बुरे फंसे यूनिवर्सिटी के अफसर

Kanpur Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
कानपुर। ‘मान्यवर कांशीराम निर्वाण दिवस’ मनाकर छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय के अफसर फंस गए हैं। सपा नेताओं के अलावा सीएसजेएमयू स्व वित्तपोषित महाविद्यालय एसोसिएशन के महामंत्री डा. मोहर सिंह यादव ने इस पर आपत्ति जताते हुए सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और महासचिव रामगोपाल यादव से शिकायत की है। उन्होंने विश्वविद्यालय के अफसरों पर बसपा की मानसिकता से काम करने का आरोप लगाया है। कहा है कि शासन की मंशा के विपरीत मान्यवर कांशीराम का निर्वाण दिवस मनाया गया है।
मान्यवर कांशीराम शोधपीठ के तहत मंगलवार को विश्वविद्यालय परिसर के इंटरनेशनल आडिटोरियम में व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया था। इसकी अध्यक्षता कुलपति प्रो. अशोक कुमार ने की। रजिस्ट्रार सय्यद वकार हुसैन निवेदक की भूमिका में रहे। डिप्टी रजिस्ट्रार, असिस्टेंट रजिस्ट्रार भी कार्यक्रम में पहुंचे। वहां पर मान्यवर कांशीराम के सामाजिक कामकाज, जीवनी पर चर्चा हुई। सपा नगर अध्यक्ष चंद्रेश सिंह ने कहा कि शासन ने कांशीराम निर्वाण दिवस पर सार्वजनिक अवकाश रद्द करके पठन-पाठन सुनिश्चित करने का आदेश दिया था। फिर भी व्याख्यानमाला आयोजित करके बजट बेवजह खर्च किया गया। इसमें राजनीतिक भाषणबाजी हुई, जो गलत है। विश्वविद्यालय प्रशासन का यह कदम जनविरोधी है। इससे सामाजिक अशांति फैलेगी। नगर अध्यक्ष ने मामले की जांच के लिए 5 सदस्यीय कमेटी बनायी है। इसमें रियाजुद्दीन सिद्दीकी, मुईन खान, फारुख निजामी, छात्रसभा के अध्यक्ष डा. अमित त्रिवेदी को शामिल किया गया है। 3 दिन में रिपोर्ट मांगी गई है। नगर अध्यक्ष ने कहा है कि रिपोर्ट मिलने के बाद राजभवन से भी शिकायत की जाएगी। वहीं, सपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष नाहर सिंह यादव ने कहा है कि बसपा की मानसिकता से काम करने वाले अधिकारियों को हटाने की मांग शासन से की गई है। इस कार्यक्रम का पूरा ब्योरा भी मंगाया गया है। इसमें कौन-कौन अधिकारी शामिल हुए। क्या-क्या बयानबाजी हुई ह्रै, इसकी भी जानकारी ली जा रही है। डा. मोहर सिंह यादव ने कहा है कि विश्वविद्यालय को राजनीति का अखाड़ा बनाना ठीक नहीं है।


(बयान)
कार्यक्रम 1 घंटे का था। चूंकि मान्यवर कांशीराम शोध पीठ के तहत कार्यक्रम आयोजित किया गया था, इसलिए सभी अधिकारी, कर्मचारी पहुंचे थे। कार्यक्रम में सामान्य चर्चा हुई थी। किसी तरह की राजनीतिक भाषणबाजी नहीं हुई।
सय्यद वकार हुसैन, कुल सचिव सीएसजेएम विश्वविद्यालय

Spotlight

Most Read

Dehradun

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

21 जनवरी 2018

Related Videos

कानपुर में बड़ा हादसा, मिट्टी में दबने से दो मजदूरों की मौत

शनिवार का दिन कानपुर के इन मजदूरों के लिए काल बनकर आया। दो मजदूरों की मौत तब हो गई जब वे शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट की खुदाई कर रहे थे। वहीं तीन मजदूर बुरी तरह घायल हैं।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper