विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

लखनऊ में बोले शाह- जिसको विरोध करना है करे, सीएए वापस नहीं होने वाला है

देश के गृहमंत्री अमित शाह लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में बड़ी जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज विपक्ष नागरिकता कानून का विरोध कर रहा है। यह सिर्फ एक दुष्प्रचार है। इससे किसी को नागरिकता नहीं जाएगी।

21 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कन्नौज

मंगलवार, 21 जनवरी 2020

खेत की सुरक्षा बाड़ में फैलाया कंरट, भट्टा मजदूर की मौत

छिबरामऊ। अन्ना पशुओं से फसल की सुरक्षा के लिए खेतों के चारों ओर लगाई गई कटीले तारों की बेरीकेडिंग में दौड़ रहे करंट की चपेट में आकर भट्टा मजदूर की मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
ग्राम नगला भारा निवासी कन्हैयालाल पुत्र कालीचरन ने खेत में खड़ी गेहूं की फसल को अन्ना मवेशियों से बचाने के लिए खेत के चारों ओर कटीले तारों की बेरीकेडिंग कराई थी। रात के समय इन कटीले तारों में करंट रहता था। शनिवार की रात भगवती ईंट भट्टे पर काम करने वाला मजदूर छोटे पुत्र कपूरी मान निवासी अमादाबाद थाना इस्लामपुर जनपद नालंद बिहार, कन्हैयालाल के खेत के पास से गुजर रहा था। तभी वह करंट की चपेट में आ गया। सुबह होने पर परिजनों ने खोजबीन की तो कन्हैयालाल के खेत की सुरक्षा में बिछे कटीले तारों में चिपका मिला। सूचना पर थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह व चौकी इंचार्ज अवधेश राठौर ने घटना की जानकारी ली। थानाध्यक्ष ने बताया कि खेत की सुरक्षा को बिछवाए गए तारों में करंट कैसे फैला, इसकी जांच करवाई जा रही है। इसके साथ ही तहरीर मिलते ही मुकदमा पंजीकृत करवा दिया जाएगा।
तीन वर्षों से कर रहा था भट्टे पर काम
करंट की चपेट में आकर असमय मौत का शिकार हुआ भट्टा मजदूर छोटे तीन साल पहले ग्राम टड़ा रायपुर स्थित भट्टे पर मजदूरी करने के लिए आया था। वह अपनी पत्नी आशा देवी के साथ ईंट पथाई का काम करता था। उसके परिवार में पत्नी आशा देवी के अलावा बेटी देवी (10), बेबी (5), रमन्नती (3) व दीपक (1) हैं, जिनका रो रोकर बुरा हाल था।
... और पढ़ें

एक ही गांव में चोरों ने बनाया पांच घरों को निशाना

छिबरामऊ। क्षेत्र के गांव कुंवरपुर बनवारी में चोरों ने रात के समय पांच घरों को अपना निशाना बनाया। तीन घरों से चोरों ने जेवरात समेत हजारों की नगदी पार कर दी, जबकि दो घरों में चोरी में असफल रहे।
ग्राम कुंवरपुर बनवारी में रविवार की रात किसी समय अज्ञात चोरों ने पूर्व माध्यमिक विद्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मोहम्मद सलीम पुत्र मेंहदी हसन के घर पर धावा बोला। चोरों ने यहां से दो सोने के लॉकेट, एक जोड़ी कुंडल, दो नथनी, अंगूठी, चांदी की चार अंगूठी व जंजीर व नगदी पार कर दी। सुबह जब परिजन सोकर उठे और घर में सामान इधर उधर बिखरा पड़ा देख चोरी की जानकारी हुई। गांव के ही मुकुट सिंह पुत्र सरमन सिंह के दरवाजे की कुंडी काटकर चोर अंदर घुस गए और बक्से में रखी दो अंगूठी, एक जोड़ी तोड़िया सहित आलू बिक्त्रस्ी के 80 हजार रुपये चोरी कर लिए। इसके अलावा श्यामवीर पुत्र रामदत्त मिस्त्री के घर से भी चोरों ने एक जंजीर, अंगूठी, पायल, कमरबंद पेटी व पांच हजार रुपये चोरी कर लिए। इसके अलावा चोरों ने गांव के आदेश पल्लेदार पुत्र फूलचंद्र व बबलू पल्लेदार पुत्र श्रीराम के घर पर धावा बोला। यहां चोरों को कुछ भी हाथ न लग सका। एक साथ पांच घरों में हुई चोरी से पूरे गांव में दहशत व्याप्त हो गई है। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नाराजगी व्यक्त करते हुए गांव में पुलिस गश्त शुरू करवाए जाने की मांग की है।
4 फरवरी को आनी है सलीम की बेटी की बारात
ग्राम महमूदपुर खास स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर तैनात मोहम्मद सलीम ने बेटी सोनम का विवाह ग्राम कुदरेल इटावा से तय किया है। चार फरवरी को घर में बारात आनी है। घर में हुई चोरी के बाद से शादी की खुशियां काफूर हो गई। सोनम सहित अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
फारेंसिक टीम ने जुटाए साक्ष्य
ग्राम कुंवरपुर बनवारी में एक साथ हुई पांच घरों में चोरी की घटना के बाद पहुंचे मंडी चैकी इंचार्ज राजा दुबे ने ग्रामीणों ने चोरी के संबंध में जांच पड़ताल की। मामले को गंभीरता से लेकर पुलिस ने फारेंसिक टीम को मौके पर बुलवा लिया। शाम को पहुंची फारेंसिक टीम के सदस्यों ने चोरी के साक्ष्य जुटाए।
... और पढ़ें

ट्रेन की चपेट में आए युवक की मौत

कन्नौज। रेलवे लाइन पार करते समय युवक ट्रेन की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने परिजनो को हादसे की सूचना दी।
सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव मिश्रीपुर निवासी बेंचेलाल (20) पुत्र जगदीश राजपूत मुंबई में मेहनत-मजदूरी करता है। कुछ दिन पूर्व वह घर आया था। सोमवार सुबह किसी काम से मकरंद नगर आया था। एफएफडीसी के सामने वह रेलवे ट्रैक पार कर रहा था। तभी अप छपरा-एक्सप्रेस की चपेट में आकर उसकी मौत हो गई। मकरंद नगर चौकी पुलिस ने मृतक के जेब में मिले मोबाइल से परिजनों को हादसे की जानकारी दी। पिता ने बताया कि बेटा दो-तीन दिन में मुंबई जाने की बात कह रहा था। हादसे से पूरा परिवार में सदमे में है। वहीं कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
... और पढ़ें

उपकेंद्र के भवन निर्माण में न बरती जाए लापरवाही, एसी ने अकबरपुर सरायघाघ का किया निरीक्षण

कन्नौज। जिले में बिजली विभाग की ओर से कराए जा रहे कार्यों का आगरा से आए अधीक्षण अभियंता पावर सेल व कार्य मंडल के अधीक्षण अभियंता ने स्थलीय निरीक्षण किया। एक्सईएन को कार्य में तेजी लाने व अन्य कार्य समय से पूर्ण कराने के निर्देश दिए।
सोमवार को आगरा से आए पावर सेल के अधीक्षण अभियंता अवन अग्रवाल, कार्य मंडल के अधीक्षण अभियंता विवेक अस्थाना ने एसी जीपी यादव के साथ एक्सईएन कन्नौज शादाब अहमद, एक्सईएन छिबरामऊ रविंद्र कुमार की बैठक ली। यहां समीक्षा के दौरान पाया गया कि आसान किस्त योजना में चंद दिन शेष रह गए हैं। इसके बाद भी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए बकायेदार कम पहुंच रहे हैं। अब एक्सईएन जिले में बकायेदारों को चिह्नित कर उन्हें योजना की बाबत जानकारी देंगे। कहा गया कि बकाया वसूली के लिए अभियान चलाएं। 10 किलोवाट से अधिक भार के कनेक्शन धारकों से बकाया वसूली की जाए। यह कहने के बाद भी बकाया जमा नहीं कर रहे हैं तो कनेक्शन काट दें। इस कार्य में लापरवाही न बरती जाए।
बाद में अधिकारियों ने शहर के अकबरपुर सरायघाघ विद्युत उपकेंद्र का निरीक्षण किया। यहां भवन निर्माण में कई खामियां मिलीं। कमरों को अधूरा छोड़ा गया है। उपकेंद्र के अंदर मार्ग का निर्माण नहीं किया गया है। भवन का निर्माण करने वाली संस्था से तत्काल काम पूर्ण करने के लिए कहा गया। रास्ते का निर्माण कराने के लिए भी कहा। इस परबताया गया कि रास्ते का निर्माण नगरपालिका की ओर से कराया जाएगा। उपकेंद्र परिसर में फुलवारी व छायादार पौध लगाने के भी निर्देश दिए गए।
... और पढ़ें
बिजली विभाग के एक्सईएन की बैठक लेते अधीक्षण अभियंता जीपी यादव, अवन अग्रवाल, विवेक अस्थाना व एक्सई बिजली विभाग के एक्सईएन की बैठक लेते अधीक्षण अभियंता जीपी यादव, अवन अग्रवाल, विवेक अस्थाना व एक्सई

खतौनी में दर्ज होगा खाताधारकों का आधार नंबर

तिर्वा(कन्नौज)। किसानों की खतौनी को आधार नंबर से लिंक किया जाएगा। इस पर काम शुरू कर दिया गया है। डिजिटल फार्मेट में सहखातेदार वाली खतौनी में भी किसान के हिस्से का रकबा दर्ज होगा। तहसील में 26 गांवों के किसानों की खतौनी में आधार लिंक के साथ अंश निर्धारण शुरू कर दिया गया है।
किसानों की जमीन पर भूमाफिया हेराफेरी कर अपना नाम दर्ज करा लेते थे। इससे किसानों को रिकार्ड सही कराने के लिए तहसील के चक्कर काटने पड़ते हैं। अब खतौनी को डिजिटल किया जा रहा है। किसानों को मिलने वाली खतौनी पहले डिजिटल तरीके से कंप्यूटर तरीके से मिलती थी। इसे कहीं भी इंटरनेट के जरिए देखा जा सकता है। सरकार डिजिटल खतौनी का स्वरूप बदलने जा रही है। अब खतौनी में किसान का आधार नंबर दर्ज होगा। इससे आसानी से पता लग सकेगा कि किसान के पास कितनी भूमि है। किसान अपनी संपत्ति को छिपा नहीं सकेंगे। भू माफिया भी खतौनी में गड़बड़ी नहीं कर पाएंगे।
खतौनी में खातेदार का आधार लिंक होने के साथ-साथ सहखातेदार वाली खतौनी में किसान की अलग-अलग हिस्साकसी दर्ज होगी। इससे पता लगाया जा सकेगा कि खाते में किस किसान के नाम कितनी भूमि दर्ज है। चिह्नित गांव में तैनात लेखपालों को निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक किसान से मिलकर उसके आधार नंबर के साथ सहखातेदारों वाले किसानों से उनके हिस्से की भूमि की जानकारी के साथ प्रमाण देखे जाएं कि किस आधार पर किसानों ने अपने हिस्से की भूमि बताई है। किसानों के आधार नंबर व उनकी हिस्साकसी भूलेख कक्ष में जल्द उपलब्ध कराई जाए, इससे कि खतौनी में आधार फीडिंग के साथ हिस्सा तय हो सके। भूलेख विभाग में कार्यरत लेखपाल राजेश पटेल ने बताया कि अभी 26 गांवाें की खतौनी में किसानों के आधार लिंक के साथ हिस्साकसी का काम शुरू किया गया है। एसडीएम जयकरन ने बताया कि तहसील में 165 राजस्व गांव हैं। छह साल के अंदर सभी गांवों में किसानों की खतौनी में अंश निर्धारण होना है।
तहसील के इन गांवों में हो रहा कार्य
उदयपुर, करसा, कुंअरपुर काशीदीन,जरिहापुर, रामपुर सौरिख, उमगरा, खुर्दापुर, नगलादनू, सरगौली, सिमुंआपुर, सिरसा, हरौली, कडेरा, उधमपुर, मदनापुर, पैथाना, बस्ता, चंदौली,बहसार खामा, सुर्सी, लाख, अगौस, त्रिमुखा, जनखत, खैरनगर।
... और पढ़ें

आवास व स्वास्थ्य लाभ देने को तीन तलाक महिलाओं को खोजा जाएगा

कन्नौज। तीन तलाक का कई दशकों से दंश झेल रहीं महिलाओं के लिए अच्छी खबर है। सरकार ने इन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान भारत तथा मुख्यमंत्री जन-आरोग्य योजना से लाभान्वित करने की कार्ययोजना तैयार की है। उच्चाधिकारियों का पत्र मिलते ही ग्राम्य विकास अभिकरण विभाग ने तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को खोजना शुरू कर दिया है। पीड़ित महिलाओं की सूची प्राप्त करने के लिए पुलिस व डीपीओ विभाग को पत्र भेजा गया है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित करने की घोषणा की थी। उनके आदेश के बाद महिला कल्याण निदेशक मनोज कुमार राय ने जिलाधिकारी व सीडीओ को पत्र भेजा था। इसमें जिले में तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं की सूचना मांगी गई है। उच्चाधिकारियों के आदेश पर ग्राम्य विकास अभिकरण विभाग के परियोजना निदेशक सुशील कुमार सिंह ने पुलिस व जिला प्रोबेशन अधिकारी को पत्र लिखा है। इसमें तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं की नगरीय व तहसील वार सूची उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है। इन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान भारत तथा मुख्यमंत्री जन-आरोग्य योजना से लाभान्वित किया जाएगा।
इन महिलाओं को किया जाएगा लाभान्वित
इस योजना में उन पीड़ित महिलाओं को शामिल किया जाएगा, जिनका न्यायिक प्रक्रिया व गुजारा भत्ता पाने के लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 125 एक्ट के अंतर्गत मामला चल रहा है। इसके अलावा द मुस्लिम वुमेन प्रोटेक्शन ऑफ राइट ऑन मैरिज एक्ट-2019 की धारा सात (ए) के अंतर्गत पीड़ित महिला ने संबंधित थाने में मुकदमा पंजीकृत करवाया होगा।
सरकार की मंशा के अनुरूप तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को प्रधानमंत्री योजना के तहत आवास, आयुष्मान भारत तथा मुख्यमंत्री जन-आरोग्य योजना से लाभान्वित किया जाएगा। पीड़ित महिलाओं की संबंधित विभागों से सूची मांगी गई है। इससे कि इसे उच्चाधिकारियों को भेजा जा सके। इसके बाद इन्हें लाभान्वित किया जाएगा।
-सुशील कुमार सिंह, पीडी डीआरडीए।
... और पढ़ें

प्रयागराज में बैठे अफसरों की नजर में होंगे सभी परीक्षा केंद्र

कन्नौज। माध्यमिक शिक्षा परिषद प्रयागराज बोर्ड ने हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं नकल विहीन कराने के लिए जबरदस्त तैयारी की है। 18 फरवरी से प्रस्तावित परीक्षा में मंडल व बोर्ड के अधिकारी एक क्लिक पर हाल जान सकेंगे। विद्यालयों में फोर जी इंटरनेट राउटर सहित व्यवस्था करने के बाद करीब 36 केंद्रों को ऑनलाइन कर दिया गया है। नई व्यवस्था से कोई भी विद्यालय नकल कराने की हिम्मत नहीं जुटा पाएगा। नकल रोकने के लिए जिला स्तरीय अधिकारियों को भी सहूलियत रहेगी।
फरवरी में होने वाली परीक्षा के लिए बोर्ड ने इस बार नई रणनीति तैयार की है। इस व्यवस्था के जरिए अब मंडल स्तर व यूपी बोर्ड के अधिकारी अपने कार्यालय में बैठकर एक क्लिक पर परीक्षा की मॉनीटरिंग कर सकेंगे। डीआईओएस राजेंद्र बाबू ने बताया कि बोर्ड के निर्देश पर बनाए गए केंद्रों के यूजर आईडी और पासवर्ड की फीडिंग कराई जा रही है। 36 केंद्र ऑनलाइन हो चुके हैं। यूजर आईडी पासवर्ड डालने के बाद केंद्रों का हाल किसी भी जगह से देखा जा सकेगा।
डीआईओएस कार्यालय में बनाया जाएगा कंट्रोल रूम
कन्नौज। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा के दौरान डीआईओएस कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। कंट्रोल रूम में कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। कर्मचारी यहां बैठकर परीक्षा का हाल जानेंगे। यदि किसी केंद्र पर गड़बड़ी नजर आएगी तो तत्काल डीआईओएस सहित अन्य अधिकारियों को सूचना दी जाएगी। वह मौके पर पहुंचकर जांच करेंगे।
... और पढ़ें

बारिश से फसलों में नुकसान जानने 16 टीमें जुटीं

कन्नौज। उच्चाधिकारियों के आदेश पर बारिश से फसलों को हुए नुकसान के सत्यापन में 16 टीमों को लगाया गया है। एडीओ कृषि व सहायक कृषि रक्षा पर्यवेक्षक को जांच सौंपी गई है। अफसरों को एक सप्ताह में नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है। इसे उच्चाधिकारियों को भेजा जाएगा। इसके बाद किसानों को फसलों में हुए नुकसान का मुआवजा दिया जाएगा।
कृषि विभाग के उच्चाधिकारियों ने 15 व 16 जनवरी को हुई बारिश से फसलों में हुए नुकसान की जिलेवार रिपोर्ट मांगी थी। जिला कृषि अधिकारी व जिला कृषि रक्षा अधिकारी को पत्र भेजा गया था। जिला कृषि अधिकारी राम मिलन सिंह ने आठ ब्लाकों में दो-दो टीमों को लगाया है। इसमें सहायक विकास अधिकारी पंचायत कृषि व कृषि रक्षा पर्यवेक्षक शामिल हैं।
जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि सभी अफसरों से एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी गई है। दो दिन हुई बारिश से सबसे ज्यादा आलू, सरसों, धनिया व मटर को नुकसान हुआ है। जिले में 20 फीसदी नुकसान होने की आशंका है। अफसरों की रिपोर्ट को उच्चाधिकारियों को भेजा जाएगा।
दो दिन में हुई 40.73 मिलीमीटर बारिश
जिले में 15 व 16 जनवरी को लगातार बारिश हुई। इसमें 15 जनवरी को सदर तहसील में 20.4 एमएम, छिबरामऊ में 19.8 एमएम व तिर्वा में 24 एमएम समेत औसतन 21.4 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई। 16 जनवरी को सदर तहसील में 19 एमएम, छिबरामऊ में 22 एमएम व तिर्वा तहसील में 17 एमएम समेत औसतन 19.33 मिलीमीटर बारिश हुई। दो दिन में 40.73 मिली मीटर बारिश हुई है।
... और पढ़ें

किसी ने बस मालिक, तो किसी ने चालक की गलती गिनाईं

कन्नौज। छिबरामऊ के घिलोई में बस-ट्रक हादसे की मजिस्ट्रेटी जांच की जा रही है। लोगों को बयान देने के लिए 20 जनवरी तक समय दिया गया था। अंतिम दिन बयान देने के लिए लोगों में होड़ रही। किसी ने बस मालिक तो किसी ने चालक की गलती बताई। अब तक कुल आठ लोगों ने मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान दिए हैं। एडीएम ने जल्द जांच कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट देने की बात कही है।
छिबरामऊ के घिलोई में 10 जनवरी को बस हादसा हुआ था। इसमें कई लोगों के मारे जाने की आशंका है। जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने बस हादसे के बाद अपर जिलाधिकारी गजेंद्र सिंह को 12 जनवरी को मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए थे। अपर जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रेटी जांच में सहयोग करने के लिए लोगों को 20 जनवरी तक कार्यालय आकर मौखिक व लिखित बयान देने के लिए कहा था।
सोमवार को बयान देने कई लोग पहुंचे। छिबरामऊ के जेरकिला निवासी हसीन बानो पत्नी शफी उल्ला ने बताया कि चालक लापरवाही से बस चला रहा था। घिलोई के प्रधान अवनीश कुमार द्विवेदी ने बताया कि वह हादसे के बाद ग्रामीणों को लेकर मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों की मदद से कई लोगों को बस से बाहर निकाला। जयपुर के शागानगर निवासी उर्मिला पत्नी कृपाशंकर राठौर ने बताया कि बस ओवरलोड थी। इसके अलावा जिला कासगंज के गंजडुडवारा निवासी नाजिम पत्नी नसीम, फर्रुखाबाद के कमालगंज उगरापुर निवासी रईस अहमद पुत्र मोहम्मद उमर, यहीं के पुखरा निवासी हरिनंदन पुत्र श्रीराम ने बस मालिक समेत चालक की गलती बताई।
इससे पहले मृतक बस चालक का भाई विमलेश कश्यप व सुनील दुबे बयान दर्ज करवा चुके हैं। अपर जिलाधिकारी ने बताया बिंदुवार जांच रिपोर्ट तैयार की जा रही है। जल्द ही जिलाधिकारी को रिपोर्ट सौंपी जाएगी। जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।
... और पढ़ें

ट्राली से गिरकर बैंड बजाने जा रहे युवक की मौत

गुरसहायगंज(कन्नौज)। शादी में बैंड बजाने जा रहा युवक ट्रैक्टर की ट्राली से गिरकर घायल हो गया। साथियों ने उसे सीएचसी में भर्ती कराया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इससे परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
कस्बे के मोहल्ला सुल्तान आलम नगर निवासी राजू अली (35) पुत्र नफीस अली नगर के एक बैंड बाजा कंपनी में बैंड बजाता था। सोमवार देर शाम ठठिया में एक शादी समारोह के लिए बैंड बजाने के लिए राजू अली साथियों के साथ ट्रैक्टर की ट्राली में बैठकर जा रहा था। ट्राली में बैंड की ठेली भी लदी थी। इससे कई लोग ट्रैक्टर ट्राली के किनारे बैठे थे। तिर्वा जाने वाले मार्ग पर इंदिरानगर के पास जैसे ही ट्रैक्टर पहुंचा, राजू अली ट्रैक्टर की ट्राली से उछलकर सड़क पर गिरकर घायल हो गया। ट्रैक्टर रुकाने के बाद साथियों ने सीएचसी में भर्ती कराया। यहां उपचार के दौरान मौत हो गई। इससे परिवार में कोहराम मच गया। दरोगा आशुतोष यादव ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
... और पढ़ें

अफसरों की लापरवाही से लखनऊ से लौटाए गए डीएनए सैंपल

कन्नौज। 10 जनवरी को हुए बस हादसे में मृतकों की शिनाख्त अफसरों की लापरवाही से अभी तक लटकी हुई है। गुरुवार को डीएन टेस्ट को छह लोगों के लिए गए खून के नमूनों को लखनऊ की विधि विज्ञान प्रयोगशाला ने वापस भेज दिया है। कारण रहा कि सैंपल के साथ भेजे गए फार्म में मृतक से सैंपल देने वाले के बीच क्या रिश्ता है, इसे स्पष्ट करने वाला कालम खाली छोड़ दिया गया था। अधिकारी अब फार्म के इस कालम को भी भरकर मंगलवार को फिर इन सैंपलों को लखनऊ भेजने की तैयारी में हैं।
जिला अस्पताल में गुरुवार शाम छिबरामऊ के जेरकिला निवासी हसीन बानो पत्नी सफीउल्ला (लापता नूरी की मां), कासगंज के गंज डुडवारा निवासी नाजिम वारिसी पुत्र वसीम (लापता तान्या के पिता), फर्रुखाबाद के कमालगंज उगरापुर निवासी रईस अहमद पुत्र मो. उमर (लापता लईक का भाई), नफीस अहमद पुत्र मो. उमर (लापता लईक का भाई), कानपुर नगर के फेथफुलगंज रेल बाजार निवासी शहजहां बेगम पत्नी मो. इरफान (लापता शाहिदा बेगम की मां), तालग्राम के अमोलर निवासी उर्मिला देवी पत्नी कृपाशंकर राठौर (लापता प्रिया की मां) का डीएनए सैंपल जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ. सतेंद्र शाहू ने लिया था।
प्रत्येक सैंपल के साथ एक फार्म भरा जाना था। इसमें मृतकों अथवा लापता व्यक्ति के नाम, पता आदि के साथ ही सैंपल देने वाले के बारे में जानकारी भी भरी जानी थी। इसी फार्म में रिश्ते का एक कालम भी है। इसे डॉक्टर ने नहीं भरा। फार्म सैंपल के साथ छिबरामऊ पुलिस के सुपुर्द कर दिए। यहां से डीएनए सैंपल और फार्म को जांच अधिकारी रामबदन ने लखनऊ की विधि विज्ञान प्रयोगशाला में जमा कर दिया। डीएनए जांच से पहले फार्म की जांच की गई तो सभी छह सैंपलों के साथ लगे फार्मों में रिश्ते का कालम छूटा था। इससे प्रयोगशाला से इन सैंपलों और फार्म को वापस भेज दिया गया। फार्म वापस आने पर एसपी ने इस पर नाराजगी जताई। सोमवार को छिबरामऊ कोतवाली के प्रभारी शैलेंद्र मिश्रा जिला अस्पताल पहुंचे। चिकित्सक सतेंद्र साहू से मिलकर अधूरे कागजातों को तैयार कराया। सीएमएस डॉ. यूसी मिश्रा ने बताया कि सैंपल लेने के समय फार्म भरने में डॉक्टर से चूक हुई है। इसे अब सुधार लिया गया है।
एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि डॉक्टर ने पहली बार डीएनए सैंपल लिए थे। जो फार्म भरा जाना था, उसकी जानकारी नहीं थी। इससे चूक हुई। जांच अधिकारी को भी फार्म चेक करना चाहिए था। उन्होंने नहीं किया। यही कारण रहा कि सैंपल वापस आ गए। अब फार्म के छूटे कालम को भरवा लिया गया है। इन्हें मंगलवार को लखनऊ भेजा जाएगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us