आपरेशन के नाम पर लिए रुपये लौटाए

Kanpur Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
कानपुर। स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन के दौरे के दौरान आई शिकायतों से स्पष्ट है कि उर्सला अस्पताल में बिना ‘सुविधा शुल्क’ मरीजों का इलाज नहीं होता। सोमवार को ‘अमर उजाला’ संवाददाता ने उर्सला के सर्जरी वार्ड का दौरा कर मरीजों का हालचाल लिया तो पता लगा कि कई से आपरेशन के नाम पर रुपये लिये गए थे। मंत्री से शिकायत होने के डर से कुछ परिजनों को रकम लौटा दी गई और पेशबंदी के लिए उनसे एक सादे कागज पर दस्तखत करवा लिए गए। पेश है एक रिपोर्ट...

केस - 1 उर्सला में वार्ड - 5 के बेड नंबर - 22 पर भर्ती ओम (3) को सोमवार दोपहर में आपरेशन के लिए थियेटर ले जाया गया, आपरेशन तब किया गया जब उसके पिता अशोक पाल से खर्चा- पानी के नाम पर 300 रुपये ले लिए गए। कुछ दवाएं भी बाजार से मंगाई गईं।

केस - 2 अस्पताल के वार्ड - 8 के बेड नंबर - 11 पर भर्ती श्यामा की पथरी का आपरेशन 3 दिन पहले हुआ था। इन्होंने स्वास्थ्य मंत्री से डा. प्रशांत पर 5000 रुपये घूस लेकर आपरेशन करने का आरोप लगाया था। सोमवार दोपहर को आपरेशन थियेटर के दो कर्मचारी पहुंचे। उन्हें 5000 हजार रुपये लौटाकर हस्ताक्षर कराए।

केस - 3 वार्ड-8 के बेड नंबर 8 पर भर्ती रुखसाना से तीन दिन पहले पित्त की थैली में पथरी के आरपेशन के नाम पर 4000 रुपए लिए गए थे। इन्होंने शिकायत की थी। सोमवार को दोपहर में दो कर्मचारी पहुंचे और उसे आश्वासन दिया कि उसे घूस की रकम लौटा दी जाएगी। वह सादे कागज पर हस्ताक्षर कर दे, यह आश्वासन देकर उससे हस्ताक्षर करा लिए गए।

केस - 4 वार्ड -8 के बेड नंबर - 9 पर भर्ती कहकशा से बच्चेदानी के आपरेशन के नाम पर 5000 रुपये लिए गए थे। सोमवार को दो कर्मियों ने घूस की रकम लौटाने का आश्वासन देकर सादे कागज पर हस्ताक्षर करा लिए। मरीज ने उर्सला के निदेशक से इसकी शिकायत करते हुए पैसा वापस कराने की गुहार लगाई है।

केस - 5 वार्ड- 3 के बेड नंबर - 7 पर भर्ती रसीदा के पास सुबह 6 बजे दो नर्सें पहुंची और उसे धमकाया कि कल अखबारवालों को यह क्यों बताया कि नर्सों ने स्वास्थ्य मंत्री के आने से पहले सभी मरीजों को धमकाया था। कई अन्य मरीजों का कहना था कि जैसे भी हों इलाज तो इन्हीं से कराना है।

केस - 6 वार्ड नंबर - 8 के बेड नंबर 31 पर भर्ती सद्दो बेगम और उनकी सास शाहजहां के चेहरे पर खुशी के भाव नजर आए। उन्होंने बताया कि कल मंत्री जी घटिया खाने की शिकायत करने के साथ ही फल, दूध की मांग की थी। सोमवार को बड़े डाक्टर ने आकर बताया कि उनकी मांग पूरी होने वाली है।

केस - 7 वार्ड - 8 के बेड नंबर 14 पर भर्ती जैतुन निशा ने बताया कि आपरेशन के लिए 3000 रुपये घूस ली गई। पर तीन दिन से पैसे न होने के कारण बाजार से लिखे गए इंजेक्शन तक नहीं लग पा रहे थे। मंत्री के दौरे के बाद कल रात और सुबह नर्सों ने अस्पताल से ही इंजेक्शन लगाए और दवाएं दीं।



हर इलाज का तय है दाम
उर्सला में आपरेशन से लेकर मरीजों के हर कार्य लिए 50 रुपये से लेकर 15000 रुपये तक का पैकेज तय है। यहां के एक जनरल सर्जन और एक आर्थोपेडिक सर्जन तो इतने बदनाम हैं कि उनके बारे में कहा जाता है वे तब तक आपरेशन नहीं करते, जब तक सेट कर्मियों के माध्यम से उनके पास पैसा नहीं पहुंच जाता।


मत दें पैसे
- उर्सला ओपीडी में एक रुपये का पर्चा बनता है।
- अस्पताल में ग्लूकोज की बोतल, सिरेंज, कैथेटर, बीगो, गाज - पट्टी से लेकर जीवनरक्षक समेत अन्य सामान्य दवाएं भी मुफ्त मिलती हैं।
- सामान्य मरीजों से जांचों का न्यूनतम चार्ज लिया जाता है, जबकि बहुत गरीब, अज्ञात मरीजों को यह सुविधा भी मुफ्त मिलती है।
- आपरेशन थियेटर की फीस 450 रुपये है।
- इंडोर में भर्ती मरीजों को खाना मुफ्त मिलता है।

यदि दिक्कत हो तो इनसे करें शिकायत
उर्सला के निदेशक डा. (मेजर) राकेश सक्सेना, मोबाइल नंबर - 9359341411
उर्सला के चिकित्सा अधीक्षक डा. शैलेंद्र तिवारी - 9415126141
सीएमओ डा. आरपी यादव - 9415125554

कोट
‘अस्पताल में आपरेशन का पैसा न लिया जाए, इसके लिए एलर्ट रहेंगे। समय - समय पर मरीजों से भी इस बारे में पूछा जाएगा। घूस लेने वाले डाक्टरों पर कार्रवाई होगी।’
डा. (मेजर) राकेश सक्सेना, निदेशक, उर्सला अस्पताल

डा. प्रशांत मिश्रा को निलंबित करने का आदेश शासन में तैयार हो रहा है। आदेश में यदि उनसे घूस की रकम लौटाने का उल्लेख होगा तो उसका भी पालन किया जाएगा। अन्य डाक्टर घूस न लें, इस पर नजर रखी जाएगी।
डा. आरपी यादव, सीएमओ

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी कैबिनेट ने एक जिला एक उत्पाद नीति पर लगाई मुहर, लिए गए 12 फैसले

यूपी कैबिनेट ने कुल 12 फैसलों को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में एक जिला एक उत्पाद नीति पर मुहर लग गई।

23 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper