सामने फायरिंग होते देख उड़ गए दंपति के होश

Jhansi Updated Tue, 21 Jan 2014 05:51 AM IST
झांसी। कानपुर हाईवे के पिछोर लिंक रोड पर हमलावरों द्वारा जिस समय कार सवार टीकमगढ़ के गढ़कुंडार निवासी ब्रजेश तिवारी और उनके परिजनों को मौत के घाट उतारा जा रहा था, उसी समय वहां से इस वारदात से अंजान एक दंपति बाइक से गुजरा। नजदीक पहुंचने पर जब दोनों ने गोलियों की तड़तड़ाहट की आवाज सुनी और सामने का नजारा देखा तो उनके होश उड़ गए। वहां से वे बिना रुके तेजी से भाग निकले।
एसपी सिटी अवधेश कुमार ने दंपति के हवाले से बताया कि दंपति अपनी बातों में मशगूल थे, जिसकी वजह से उन्होंने गोलियों की आवाज को अनसुना कर दिया। रास्ते में दो कारों को बेतरतीब खड़ा देख पति ने बाइक कच्चे रास्ते पर उतार लिया। जैसे ही वह वहां पहुंचे तो नजारा देख भयभीत हो गए। इस पर पत्नी के जल्द से भागने की आवाज पर उसने बाइक दौड़ा दी। दूर निकलने के बाद जब उन्होंने पीछे मुड़कर देखा तो लाल कार बैक कर हमलावर कानपुर हाईवे की निकल गए थे। दंपति से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस का कयास है कि हमलावर गांव से ही पीछे लगे थे और वापस मध्यप्रदेश की सीमा में चले गए।


मकर संक्रांति को खरीदी थी लाल कार
एसपी देहात दिनेश सिंह का कहना है कि जांच पड़ताल के दौरान पता चला है कि जिस कार में हमलावर आए थे, वह कार 14 जनवरी यानी मकर संक्रांति को खरीदी गई थी। किसके नाम से कार खरीदी गई है, उसकी पड़ताल की जा रही है। पुलिस सूत्रों पर यकीन करें तो संभवत: कार को खुरैंजी वारदात को अंजाम देने की मंशा से खरीदा गया था।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls