25 दिनों में ढाई गुने हो गए डेंगू के मरीज

विज्ञापन
Jhansi Bureau अमर उजाला ब्यूरो, झांसी Published by: झांसी ब्यूरो
Updated Tue, 05 Nov 2019 01:30 AM IST
डेंगू
डेंगू - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
झांसी में डेंगू का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। पिछले 25 दिनों में मरीजों की संख्या ढाई गुना बढ़ गई है। सोमवार को ही डेंगू के तीन नए मरीज मिले हैं। शिवाजी नगर और मेडिकल कॉलेज के आसपास के क्षेत्रों में डेंगू का असर ज्यादा देखने को मिला है।
विज्ञापन


एडीज मच्छर के काटने होता है डेंगू
डेंगू एडीज मच्छर के काटने से होता है। मच्छर काटने के पांच से छह दिन बाद डेंगू के लक्षण दिखाई देने लगते हैं। डेंगू के सबसे खतरनाक लक्षणों में हड्डियों का दर्द शामिल है। इस वजह से डेंगू बुखार को हड्डीतोड़ बुखार भी कहा जाता है। अगस्त से नवंबर महीना डेंगू के लिए सबसे मुफीद होता है। इस बार अगस्त और सितंबर में डेंगू का असर ज्यादा देखने को नहीं मिला, लेकिन अक्तूबर से डेंगू का डंक लोगों को तेजी से शिकार बना रहा है।


शिवाजी नगर में सबसे ज्यादा असर 
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार जनपद में बीते 10 अक्तूबर तक डेंगू के 11 मरीज थे। पिछले 25 दिनों में मरीजों की संख्या ढाई गुना बढ़कर 28 पहुंच गई है। सबसे ज्यादा असर शिवाजी नगर और मेडिकल कॉलेज के आसपास के इलाकों में दिखा है।

बुखार पीड़ित 16 की स्लाइड बनाई
डेंगू के बढ़ते असर को मद्देनजर रखते हुए मलेरिया विभाग की टीम ने सोमवार को नैनागढ़ में घर-घर जाकर जांच-पड़ताल की। पांच घरों में लार्वा मिला है। उनको विभाग ने नोटिस दिया है। इसके अलावा बुखार के 16 रोगियों की स्लाइड बनाई गई है। इनका एलाइजा टेस्ट कराया जाएगा। इसके अलावा क्षेत्र में लार्वी साइट का छिड़काव कराया गया है। ताकि, जहां भी डेंगू का लार्वा पनप रहा हो, वो खत्म हो जाए।

डेंगू पीड़ित के घर पर मिला लार्वा
मलेरिया विभाग की टीम ने शिवाजी नगर स्थित डेंगू पीड़ित के घर पहुंचकर भी जांच की। घर के कूलर, पानी की टंकी समेत तीन पात्रों में डेंगू का लार्वा मिला। टीम ने परिवार के लोगों को बताया कि पात्र में लंबे समय तक साफ पानी रखा रहने की वजह से डेंगू का लार्वा पनपता है। इसलिए लंबे समय तक पानी एकत्र करके नहीं रखना चाहिए।

ये हैं लक्षण
- त्वचा पर चकत्ते
- तेज सिर दर्द
- पीठ व आंखों में दर्द
- तेज बुखार
- मसूड़ों से खून बहना
- नाक से खून बहना
- जोड़ों में दर्द

ये भी जानें
- एडिज मच्छर दिन में काटता है, शरीर को ढककर रखें
- घर के अंदर और आसपास सफाई रखें
- कूलर, गमले और टायर आदि में पानी न भरने दें
- कूलर या पानी वाली जगहों पर किरासन तेल या मच्छर भगाने का पाउडर डालें
- पानी की टंकियों को सही तरीके से ढककर रखें

मरीज बोले
................
शनिवार को गोलाकुआं स्थित ससुराल आया था। अचानक बुखार आने लगा और शरीर दर्द शुरू हो गया। जांच कराने पर डेंगू की पुष्टि हुई। खून की कमी हो गई है। - मुकेश कुमार, कटनी

लगातार बुखार बना हुआ था तो जिला अस्पताल आकर डॉक्टर को दिखाया। जांच कराने पर डेंगू की पुष्टि हुई। शुक्रवार से यहीं पर भर्ती होकर इलाज करा रहा हूं। - विनय कुमार, गोंदू कपाउंड

तहसील पर रहने वाले अपने रिश्तेदार के यहां आया था। यहीं मच्छर काटने के बाद डेंगू हो गया। पिछले तीन दिनों से जिला अस्पताल में ही इलाज चल रहा है। - जितेंद्र कुमार, हमीरपुर।

डेंगू की वजह से लगातार बुखार आ रहा था। पिछले चार दिनों से जिला अस्पताल में भर्ती होकर इलाज करा रहा हूं। डेंगू से शारीरिक दर्द होने से बहुत कष्ट है। - ट्रॉफी, अंदर उन्नाव गेट।

इनका कहना है 

इस साल जिले में डेंगू के अब तक 28 रोगी मिले हैं। यह आंकड़ा पिछले साल की तुलना में बहुत कम है। बीते वर्ष 288 डेंगू रोगी मिले थे। लगातार अभियान चलाकर डेंगू संभावित क्षेत्रों मे लार्वीसाइड का छिड़काव किया जा रहा है।
आरके गुप्ता, जिला मलेरिया अधिकारी
 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X