‘ग्रीनपार्क का कचूमर निकलेगा, क्या मैच फिसलेगा’

Kanpur Updated Sat, 08 Dec 2012 05:30 AM IST
राहुल शुक्ला
कानपुर। परिवर्तन संस्था की ओर से नौ दिसंबर को ग्रीनपार्क स्टेडियम में सामूहिक राष्ट्रगान के प्रस्तावित आयोजन पर किसी को एतराज नहीं है, लेकिन इस आयोजन से उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) के माथे पर बल पड़ गए हैं। पदाधिकारियों और क्रिकेटरों का कहना है कि दावे के मुताबिक यदि एक लाख लोग एकसाथ ग्रीनपार्क में इकट्ठा हो गए तो मैदान की ऐसी की तैसी हो जाएगी। नतीजा, चार साल बाद मिला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट टेस्ट मैच (भारत बनाम आस्ट्रेलिया) खटाई में पड़ जाएगा।
यूपीसीए के जनरल मैनेजर ने तो यह तक कह दिया कि हम 12 दिसंबर को आ रहे आस्ट्रेलियाई क्रिकेट विशेषज्ञों को किस मुंह से ग्रीनपार्क दिखाएंगे। एक लाख लोग इकट्ठा होने के बाद 3-4 दिन के भीतर तो ग्रीनपार्क में ठीक से झाडू भी नहीं लग पाएगी। एक पदाधिकारी ने कहा कि वे प्रदेश सरकार से इस पर आपत्ति जताएंगे और अनुरोध करेंगे कि शहर में किसी और मैदान पर यह कार्यक्रम शिफ्ट कराया जाए।
बतला दें कि कुछ खेल प्रेमियों ने शुक्रवार को अमर उजाला से संपर्क करके कहा कि ज्यादातर लोग थोड़े-थोड़े लाभ केलिए इस समस्या को जानते हुए भी कुछ नहीं बोल रहे हैं। क्या आप इस समस्या को छाप सकते हैं। राष्ट्रगान तो किसी भी बड़े मैदान पर हो सकता है, मगर अंतरराष्ट्रीय मैच हाथ से फिसला तो शहर और प्रदेश की न केवल छवि खराब होगी, बल्कि दूरगामी नुकसान होंगे।


दिनांक 10-4-1994 संख्या-3771/42-95 /103 /एसपी/75 और दिनांक 20 दिसंबर 1995 में समस्त जिलाधिकारियों को यह स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि स्टेडियमों, क्रीडासंकुलों और अन्य क्रीड़ा अवस्थापनाओं का प्रयोग किसी भी स्थिति में खेलों के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रयोजन के लिए न किया जाए।
शंशाक शेखर सिंह, प्रमुख सचिव खेल (तत्कालीन)


मैदान खराब होने पर ठीक कराया जाएगा
वैसे तो स्टेडियम सिर्फ क्रिकेट मैच के लिए ही आवंटित किया जाता है। पर ये शासन द्वारा बुक कराया गया है इसलिए कुछ कहने का मतलब ही नहीं है। एक लाख लोगों के इकट्ठा होेने पर ग्राउंड और पिच के क्षतिग्रस्त होेने की प्रबल संभावना है। ऐसे में कार्यक्रम के बाद उसे ठीक कराया जाएगा। पर नई घास आने में 15 दिन का समय लगता है और उसे मेनटेन करने में 10 से 15 दिन का समय लगता है। जो संभव होगा, किया जाएगा।
अनिल कुमार बनौदा, डिप्टी डायरेक्टर, खेल विभाग


कहीं आस्ट्रेलिया दल बिगड़ न जाए
काफी प्रयास के बाद ग्रीनपार्क को मैच मिला है। ऐसे में इस कार्यक्रम से मामला बिगड़ सकता है। 1 दिसंबर को बीसीसीआई के जीएम रत्नाकर शेट्टी ने पिच और ग्राउंड को ओके करार दिया था। 12 दिसंबर को आस्ट्रेलियाई क्रिकेट विशेषज्ञों का दल निरीक्षण को आने वाला है। तब ग्रीनपार्क स्टेडियम की हालत देखकर आस्ट्रेलियाई दल कहीं बिगड़ न जाए।
रोहित तलवार, जनरल मैनेजर, यूपीसीए


शासनादेश की जानकारी करा दी गई है
खेल गतिविधियों के अतिरिक्त ग्राउंड बुक कराने का प्रावधान ही नहीं है। इस बात की जानकारी उच्च अधिकारियों को दे दी गई है। एक लाख लोगों के इकट्ठा होने पर ग्राउंड और पिच का खराब होना लाजिमी है। छात्रावास के क्रिकेट खिलाडि़यों की प्रैक्टिस भी प्रभावित होगी। पीछे रणजी मैच के चलते भी प्रभावित हुई थी।
पीके गुप्ता, क्रीड़ाधिकारी, ग्रीनपार्क स्टेडियम


सरकार का स्टेडियम है वो जाने
इतनी भीड़ आएगी? क्या वाकई एक लाख लोग इकट्ठा होंगे, ऐसे में स्टेडियम, पिच और ग्राउंड निश्चित रूप से खराब होगी। जब सरकार को ही अपनी धरोहरों का ख्याल नहीं तो क्या किया जाए। ग्रीनपार्क स्टेडियम प्रदेश सरकार का है। उन्होंने ही आयोजकों को दिया है और स्टेडियम क्षतिग्रस्त होता है तो उनकी जिम्मेदारी है कि वे स्टेडियम को दुरुस्त करायें। लेकिन यह आयोजन ग्रीनपार्क में उचित नहीं है।
गोपाल शर्मा, चेयरमैन, यूपी सीनियर सलेक्शन कमेटी

क्या उजड़ा ग्रीनपार्क दिखाएंगे
ओफ ओ, इतनी भीड़। पिछले दिनों बीसीसीआई के जीएम रत्नाकर शेट्टी और पिच कमेटी के चेयरमैन सुरू नायक ने ग्रीनपार्क की पिच और ग्राउंड को ओके का सिगनल दिया है। ऐसे में इतने बड़े आयोजन से मामला बिगड़ सकता है। आस्ट्रेलियाई दल ग्रीनपार्क के निरीक्षण को आएगा, उसे क्या उजड़ा ग्रीनपार्क दिखाया जाएगा। कहीं शहरवासियों को क्रिकेट मैच देखने से वंचित न होना पड़े।
शशिकांत खांडेकर, चैयरमैन यूपी जूनियर सलेक्शन कमेटी

अभी तो इमेज बनी भी नहीं है
प्रस्तावित आयोजन का उद्देश्य बेहद अच्छा है, लेकिन स्थान का चयन बिलकुल गलत है। अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में ऐसे आयोजन का मतलब ही नहीं है। अभी बीसीसीआई में हम लोगों की अच्छी इमेज बनी है। कहीं ऐसा न हो कि दोबारा बिगड़ जाये। वैसे भी आगे मार्च में आस्ट्रेलिया सीरीज का मैच लगा है। ऐसे में आयोजकों को अनुमति देना हास्यास्पद लगता है। बड़ी मुश्किल से मैच मिला है जरा सी नादानी में मामला बिगड़ सकता है।
जफर आलम, सहायक क्रिकेट प्रशिक्षक नगर निगम


काम प्रभावित होगा
स्टेडियम में सरिया, सीमेंट, पाइप आदि सामान पड़ा है। भगदड़ या छीनाछपटी में कोई अप्रिय घटना हो सकती है। रही बात काम की तो वो तो प्रभावित होगा ही। रणजी मैच में तीन बार काम प्रभावित हुआ था। कुल 30 करोड़ रुपये आवंटित हुए हैं और 24 करोड़ रिलीज हो चुके हैं। ऐसे में यहां यह आयोजन गलत है।
बीपी यादव, सहायक अभियंता, उप्र आवास विकास परिषद


पिच पर खतरा
-----------
-ग्रीनपार्क की पिच और ग्राउंड को मैच लायक बनाने में कई महीने लगते हैं। ऐसे में इतने लोगों के इकट्ठा होने पर पिच डैमेज होगी।
-ग्रीनपार्क स्टेडियम की घास बर्बाद होगी और इसे पूर्ववत लाने में एक महीना लगेगा।
-मेन पिच पर और ग्राउंड पर क्रिकेट शूज पहनकर ही जाना चाहिए। स्पोर्ट्स शूज या लेदर शूज पहनकर जाने पर ग्राउंड खराब होगा।
-सुबह रोजाना ग्राउंड पर पानी डाला जाता है। उस दिन पानी न डालने से नमी में कमी होगी
-क्रिकेट छात्रावास के खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं। उनकी प्रैक्टिस बाधित होगी
शिव कुमार, पिच क्यूरेटर ग्रीनपार्क



9 दिसंबर को ग्रीनपार्क स्टेडियम में एक लाख लोग इकट्ठा होंगे जो गिनीज़ बुक आफ रिकार्ड में नाम दर्ज कराने के लिए राष्ट्रगान गायेंगे। इसके लिए ग्रीनपार्क को बुक कराया गया है। इसमें स्कूली बच्चे समेत हजारों लोग ग्राउंड (जहां अंतर्राष्ट्रीय मैच होते हैं) में खड़े होंगे। जबकि अन्य लोग पवेलियन, मीडिया सेंटर आदि में रहेंगे। इसके लिए अनुमति मिल गई है। पूरी डिटेल शनिवार को पत्रकार वार्ता में देंगे।
अनिल गुप्ता, परिवर्तन संस्था


शासन से अनुमति ली है
नौ दिसंबर के कार्यक्रम के लिए परिवर्तन संस्था ने शासन से अनुमति ली है। ऐसे में हमलोग कुछ नहीं कह सकते।
अनूप कुमार श्रीवास्तव, एडीएम सिटी

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper