पीएनजी लाइन में धमाकों से दहला अपार्टमेंट

Kanpur Updated Sat, 12 May 2012 12:00 PM IST
कानपुर। मनमानी खुदाई के कारण शुक्रवार तड़के स्वरूपनगर में पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) पाइप लाइन फटने का गंभीर परिणाम देर रात सामने आया। शाम को पाइप लाइन का लीकेज तो बंद कर दिया गया, लेकिन देर रात डीआईजी बंगले के पास आनंद ऐश्वर्य अपार्टमेंट में पीएनजी लाइन में सिलसिलेवार धमाके होने लगे। शुरुआत दो फ्लैटों के अंदर भी धमाकों से हुई। इसके बाद परिसर में जमीन के नीचे पाइप से भी गैस का रिसाव होने लगा और कुछ ही देर में धमाका हो गया जिससे इंटरलॉकिंग टाइल्स चूर-चूर हो गईं। लोग बाहर निकले तो एक ब्लाक के बाहर लगा रेगुलेटर भी फट गया। अपार्टमेंट में भगदड़ मच गई। लोग बच्चों को लेकर सड़क पर आ गए। आधी रात के बाद तक ग्वालटोली पुलिस और सीयूजीएल के अफसर मौके पर थे और रिसाव रोकने में जुटे थे।
आनंद ऐश्वर्य अपार्टमेंट में 99 फ्लैट हैं। फ्लैट संख्या 101 में रहने वाले आरके मेहता की पीएनजी लाइन में एयर आने से प्रेशर नहीं बन रहा था। उन्होंने कंपनी फोन किया तो फिटर श्रीप्रकाश उर्फ मुकेश को यहां भेजा गया। श्रीप्रकाश ने पाइप लाइन चेक की, लेकिन गैस चूल्हा नहीं जला। इसी बीच फ्लैट संख्या 303 में रहने वाले संजय मल्होत्रा की पत्नी विनीता ने भी प्रेशर न होने की शिकायत की। श्रीप्रकाश ने यहां पाइप चेक किया तो काफी हवा निकली। हवा निकालने के बाद उसने तीली जलाई तो विस्फोट हो गया। एकदम से आग का गोला सा पूरे कमरे में फैल गया। विनीता और उनके बेटे आयूष व वेदांत चीख मारकर बाहर भागे। धमाका और चीखें सुनकर अपार्टमेंट में अफरातफरी मच गई। बताते हैं इसी दौरान फ्लैट संख्या 504 में रहने वाले मानस कुमार की पीएनजी लाइन में भी धमाका हुआ। डरे-सहमे अपार्टमेंट के लोग नीचे एकत्र हुए तभी सबसे बाहर वाले ब्लाक के बाहर से फ्लैट में जाने वाली पाइप लाइन का रेगुलेटर धमाके से उखड़ गया। इस धमाके की तरफ ध्यान जाता, तभी दीवार के पास भूमिगत पाइप लाइन में धमाका हुआ और गैस रिसने लगी। जिस जगह धमाका हुआ, वहां की इंटरलॉकिंग टाइल्स टुकड़े-टुकड़े हो गई। महिलाएं और बच्चे अपार्टमेंट से बाहर भाग खड़े हुए। पड़ोस की बस्ती में रहने वाले बसपा नेता राजेंद्र पासवान, पुत्तन सिंह, संतोष, बीरू, मुन्ना, संजय कर्मचारियों के साथ हिम्मत करके कुछ लोगों ने लीकेज पाइप पर पानी डाला। लीकेज और धमाकों की जानकारी पाकर सीयूजीएल की अफसर अभिषेक पाण्डेय और तकनीकी टीम के सदस्य मौके पर पहुंच गए। ग्वालटोली थाना से पुलिस बल भी आ गया। देर रात तक सीयूजीएल टीम के सदस्य मरम्मत कार्य में लगे थे। अभिषेक पाण्डेय ने बताया शुक्रवार तड़के राजीव पेट्रोल पंप के पास पीएनजी लाइन में लीकेज हो गई थी। मरम्मत के बाद लाइन में एयर बाकी रह गई जिससे सप्लाई में दिक्कत आई। एयर की वजह से सप्लाई में प्रेशर नहीं बन पा रहा था। कंपनी का कर्मचारी सप्लाई दुरुस्त करने गया तो आग लग गई। अभिषेक ने कहा हादसे में कोई घायल नहीं हुआ है।



हो सकता था बड़ा हादसा
कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि पीएनजी में मीथेन गैस होती है। यह 4 किलोग्राम के प्रेशर के साथ सप्लाई होती है जो उपभोक्ताआें के पास तक पहुंचते-पहुंचते 12 मिलीबार दबाव पर रह जाती है। यह ज्वलनशील होती है, लेकिन यह बहुत अधिक दबाव पर ही आग पकड़ती है। गनीमत यह रही कि स्वरूपनगर में आधा घंटे के भीतर वाल्व बंद करके गैस की सप्लाई बंद कर दी गई। सुबह के समय ट्रैफिक लोड भी कम था वरना लगातार गैस लीक होती रहती तो अगल-बगल से वाहन गुजरने पर यह आग पकड़ सकती थी। बगल में दो पेट्रोल पंप बने हैं। यहां लाखाें लीटर पेट्रोल, डीजल का स्टॉक है। चिंगारी भड़कने के बाद हादसे का अंदाज लगा सकते हैं।

पिछले साल भी फटी थी लाइन
2011 में गरमी के मौसम में पाण्डु नगर में भी जेएनएनयूआरएम की खुदाई के दौरान जेसीबी की टक्कर से पीएनजी लाइन फटने से गैस बड़ी तेजी से लीक हुई थी। कंपनी की सतर्कता के कारण हादसा टल गया था।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018