Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Jhansi ›   Take bath daily, otherwise you will become a patient of itching in cold.

रोज नहा लिया करो, नहीं तो ठंड में खुजली के मरीज बन जाओगे

Jhansi Bureau झांसी ब्यूरो
Updated Wed, 19 Jan 2022 12:33 AM IST
Take bath daily, otherwise you will become a patient of itching in cold.
विज्ञापन
ख़बर सुनें
झांसी। नहाना एक अच्छी आदत है। रोज नहाने से तन-मन दोनों साफ रहते हैं, लेकिन इस भीषण ठंड में कई लोग ऐसे भी हैं जो हफ्तों तक नहीं नहा रहे हैं। ऐसे में इनमें से ही कई खुजली के मरीज बन रहे हैं। ये मरीज जिला अस्पताल पहुंचने लगे हैं। जहां डॉक्टर उन्हें दवाइयों के साथ साफ-सुधरा रहने के लिए रोज नहाने की सलाह दे रहे हैं। इन दिनों जिला अस्पताल में चर्म रोग एवं गुप्त रोग विभाग की ओपीडी में रोज इस तरह के 80-90 से अधिक केस पहुंच रहे हैं।
विज्ञापन

जिला अस्पताल के चर्म रोग एवं गुप्त रोग विभाग की ओपीडी में इन दिनों स्किन संबंधी रोगों के काफी मरीज पहुंच रहे हैं। ओपीडी का हाल ऐसा है कि यदि हर रोज 200 मरीज आ रहे तो इनमें 120 मरीज ठंड में होने वाली खुजली व इससे संबंधित रोगों के आ रहे हैं।

इनमें सबसे बड़ी संख्या युवाओं और कामकाजी पुरुषों की है। जो रोज नहा नहीं रहे। एक ही कपड़ा कई दिनों तक बिना धोए पहन रहे हैं। फास्ट फूड या नॉनवेज ज्यादा खा रहे हैं। शरीर की साफ-सफाई पर कोई ध्यान नहीं है। ऐसे लोग ठंड में बहुत तेजी से खुजली की समस्या का शिकार हो रहे हैं। जिला अस्पताल के डॉक्टर के अनुसार युवाओं में देखा जा रहा कि खुजली आदि होने पर बाजार से कोई भी दवा या ट्यूब लेकर लगा रहे हैं लेकिन यह खतरनाक हो सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के स्किन पर कोई भी दवा न लगाएं। गुनगुने पानी से नहाकर साफ-सुधरे और सूखे कपड़े पहनें।
हफ्तों में नहाने व बार-बार डियो लगाने से बढ़ सकती है समस्या
डॉक्टर बता रहे हैं कि कई केस ऐसे भी आते हैं, जिसमें लोग रोज नहाने की बजाए डियो या सेंट लगाकर हफ्तों गुजार देते हैं। यह स्थिति नुकसानदेय होती है। इससे फंगस तेजी से बढ़ता है, शरीर में चकत्ते, खुजली और लालपन हो सकता है। ठंड के मौसम में इससे बचने के लिए रोज गुनगुने पानी से नहाएं और कपड़े बदलें। कपड़े न बदलने से भी खुजली की समस्या बढ़ सकती है। युवाओं में यह समस्या ज्यादातर देखने में आ रही है। ओपीडी में ऐसे लोगों को बताया जा रहा है कि रोज नहाने की आदत डालें और धूप में भी बैठें।
डॉक्टरों के अनुसार ये बिल्कुल न करें
-हफ्ते में एक-दो बार नहाने की आदत न डालें।
-त्वचा संबंधी रोगों का इलाज अधूरा न छोड़ें।
-बाजार से अपने आप कोई दवा न लें, डॉक्टर की सलाह जरूरी है।
-समस्या शुरू होते ही तुरंत डॉक्टर से मिलें, इसे गंभीर न होने दें।
ठंड में ये कर सकते हैं
-नहाने के लिए गुनगुना पानी उपयोग करें।
-गीले कपड़े पूरी तरह सूखने के बाद ही पहनें।
-हर रोज नॉनवेज व बाहर खाने से बचें।
-गर्म कपड़ों को धूप अवश्य दिखाएं।
ठंड में नमी के कारण शरीर में फंगस तेजी से पनपने की संभावना काफी ज्यादा रहती है। ऐसे में जो लोग रोज नहीं नहाते हैं। हफ्तों में एक बार नहाने के अलावा बार-बार बिना धुले व बिना ठीक से सूखे गर्म कपड़ों का लगातार इस्तेमाल करते हैं। उन्हें खुजली की समस्या के साथ स्किन संबंधी कई तरह के रोग हो रहे हैं। ओपीडी में ऐसे मरीजों की रोज भरमार रहती है।
डॉ. दीपशिखा-चर्म रोग विशेषज्ञ, जिला अस्पताल

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00