तोड़ा जाएगा डिविनिटी का गेट और डेमो फ्लैट

Kanpur Updated Tue, 11 Dec 2012 05:30 AM IST
विवेक त्रिपाठी
कानपुर। एक लाख 32 हजार वॉट की हाईटेंशन लाइन के नीचे बना डिविनिटी होम्स का मेन गेट तोड़ा जाएगा। सोमवार को नगर नियोजक पीके सोलंकी ने साइट का निरीक्षण किया तो पता चला कि डेमो फ्लैट भी अवैध जगह पर बना है। सचिव ने डिविनिटी होम्स कंपनी को मेन गेट और डेमो फ्लैट खुद तोड़ने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा अगर कंपनी खुद नहीं तोड़ेगी तो केडीए का प्रवर्तन दस्ता भेजा जाएगा। इसके अलावा श्री नागेश्वर इन्क्लेव में बनीं 2 अवैध मंजिलों को सील करने का आदेश भी जारी कर दिया गया है।
बिल्डरों की मनमानी और करतूतों के खिलाफ अभियान के तहत ‘अमर उजाला’ ने शनिवार को कल्याणपुर के इंदिरानगर में बन रहे डिविनिटी होम्स की खबर प्रकाशित की थी। 6 एकड़ में निर्माणाधीन इस लग्जरी अपार्टमेंट के मेन गेट के ठीक ऊपर हाइटेंशन लाइन गुजर रही है। इसके बाद भी केडीए और बिजली के संबंधित विभाग की मिलीभगत से यहां निर्माण कार्य चल रहा है। ‘अमर उजाला’ के इस खुलासे ने शहर के बिल्डरों और रियल एस्टेट कारोबारियों में हड़कंप मचा दिया था। सोमवार को केडीए उपाध्यक्ष राम मोहन यादव ने नगर नियोजक पीके सोलंकी को यहां निरीक्षण के लिए भेजा तो जोन एक के संयुक्त सचिव प्रदीप कुमार सिंह के निर्देश पर जेई अनिल दुबे ने भी मौका-मुआयना किया। दोपहर साढ़े बारह बजे सचिव राकेश कुमार ने नगर नियोजक पीके सोलंकी, आशीष पुरी, प्रदीप कुमार सिंह और देवबचन के साथ बैठक कर डिविनिटी होम्स की फाइल और नक्शे की पड़ताल की। नक्शा देखने पर खुलासा हुआ कि कंपनी ने डेमो फ्लैट गलत जगह पर बनाया है। कुछ अतिरिक्त जमीन भी कंपनी ने घेर रखी है, जिसकी पड़ताल के निर्देश दिए गए हैं। कंपनी को नोटिस जारी करते हुए मेन गेट और डेमो फ्लैट तोड़ने का आदेश दिया गया है। हाईटेंशन लाइन के नीचे और मानकों को दरकिनार कर हो रहे निर्माण कार्य को नजरअंदाज करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की तैयारी है।
इसी क्रम में रविवार के अंक में ‘अमर उजाला’ ने कल्यानपुर के केशवपुरम में शिप्र बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के मल्टीस्टोरी अपार्टमेंट श्री नागेश्वर इन्क्लेव में अवैध निर्माण का खुलासा किया था। यहां 10 मंजिल का नक्शा पास कराकर 12 मंजिलें तान दी गई थीं। जोन दो के उपनगर आयुक्त राकेश यादव ने बताया अवैध रूप से बन रही दो मंजिलें सील करने का आदेश दिया गया है।

एनओसी पर शक, होगी जांच
डिविनिटी होम्स कंपनी विद्युत परिषद लखनऊ से मिली जिस एनओसी के बूते हाईटेंशन लाइन के नीचे मेन गेट बनवा रही थी, उस पर सवाल उठने लगे हैं। सोमवार को साइट का निरीक्षण करने पहुंची केडीए टीम को कंपनी के प्रतिनिधियों ने एनओसी दिखाई। संयुक्त सचिव प्रदीप कुमार सिंह ने बताया एनओसी पर हाईटेंशन लाइन को शिफ्ट करने की संभावना जताई गई है। मंगलवार को एक एफिडेविट के साथ एनओसी की कॉपी मंगाई गई है। इसकी जांच कराई जाएगी।

Spotlight

Most Read

Varanasi

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

22 जनवरी 2018

Related Videos

आत्महत्या करने से पहले युवती ने फेसबुक पर अपलोड की VIDEO, देखिए

कानपुर के पांडुनगर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसमें एक महिला ने फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर आत्महत्या कर ली। वजह जानने के लिए देखिए, ये रिपोर्ट।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper