ड्रेसें पहनने से बच रहे सफाईकर्मी

Kannauj Updated Tue, 12 Jun 2012 12:00 PM IST
कन्नौज। करीब छह माह पूर्व सफाईकर्मियों को उपलब्ध कराई गई हरी ड्रेसें बेमतलब साबित हो रही हैं। पालिका प्रशासन की लापरवाही के चलते सफाईकर्मी ड्रेसों को ड्यूटी के दौरान नहीं पहनते हैं। नतीजतन हजारों का बजट खर्च होने के बावजूद नतीजा शून्य है।
मालूम हो कि सितंबर में तत्कालीन सदर एसडीएम/पालिका ईओ केपी सिंह के निर्देश पर नगर पालिका के सफाई कर्मियों को हरी ड्रेसों प्रदान करने का निर्णय लिया गया था। दिसंबर में नगर पालिका के 102 पुरुष सफाईकर्मियों को 485 रुपए की लागत से तैयार ड्रेसें दी गईं थी। वहीं 16 महिला सफाईकर्मियों को भी हरी साड़ियां प्रदान की गईं थी। इसमें 57 हजार 230 रूपए का खर्च आया था। छह माह बीत जाने के बाद भी सफाईकर्मी तय ड्रेसें पहनने से परहेज कर रहे हैं। कई मोहल्लों में तैनात सफाईकर्मी ठेके पर काम कराते हैं। इसके चलते वे ड्रेस पहनने से बचते हैं। पालिका के ईओ रविंद्र कुमार का कहना है कि ड्रेसें न पहने वाले सफाईकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं सफाई व्यवस्था में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls