भारी जलभराव से शहरी बेहाल

Kannauj Updated Sun, 08 Jul 2012 12:00 PM IST
कन्नौज। सावन आते ही बादल बरसे तो अफसरों की कथनी और करनी की पोल भी खुल गई। आम जनमानस के साथ ही सरकारी दफ्तरों ने भी सफाई व्यवस्था में बरती गई हीलाहवाली से दिक्कतें झेलीं। सरकारी कार्यालयों में जलभराव देखकर जनता बोली कि जब हाकिमों के यहां यह हाल है तो पूरे जिले की दुर्दशा का अंदाजा खुद लगाया जा सकता है।
जरा सी बारिश में बीएसए कार्यालय के अंदर घुटनों तक बारिश का पानी भर गया। कर्मचारी बाहर निकले तो उनके जूते और मोजे भीग गए। बाबुओं ने बताया कि नालियां चोक हैं। जल निकासी का जरिया न होने से दफ्तर के दो कमरों में जलभराव हो जाता है। जिले की 441 ग्राम पंचायतों में विकास कार्यों की कमान संभाले विकास भवन भी जलभराव से अछूता नहीं है। अधिकारी कार्यालय के इर्दगिर्द ही नालियों की सफाई नहीं करा सके।
ऐसे में उनसे ग्रामीण क्षेत्रों में जलभराव की समस्या का समाधान होने के दावों पर पानी फिरता नजर आया। गेट पर भरे पानी में मंझाकर कई अफसरों को निकलना पड़ा। फरियादी कुछ दूसरे गेटों से होकर पहुंचे तो कुछ भीगकर अंदर प्रवेश किए। तहसील सदर के दोनों गेटों पर भी पानी रहा। पुलिस चौकी सरायमीरा के बाहर तो घुटनों तक पानी भरा रहा। यही हाल कई अन्य सरकारी कार्यालयों का भी रहा। जलभराव ने साबित कर दिया कि नालों और नाली की सही तरीके से सफाई नहीं कराई गई है। कागजों पर ही कचरा निकालकर उसे फिंकवा दिया गया। जमीन पर काम न होने के कारण पहली बरसात में ही गलियां उफना गईं। स्टेशन रोड पर भी तालाब जैसा नजारा दिखा।
-----
इंसेट
गांवों का हाल तो और भी बदतर
कन्नौज। जिला पंचायत राज विभाग की मेहरबानी से काम में लापरवाही बरतने वाले सफाई कर्मियों ने बरसात के मौसम में गांव वालों के लिए मुसीबतों को दावत दे दी है। जिले के ज्यादातर गांवों में गलियां कीचड़युक्त गंदे पानी से भर गईं। कई घंटे बाद पानी कम हुआ तो कीचड़ बिखर गया। इससे लोग आवागमन के दौरान रपटते रहे। कच्चे रास्तों पर आवागमन में सबसे ज्यादा दिक्कतें हो रही हैं। ग्रामीणों की मानें तो बंद कमरों में बैठकर विकास की गाथा सुनाने वाले अधिकारी यदि गांवों की तरफ कूच करें और मौका मुआयना करें तो उन्हें पता चले कि हालात कितने बदतर हैं। फाइलों में लकालक गांव बरसात आते ही गंदगी से सराबोर हो गए हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

भयंकर हादसे के शिकार युवक ने योगी से लगाई मदद की गुहार, सीएम ने ट्विटर पर ये दिया जवाब

दुर्घटना में रीढ़ की हड्डी टूटने से लकवा के शिकार युवक आशीष तिवारी की गुहार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुनी ली। योगी ने खुद ट्वीट कर उसे मदद का भरोसा दिलाया और जिला प्रशासन को निर्देश दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper