जांच में फेल निकले पांच नमूने

Kannauj Updated Thu, 08 May 2014 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

विज्ञापन

दो पर दर्ज हुआ मुकदमा, कुट्टू का आटा निकला मिलावटी
कन्नौज। नवदुर्गा उत्सव सहित कई अन्य त्योहारों पर खाद्य एवं औषधि विभाग द्वारा दुकानों पर छापे मारकर खाद्य पदार्थोें के भरे गए नमूनों की जांच रिपोर्ट आ गई है। इसमें पांच नमूने फेल निकले हैं। मोटा मुनाफा कमाने के चक्कर में दुकानदारों ने जनता की सेहत से खिलवाड़ किया। अब उन पर नकेल कसने के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है। अफसरों ने दो दुकानदारों के खिलाफ रिपोर्ट लिख ली है, जबकि अन्य दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की कवायद शुरू की है।
खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजेश कुमार व खाद्य निरीक्षक केएन त्रिपाठी ने त्योहारों के मौके पर अभियान चलाकर खाद्य पदार्थों के नमूने भरे थे। इन्हें जांच करने के लिए लैब भेजा गया था। रिपोर्ट के अनुसार तिर्वा कसबा निवासी मुन्नू सिंह यादव पुत्र बालकराम यादव की ठठिया रोड पर अन्नपूर्णा मंदिर के निकट किराना की दुकान है। 24 जुलाई 2013 को विभागीय अधिकारियों ने सरसों के तेल का नमूना यहां से भरा था, जो लैब में फेल पाया गया। इस तेल में सरसों का तेल बनाने वाला बटर एलो कलर मिक्स किया गया था, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इसकी जांच आख्या सीजेएम न्यायालय में भेजने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराई गई।
इसी तरह कन्नौज शहर के मोहल्ला अजयपाल निवासी अक्षत गुप्त पुत्र प्रदीप गुप्त के इजी मार्ट पर विभाग ने छापा मारकर कुट्टू के आटा का नमूना 11 अक्तूबर 2013 को भरा था। यह आटा भी जांच में मिलावटी पाया गया। मामले की रिपोर्ट एडीएम कोर्ट में दर्ज कराई गई है। इसी तरह शहर के मुहल्ला सिपाही ठाकुर निवासी रामकृष्ण पुत्र रमाकांत की दुकान पर कुट्टू का आंटा मिलावटी पाया गया। यहां पर भी 11 अक्तूबर 2013 को ही छापा मारा गया था। इसका भी नमूना फेल निकला। सौरिख के किदवई नगर मुहल्ला निवासी घनश्याम चौरसिया पुत्र महेश चंद्र चौरसिया की दुकान पर छापा मारकर मयूर गोल्ड रिफाइन पामोलीन आयल का नमूना 27 जनवरी 2014 को भरा गया था। यह नमूना भी फेल आया। इस तेल में भी मिलावट पाई गई। दुकानदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। ठठिया कसबा निवासी विनय कुमार ओमर पुत्र जगदीश चंद्र ओमर की दुकान पर 30 जनवरी 2013 को पारस सब्जी मसाला का नमूना भरा गया। यह मसाला भी जांच में मिलावटी पाया गया।

मिलावटखोर जाएंगे जेल और लगेगा जुर्माना
कन्नौज। जिला अभिहीत अधिकारी राजेंद्र सिंह का कहना है कि मिलावटखोरों को बख्शा नहीं जाएगा। ईजी मार्ट के संचालक अक्षत गुप्त और तिर्वा के दुकानदार मुन्नू सिंह यादव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। जांच शुरू हो गई है। कोर्ट में मुकदमे की ठोस पैरवी करके मिलावटखोरी करने के लिए दोषी लोगों पर कानूनी कार्रवाई कराई जाएगी। ताकि दुकानदार ज्यादा मुनाफा कमाने के लालच में जनता को बीमारी न बांटें। उन्होंने कहा कि जो तीन दुकानदार बचे हैं उनके खिलाफ भी इसी महीने मुकदमा लिख जाएगा। उन्हें जेल भेजने से लेकर जुर्माना लगाने तक की कार्रवाई की जाएगी।

सामान ख्ररीदने से पहले गुणवत्ता चेक करें
खाद्य एवं औषधि विभाग ने जिले वासियों को एलर्ट किया है कि वे खानपान का सामान खरीदने से पहले क्वालिटी अवश्य चेक करें। दुकानदार से खरीद के बाद भुगतान करते समय रसीद अवश्य लें, ताकि वे मौका पड़ने पर साबित कर सकें कि उसी दुकान से उन्होंने सामान खरीदा था। यदि कहीं पर भी कोई भी सामान मिलावटी होने का शक हो तो फौरन विभागीय अधिकारियों से शिकायत करें। वे मौके पर पहुंचकर नमूना भरकर जांच के लिए लैब में भेजेंगे। लोभ-लालच में जनता की सेहत के दुश्मन बने दुकानदारों व व्यापारियों को दंडित कराने में जनता भी सहयोग दे। मोबाइल नंबर 9454468348 या 9473929842 पर फोन कर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
दुकानदार-व्यापारी सुधरें वरना खैर नहीं
अफसरों ने जिले भर के दुकानदारों व व्यापारियों को चेतावनी दी है कि वे अपना रवैया सुधार लें। ग्राहकों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ न करें। जो सामान बेचें वह अच्छी किस्म का हो। किसी भी सामान में कोई भी खामी नजर आए तो उसे न बेचें। विभाग की तरफ से जल्द ही फिर छापामार अभियान चलाया जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us