मुकेश अपहरणकांड में युवती ही मास्टर माइंड

Kanpur Bureau Updated Sat, 07 Oct 2017 12:43 AM IST
अमर उजाला ब्यूरो
फतेहपुर। मुकेश अपहरण कांड में परिवार के नए बयान ने फिर नया मोड़ आ गया है। बांदा जिले की आरोपी युवती को ही मास्टरमाइंड बताया गया। यह भी पता चला है कि वह चार शादी कर चुकी है।

पांचवां शिकार मुकेश बना है। लोगों को प्रेमजाल में फंसाना और ब्लैकमेल करना उसकी फितरत है। इसमें उसके साथ घरवाले भी शामिल हैं। जो दबाव बनाकर मोटी रकम वसूलते हैं।

बकेवर थाना क्षेत्र के पधारा गांव निवासी मुकेश का बुधवार की सुबह मझिलेगांव से बोलेरो सवार लोग अपहरण कर ले गए थे। मुकेश को एक युवती ने फोन कर घर से बुलाया था। मुकेश चचेरे भाई शिवम के साथ सूरत में रहता था। दशहरा पर चचेरे भाई शिवम भी गांव आया था। बाद में वह लौट गया था।

चाचा राजेश ने बेटे शिवम को मुकेश के साथ हुई घटना की जानकारी दी तो शिवम ने नया खुलासा किया। पुलिस को भी इसकी जानकारी दी। राजेश ने पुलिस को बताया कि उनके घर में रुकने वाली युवती बांदा की शहर कोतवाली क्षेत्र के कटरा इलाके के किरन कांप्लेक्स के पास रहती है।

उसने चौथी शादी कानपुर कल्यानपुर थाना क्षेत्र के केशवपुरम निवासी एक शख्स से की थी। उस युवक के साथ वह सूरत में रहती थी। सूरत में ही युवती ने मुकेश को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। इसके बाद रुपयों की मांग करती थी। न देने पर फंसाने की धमकी देती थी। साजिश के तहत ही मुकेश के घर एक अक्तूबर को आकर रुकी थी।

युवती के साथ उसके चाचा, दो भाई और एक महिला वसूली के लिए दबाव बनाते हैं। राजेश ने बताया मुकेश के सहारे उसका छोटा भाई उमेश और बहन सुनीता हैं। दोनों मानसिक रूप से अस्वस्थ हैं।

उधर, पुलिस ने मुकेश के मोबाइल नंबर की काल डिटेल निकाली है। सर्विलांस पर मोबाइल नंबर का सीडीआर निकाल छानबीन की जा रही है। सीओ पीयूषकांत राय ने बताया कि काल डिटेल खंगाल कर अपहृत का सुराग लगाने की कोशिश की जा रही है।
कानपुर में युवती के मिलने पर दहशत में था।

मुकेश परिजनों ने बताया कि दशहरे के दिन मुकेश चचेरे भाई शिवम, बहन शिवांगी, भाई उमेश, बहन सुनीता को लेकर कानपुर चिड़ियाघर घूमने गया था। वहां युवती भी पहुंच गई थी। शिवांगी ने बताया कि युवती उसके भाई शिवम को देखकर पहले छिप गई थी। बाद में वह सामने आई थी।

वह मुकेश से कह रही थी कि उसे छोड़ेगी नहीं। उसने मुकेश से पूछा था कि वह क्यों डरते हैं तो मुकेश ने जवाब दिया कि वह झगड़ेगा तो पूरे परिवार को बर्बाद कर देगी।


पुलिस बोली, बोलेरो लेकर आओ तो चले बांदा
गांव वालों का कहना है कि इस मामले में पुलिस भी लापरवाही बरत रही है। घटना के वक्त करीब आधे घंटे तक अपहरणकर्ता मुकेश और परिवार के मोनू को मारते पीटते रहे। ग्रामीणों ने विरोध भी किया।

शिकायत पर पुलिस के कान में जू नहीं रेंगी। पुलिस ने गुरुवार को सारी हदें पार कर दी। गरीब तबके के परिवार से मुकेश को खोजने के लिए बोलेरो लेकर आने की बात कही। चाचा राजेश ने बताया कि थाने के दरोगा ने उससे बोलेरो लाने की बात कही। यह भी कहा कि पुलिस बांदा जाने के लिए रुपये जेब से नहीं लगाएगी।

Spotlight

Most Read

Shimla

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

20 जनवरी 2018

Related Videos

कानपुर में बड़ा हादसा, मिट्टी में दबने से दो मजदूरों की मौत

शनिवार का दिन कानपुर के इन मजदूरों के लिए काल बनकर आया। दो मजदूरों की मौत तब हो गई जब वे शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के बेसमेंट की खुदाई कर रहे थे। वहीं तीन मजदूर बुरी तरह घायल हैं।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper