सौगात: गणतंत्र दिवस के पूर्व गरीबों को मिला आशियाना

Jhansi Updated Sun, 26 Jan 2014 05:51 AM IST
झांसी। गणतंत्र दिवस के एक दिन पूर्व गरीबों को अपना आशियाना मिल गया। मान्यवर कांशीराम शहरी गरीब आवासीय योजना के अंतर्गत ग्राम करारी में 150 गरीब परिवारों को आवास आवंटित किए गए। इस मौके पर पूर्व सांसद डा. चंद्रपाल सिंह यादव ने कहा कि अखिलेश यादव सरकार ने गरीबों को विशेष अधिकार दिए हैं। सरकार गरीबों के हित में कार्य कर रही है।
झांसी विकास प्राधिकरण द्वारा प्रथम फेज में 15 सौ आवास बनाए गए थे, जिन्हें बहुजन समाज पार्टी के कार्यकाल में आवंटित कर दिया गया था। द्वितीय फेज में 396 आवास बनाए गए, लेकिन तब तक प्रदेश से बसपा का राज चला गया और मामला ठंडे बस्ते में पड़ गया। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर इन्हें आवंटित करने का निर्णय लिया गया और आनन- फानन में तैयारियां की गईं। इस दौरान गरीबों के नाम फाइनल किए गए।
करारी स्थित कैंपस में शनिवार को आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डा. चंद्रपाल सिंह यादव ने कहा कि जिन लोगों के पास मकान नहीं थे, उनको भवन देकर सरकार ने सहारा दिया है। अब यहां भी लोेग एक परिवार की तरह रहेंगे। घर को कितना सजा कर रखना है, यह तो यहां के निवासियों पर निर्भर करता है। उन्होंने भाईचारा कायम रखने का आह्वान करते हुए कहा कि संगठित होकर एकता के सूत्र में बंधेंगे, तभी मिलकर कार्य कर सकेंगे। इसके बाद घर का रखरखाव अच्छी तरह कर सकेंगे। पूर्व सांसद ने 150 गरीबों को आवास सौंपे। अपर जिलाधिकारी/ जेडीए सचिव राहुल सिंह ने भी विचार व्यक्त किए। इस मौके पर उपजिलाधिकारी भगवान शरण, जितेंद्र प्रजापति, जेई पी के पटैरिया, डी के शर्मा, रविंद्र गुप्ता आदि मौजूद रहे। संचालन जेई नरेंद्र थापक ने किया।

साहब! तीसरी मंजिल पर पानी ले जाने में पांव टूट गए
झांसी। साहब! तीसरी मंजिल पर नल नहीं आते हैं, इसलिए पानी भरने में बहुत परेशानी होती है। पानी भरते - भरते गोड़े (पैर) दर्द होने लगते हैं। बुढ़ापे में तो गोड़े टूट ही गए हैं। कृपा करके पानी का इंतजाम कर दो। यह पीड़ा वहां की निवासी रामप्यारी ने पूर्व सांसद को हाथ जोड़कर बताई, जिस पर उन्होंने उचित कार्रवाई का आश्वासन तो दिया, लेकिन वास्तविकता यह है कि बसपा की सरकार जानेे के बाद यहां के निवासियों का कोई पुरसा हाल नहीं है। जो जिस स्थिति में रह रहा है, उसे उन्हीं हालातों से समझौता करना पड़ रहा है।

किराए पर उठा दिए नीचे के आवास
झांसी। करारी स्थित मान्यवर कांशीराम शहरी गरीब आवासीय योजना के अंतर्गत तीन मंजिल की कालोनी बनाई गई है। इनमें से नीचे के अधिकांश आवास किराये पर उठा दिए गए हैं। मोटरसाइकिल और ऑटो यहां ज्यादातर घरों बाहर खडे़ देखे जा सकते हैं, हालांकि ये सभी गरीबों की श्रेणी में आते हैं।

रोजगार की व्यवस्था की जरूरत
झांसी। करारी में मजदूर तबके की अधिकांश महिलाएं रहती हैं। उन्होंने अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि शहर तक आने- जाने में उन्हें 25 रुपये किराया देना पड़ता है। यदि किसी कारण से उन्हें मजदूरी नहीं मिलती है तो उनके 25 रुपये बेकार हो जाते हैं। अत: ऐसी व्यवस्था की जाए कि यहीं पर रोजगार के अवसर मिल जाएं, ताकि उन्हें मजदूरी के लिए भटकना न पड़े।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper