर आयुक्त ने कहा कि इन्हें भी हटवाएंगे। 12:11 मिनट पर बस जैसे ही बड़े चौराहे पहुंची तो टेंपो यूनियन के प्रांतीय अध्यक्ष अनंतराम वाजपेयी के नेतृत्व में चालकों ने सड़क पर लेटकर रास्ता रोक लिया। इस पर पुलिस सभी को उठाकर डीएम के सामने लाई तो चालकों ने उन्हें ज्ञापन सौंपा। डीएम ने उनसे कहा कि किसी को बेरोजगार नहीं होने दिया जाएगा लेकिन इस तरह का विरोध सहन भी नहीं होगा। यह आश्वासन पाकर टेंपो चालक शांत होकर फिर धरने पर बैठ गए। इसके 5 मिनट बाद बस चली और दोपहर 12:21 बजे नरौना पहुंची, जहां पूरे काफिलेे का जोर-शोर से स्वागत किया गया।

धारा-144 फिर भी सड़क जाम
चुनाव आचार संहिता के साथ धारा-144 लागू होने के बावजूद कोतवाली पुलिस टेंपो चालकों का पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम रोक नहीं सकी। कोतवाली से चंद कदम दूरी पर टेंपो चालकों ने सड़क पर लेटकर बसों को रोक लिया जबकि इन बसों पर आम यात्री नहीं बल्कि डीएम, डीआईजी, एडीएम सिटी सवार थे।


किराए को लेकर चकचक पर राहत
अमर उजाला लाइव
कानपुर। शनिवार को माल रोड पर शुरू हुई सिटी बस सेवा से जनता ने राहत तो महसूस की लेकिन किराए को लेकर भ्रम भी रहा। कारण यह था कि बसों का भाड़ा स्लैब में होने से किसी को फायदा हुआ तो कम दूरी वालों को 1-2 रुपये का बोझ पड़ा। ‘अमर उजाला’ टीम ने गोल चौराहे से नरौना और नरौना से गोल चौराहे तक सफर कर यात्रियों के भावों को समझा।

सफर-1 : गोल चौराहे से नरौना
दोपहर बाद 3: 20 बजे गोल चौराहे पर लो फ्लोर और एसी बसें खड़ी हैं। बस संख्या यूपी-78-बीटी-8537 में तीन सवारियां बैठी थीं। तभी मिनी बस ने ओवरटेक किया तो दो सवारियां उतरकर उसमें चली गईं। तीसरी सवारी को उतरता देख परिचालक मनीष ने सीटी बजाई और बस चल दी। हैलट गेट के सामने 8-10 लोग सवार हुए। हर्षनगर तिराहे पर सारी सीटेें भर गईं। गोल चौराहे से बैठे यात्रियों को जब 4 रुपये देने पड़े तो कहा कि 5 रुपये में बड़ा चौराहा पहुंचते हैं। 9 प्वाइंटों पर रुकते हुए बस नरौना चौराहे पर 3.45 पर पहुंची। कंडक्टर ने बताया कि 32 सीटर बस का लोड 95 फीसदी रहा।
--------
सफर-2 : नरौना से गोल चौराहा
शाम 4:00 बजे नरौना चौराहे पर बस संख्या यूपी-78-बीटी-5988 खड़ी थी। सावित्री सिंह बच्चे को गोद में लेकर गेट पर पहुंचते हुए बोलीं कि गुटैया जा रही है। परिचालक सुरेश के हां कहने पर वह परिवार सहित बस में चढ़ गईं। बस में 16 यात्री सवार थे। फूलबाग चौराहे पर बस की सीटें भर गईं लेकिन चंद कदम की दूरी पर यात्रियों ने हाथ दिखाया तो बस रुक गई। 4:21 पर इंजन गर्म होने पर चालक ने हर्षनगर चौराहे पर बस रोकी तो पूरी बस खाली हो गई। बस फिर चली तो 2-4 सवारियां चढ़ीं। मोतीझील गेट पर बस पूरी भर गई, जिनमें कई महिलाएं खड़ी थीं। हैलट गेट पर फिर लोग चढ़े और शाम 4:32 पर बस गोल चौराहे पर आकर खड़ी हो गई।

यात्री बोले
यह प्रयोग शहर के सभी रूटों पर हो तो एक महीने भीतर न तो जाम दिखेगा और न ही यात्रियों को कोई दिक्कत होगी।
-महेंद्र दुबे

टेंपो से गोल चौराहे से स्वरूपनगर थाने के 2 रुपये पड़ते थे पर आज 4 रुपये पड़े। बस का भाड़ा उसी हिसाब से तय होना चाहिए।
-संदीप, छात्र

15 रुपये में एसी का मजा मिला। इससे बढ़िया भइय्या और क्या साधन हो सकता है। हां, अब ये सेवा बंद नहीं होनी चाहिए।
-अनूप

टेंपों में एक सीट पर 4 सवारियां बैठती थीं और लोग परेशान करते थे। अब तो बस में आराम से सफर कर रहे हैं।
-प्रीतिपाल और मोहन वीर

गोल चौराहे पर टायलेट और वाटर कूलर लगेगा
नगर निगम के पीआरओ राजीव शुक्ल ने बताया कि गोल चौराहे पर आधुनिक टायलेट और वाटर कूलर भी मंजूर हो गया है। जल्द ही यह सुविधा हो जाएगी। साथ ही बसों के मोड़ने में बाधक बने जीने को भी तोड़ा जाएगा। 250 चालकों और परिचालकों को गोल्डी मसाले ने ग्रे कलर की ड्रेस उपलब्ध कराई है।

अभी इनकी है जरूरत
रूट के सभी स्टापेज कवर्ड हों तो मिलेगी सहूलियत
नरौना व गोलचौराहे पर शौचालय और बैठने का इंतजाम
परेड, चुन्नीगंज, हर्षनगर और फूलबाग चौराहे पर रिक्शों का जमावड़ा खत्म कराया जाए
किराए के स्लैब में संशोधन, किलोमीटर के हिसाब से भाड़ा तय करके सूची बसों में चस्पा कराएं

किराए में भ्रम नहीं, सब ठीक होगा
पहला दिन और परिचालकों का नया रूट होने से भले ही किराये को लेकर कुछ भ्रम हो पर रविवार से यह नहीं होगा। मिनी बसों का न्यूनतम भाड़ा 2, लो फ्लोर नॉन एसी का 6 और लो फ्लोर एसी बसों का 10 रुपये प्रति यात्री होगा। कोई ज्यादा भाड़ा लेता है तो सीधे 9415049646 पर शिकायत करें।
-डीवी सिंह, क्षेत्रीय प्रबंधक, रोडवेज

Spotlight

Most Read

Bihar

नीतीश के काफिले पर पथराव के बाद जेड प्लस सुरक्षा देगी मोदी सरकार

बिहार के मुख्यमंत्री के काफिले पर कुछ दिनों पहले हुए हमले के मद्देनजर नीतीश कुमार को जेड प्लस श्रेणी सुरक्षा दी जाएगी।

19 जनवरी 2018

Varanasi

मऊ की खबर

20 जनवरी 2018

Related Videos

ट्रक लूटकर भाग रहे थे बदमाश, पुलिस ने दबोचा

औरेया में पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने ट्रक लूट कर भाग रहे तीन शातिर बदमाशों को मुठभेड़ के बाद धर दबोचा। पुलिस ने बदमाशों के पास से तमंचा, कारतूस और चाकू बरामद की है।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper