हर गांव-बस्ती में कार्यकर्ता खड़े करेगा संघ-भागवत

Kanpur Updated Mon, 26 Nov 2012 12:00 PM IST
कानपुर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के सर संघ चालक मोहन मधुकर राव भागवत ने कहा कि देश के विकास के लिए समर्पित और संगठित समाज की जरूरत है। सबको एक साथ जोड़ने का उपाय और योग्यता संघ शाखाओं के अलावा दुनिया में कहीं नहीं दी जाती। देश का मालिक बनने के लिए यह योग्यता जरूरी है। संघ इसके लिए गांव-गांव, बस्ती-बस्ती में कार्यकर्ता खड़ा करेगा। अगर हमारी बनाई सरकार काम नहीं करती तो दोषी हम हैं। पहले हर गलती अंग्रेजों के सिर मढ़ दी जाती थी। अब देश आजाद है तो हमें ही एकजुट होकर उपाय करने होंगे।
रविवार को बृजेंद्र स्वरूप पार्क में आयोजित संघ समागम में सर संघ चालक मोहन मधुकर राव भागवत उद्बोधन दे रहे थे। उन्होंने कहा कि ‘चुनावी नेताओं की तरह संघ यह नहीं कहता है कि मुझे वोट दो, फिर 5 वर्ष के लिए देश के विकास का ठेका मैं लेता हूं।’राजनीतिक दलों के तो अपने स्वार्थ होते हैं लेकिन संपूर्ण राष्ट्र की उन्नति के लिए सारे कार्य संघ नहीं करेगा। इसके लिए सारे लोगों को सहभागी बनना पड़ेगा। दुनिया के अग्रणी देशों के बनने में कम से कम 100 साल लगे हैं। हमने तो 1 हजार साल की गुलामी और सीमांत संघर्ष सहा है।
भागवत ने लड़कपन में देखी एक फिल्म के दृष्टांत के माध्यम हर गलती के लिए सरकार को दोष देने की लोगों की आदत के बारे में बताया। इसके साथ ही भेड़-बकरियों के बीच में पले एक शेर की दिलचस्प कहानी सुनाकर लोगों को अपनी शक्ति पहचानने की नसीहत भी की। सर संघ चालक ने कहा कि विदेशी शासक जाते-जाते यह कीड़ा दिमाग में डाल गए कि तुम्हारे पास गर्व करने के लिए कुछ नहीं, तुम सिर्फ नौकरी के लायक हो। लोग आज भी नौकरी के पीछे भागते हैं। ये गुलामी की मानसिकता है। आत्म विस्मृति के कारण समाज में रूढ़ियां आ गईं, उन्हें हटाना होगा।
उन्होंने कहा कि देश में रहने वाले सभी हिंदू हैं। कुछ अपने को भूल गए, कुछ जानते हुए भी इसको नकारते हैं। उन्हें जागृत होना पड़ेगा। संघ के तो अच्छे दिन है। समाज का एक बड़ा वर्ग उसका शुभ चिंतक है लेकिन देश के भी अच्छे दिन आएं, इसके लिए संघ कार्य करेगा। सभी को शाखाओं में आने का आमंत्रण है। प्रतिदिन एक घंटा शाखा में दें। एक तिहाई समय जनता की सेवा में लगाएं। जनसेवा से पैदा शक्ति से समाज में परिवर्तन आएगा। स्वामी विवेकानंद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि तीन शब्दों से उन्होंने सबको अपना बना लिया, फि र भारत का आध्यात्म सुनाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता समाज सेवी पदम कुमार जैन ने की। इस मौके पर संघ पदाधिकारी ईश्वरचंद्र गुप्त, वीरेंद्र पराक्रमादित्य, अर्जुनदास, आनंद, भवानी, वासुदेव वासवानी, श्यामजी शुक्ल, शिव विभूषण सिंह ‘सलिल’, पीयूष शुक्ल आदि रहे।

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper