अकबरपुर के ‘अखाड़े’ में भिड़ेंगे ‘दिग्गज’

Kanpur Updated Mon, 08 Oct 2012 12:00 PM IST
रजा शास्त्री
कानपुर। नगर संसदीय सीट से पहले अकबरपुर लोकसभा ‘रणक्षेत्र’ में सपा और भाजपा ने अपने-अपने ‘अखाड़ों’ की मिटट्ी छाननी शुरू कर दी है। इस सीट के लिए दोनों दलों ने अपने-अपने ‘दांव’ लगाए हैं। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और शिवपाल सिंह यादव ने नगर-ग्रामीण जिलाध्यक्ष से उम्मीदवारों की सूची पर मशविरा किया। यहां के लिए क्षत्रिय उम्मीदवार को प्राथमिकता पर रखा गया है। भाजपा में भी चर्चा है कि पूर्व मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह भी इस संसदीय क्षेत्र की स्थिति की टोह ले रहे हैं।
सपा मुखिया ने सोमवार को नगर-ग्रामीण अध्यक्ष चौधरी नाहर सिंह यादव को सैफई बुलाया था। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने ने नाहर सिंह से अकबरपुर संसदीय क्षेत्र के लिए अलग-अलग फीडबैक लिया। जिलाध्यक्ष ने बताया कि जिन लोगों ने टिकट के लिए दावेदारी की है, उनकी गतिविधियों का ब्योरा लिया गया है कि इन नेताओं की पार्टी की बैठकों, सम्मेलनों में कैसी उपस्थिति रहती है। इसके साथ ही अन्य क्रिया-कलापों के संबंध में भी जानकारी ली गई। मंगलवार को सपा के प्रांतीय कार्यालय प्रभारी और सचिव एसआरएस यादव ने जिलाध्यक्ष, उपाध्यक्ष सुनील शुक्ल और जिला सचिव और इंटरनेट जनता दरबार प्रभारी सचिन वोहरा को लखनऊ बुलाकर रिपोर्ट तलब की। नेताओं का कहना है कि अकबरपुर क्षेत्र में क्षत्रिय उम्मीदवार को प्राथमिकता पर रखा गया है। अंतिम निर्णय राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव को लेना है, वे इस वक्त विदेश में हैं। इधर अकबरपुर क्षेत्र को लेकर भाजपा में कयास का दौर-दौरा शुरू हो गया है। चर्चा है कि पूर्व मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह इस क्षेत्र में दिलचस्पी ले रहे हैं। उनका इस क्षेत्र की क्षत्रिय बिरादरी में अच्छा प्रभाव है। पिछले चुनावों में क्षत्रिय मतदाताओं को पार्टी की तरफ लाने के लिए प्रत्याशी उनके कार्यक्रम खासतौर पर लगवाते रहे हैं। पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि पिछले दिनों राजनाथ सिंह के खास समर्थकों की टीम ने स्थिति का आकलन करने के लिए क्षेत्र का दौरा किया था। क्षेत्र में ब्राह्मण के बाद सबसे अधिक क्षत्रिय मतदाता है। इसके बाद पिछड़ी और दलित जातियां हैं। बसपा ने अनिल शुक्ल वारसी को पहले ही प्रत्याशी घोषित कर रखा है। कांग्रेस के सिटिंग सांसद राजाराम पाल को यहां से चुनाव लड़ानेे की उम्मीद है। इन दोनों दलों ने इस वक्त वोटों की आंकड़ेबाजी तेज कर दी है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

कानपुर में बड़ा हादसा, मिट्टी में दबने से दो मजदूरों की मौत

शनिवार का दिन कानपुर के इन मजदूरों के लिए काल बनकर आया। दो मजदूरों की मौत तब हो गई जब वे शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट की खुदाई कर रहे थे। वहीं तीन मजदूर बुरी तरह घायल हैं।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper