बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

अद्भुत राम अनंत लीला

Kanpur Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
कानपुर। आसनी पर बैठ कर खाना, जमीन पर सोना और ब्रह्म मुहूर्त में उठकर प्रणायाम करना...। ये दिनचर्या किसी योगी की नहीं बल्कि परेड रामलीला के मंचन के लिए मथुरा से आए कलाकारों की है। इन दिनों रामलीला भवन अयोध्या नगरी सा प्रतीत हो रहा है। एक कमरे में दशरथ के चार पुत्रों की तरह राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न रामलीला की तैयारी में जुटे हैं। उधर रामलीला कमेटी के वरिष्ठ पदाधिकारी मुरलीधर बाजोरिया बताते हैं कि खाने का मेन्यू कलाकार ही बताते हैं। रसोई में सात्विक भोजन ही पकता है। 14 अक्तूबर से शुरू होने वाली रामलीला में वस्त्र विन्यास, मेकअप और मंच सज्जा की पूरी तैयारी कमेटी पर निर्भर है।
विज्ञापन


फेस बुक पर मिलेंगे रामजी
रामलीला में प्रभु रामचंद्र का रोल बीकॉम प्रथम वर्ष के छात्र विष्णु चतुर्वेदी निभा रहे हैं। शास्त्री का अध्ययन कर रहे विष्णु सीए करने के बाद धर्मगुरु बनना चाहते हैं। विष्णु शाकाहारी हैं, रोजाना सुबह उठकर प्राणायाम और सूर्य नमस्कार इनकी दिनचर्या में शामिल हैं। इन सबके बीच विष्णु फेसबुक पर अपना एकाउंट अपडेट करना नहीं भूलते हैं। साथ ही विष्णु युवाओं को इंटरनेट के अधिक प्रयोग से बचने की सलाह भी देते हैं।


राम जी की क्लासमेट हैं सीता मइया
बीकॉम फर्स्ट इयर के स्टूडेंट राहुल चतुर्वेदी इस साल सीता माता का रोल करेंगे। एमबीए करने के इच्छुक राहुल बताते हैं प्रभु राम बने विष्णु उनके क्लासमेट हैं। दोनों में खूब पटती है। रिहर्सल के दौरान वे कभी सीता जी के लिए लड़की की आवाज में नहीं बोलते हैं। लेकिन मंच पर पहुंचते ही आवाज लड़कियों जैसी हो जाती है।

तमतमा उठता है चेहरा
लक्ष्मण बने इंटरमीडिएट बायोलॉजी के स्टूडेंट मुकुंद चतुर्वेदी यूं तो बेहद शांत स्वभाव के हैं। विगत तीन सालों से मुकुंद लक्ष्मण की भूमिका निभा रहे हैं। मुकंद बताते हैं कि मंच पर जाते ही पता नहीं कहां से उनके भीतर इतनी एनर्जी आ जाती है कि चेहरा अपने आप गुस्से से तमतमा उठता है।

भरत भइया को पसंद है दाल बाटी
भरत बने मोहित चतुर्वेदी एमकॉम के स्टूडेंट हैं। पांच साल से रामलीला में किरदार निभा रहे मोहित एकाउंटटेंट बनना चाहते हैं। कहते हैं उन्हें दाल बाटी खूब पसंद है। बताते हैं उन्हें गुस्सा आता है, लेकिन भरत की सौम्य छवि की भूमिका वे बखूबी निभा लेते हैं।

सबके लाडले हैं शत्रुघ्न
शत्रुघ्न का रोल निभा रहे रोहित चतुर्वेदी रामलीला के चारों भाईयों में सबसे छोटे हैं। 11वीं के स्टू़डेंट रोहित लॉ करना चाहते हैं। बताते हैं तीनों भाई उन्हें खूब प्यार से रखते हैं। उनकी शैतानियां भी माफ करते हैं। रोहित कहते हैं वे सबके लाडले भइया हैं।

36 साल से आ रहे हैं शहर
रामलीला के व्यास जी महेश दत्त चतुर्वेदी बताते हैं उन्हें कानपुर परेड रामलीला में आते हुए 36 साल गुजर चुके हैं। शहर अब उन्हें घर जैसा लगता है। इस बार उन्होंने रामलीला में कुछ परिवर्तन किए हैं। कलाकारों की डायलॉग डिलेवरी के साथ भजन श्रृंखला में कुछ अलग देखने और सुनने को मिलेगा।

50 सालों से कर रहे हैं रामलीला
मथुरा के समाजसेवी जगदीश चतुर्वेदी 50 सालों से (1962 से) रामलीला में रोल निभा रहे हैं। पहली बार माता कैकेयी बने जगदीश कानपुर रामलीला में 2011 तक 11 बार राजा जनक बन चुके हैं। इस बार वे भगवान परशुराम का रोल करेंगे। उन्होंने बताया कि रावण को छोड़कर बाकी सभी भूमिकाएं निभा चुके हैं।

मेघनाथ और आल राउंडर हैं खूब
रामलीला में इस साल मेघनाथ बनने वाले कपिल चतुर्वेदी पंडिताई करते हैं। बीकॉम पास कपिल को शास्त्रों का अच्छा ज्ञान है। वहीं कानपुर पहली बार आए कलाकार प्रहलाद चतुर्वेदी मंडली में आल राउंडर के नाम से मशहूर हैं।

35 साल से सिल रहे वस्त्र-
रामलीला भवन को जिंदगी के 35 साल दे चुके छन्नू लाल सक्सेना और परेड रामलीला और शोभायात्रा का साथ सालों पुराना है। छन्नू लाल 35 सालों से यहां ठाकुर जी महाराज और कलाकारों के वस्त्र सिलते आ रहे हैं। छन्नू लाल ने बताया कि एक ड्रेस ढाई से तीन घँटे में तैयार हो जाती है। सहायता के लिए हेल्पर रवि भी साथ रहते हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us