सब्सिडी डकारने को अपात्र भी लाइन में

Kannauj Updated Mon, 28 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें
कन्नौज। राष्ट्रीय बागवानी मिशन योजना के तहत ट्रैक्टर खरीद पर डेढ़ लाख रुपए की नकद सब्सिडी डकारने के लिए कई अपात्र भी लाइन में लग गए। प्रथम दृष्टया उद्यान विभाग के अधिकारी भी गच्चा खा गए लेकिन विस्तृत पड़ताल के दौरान जालसाजी की कलई खुलकर सामने आ गई तो उनके होश फाख्ता हो गए। ऐसे लोगों के नाम पात्रता सूची से काटने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अपात्र किसी तरह बचने के लिए दौड़भाग में सक्रिय हो गए हैं।
विज्ञापन

उद्यान विभाग औद्यानिक फसलों को बढ़ावा के लिए कृषि यंत्रों की खरीद पर कमजोर तबके के किसानों को अनुदान देता है। इस बार शासन ने किसानों को ट्रैक्टर की खरीद पर सब्सिडी देने के लिए करोड़ों रुपए का बजट स्वीकृत किया। कन्नौज जनपद में करीब 74 किसानों को योजना का लाभ मिलने की मंजूरी मिली है। अनुदान वितरित करने के लिए विभाग ने आवेदनपत्र मांगे। आवेदन पत्र भरने के दौरान कई किसानों ने फरजी कागजात भी लगा डाले। अब जांच के दौरान गड़बड़ी देख अधिकारी दंग रह गए हैं। सूत्रों ने बताया कि करीब एक दर्जन लाभार्थी अपात्र निकले हैं। वहीं कई पात्र लोगों ने बिलों में हेराफेरी की है। जिला उद्यान अधिकारी मुन्ना यादव का कहना है कि कुछ अपात्र निकले हैं। रमानाथ द्विवेदी निवासी गदनपुर ठठिया, रामसनेही द्विवेदी निवासी मझिला का ट्रैक्टर सत्यापन में पुराना निकला। आशीष कुमार निवासी सराय प्रयाग का बिल पुराना निकला। उनकी मानें तो कई अलग-अलग स्तर से अभिलेखों की क्रास चेकिंग कर रही है। अपात्रों का चयन निरस्त कर दिया जाएगा। उधर कई राजनेता भी सक्रिय हो गए हैं। कोई अपात्रों को बचाने के लिए जुगाड़ फिट कर रहा है तो कई नेता चहेतों को ट्रैक्टर की खरीद पर मिलने वाली डेढ़ लाख रुपये की सब्सिडी दिलाने के लिए फोन से सिफारिश करने के साथ ही खुद भी दफ्तर पहुंच रहे हैं। वहीं विभाग का कहना है कि योजना के तहत मानकों को पूरा करने वाले ही सब्सिडी के हकदार होंगे। यदि कोई गलत व्यक्ति सब्सिडी पा गया होगा तो उससे रिकवरी की जाएगी। ट्रैक्टर एजेंसी मालिकों की भूमिका की भी जांच चल रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us