बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

खंगाले जाने लगे सफाई व्यवस्था से जुड़े प्रस्ताव

Jhansi Updated Mon, 11 Feb 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विज्ञापन

झांसी। नगर निगम कार्यकारिणी और सदन की बैठक की तिथि नजदीक आने से अफसरों की धड़कनें बढ़ने लगी हैं। खासकर पटरी से उतरी सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए पिछली बैठकों में पारित प्रस्तावों पर अब तक अमल नहीं होने से हंगामा होना तय है। इसे देखते हुए प्रस्तावों की फाइलें खंगाली जाने लगी हैं, ताकि बैठकों में असहज स्थिति का सामना न करना पड़े।
छह माह पूर्व हुई सदन की बैठक में नगर की सफाई व्यवस्था में सुधार के लिए अहम प्रस्ताव पारित किए गए थे। इसमें सभी वार्डों में सफाई नायक (हवलदार) की तैनाती, लंबे समय से एक ही स्थान पर तैनात हवलदारों के तबादले, पार्षदों द्वारा सफाई कर्मियों की हाजिरी का सत्यापन, वार्ड की जरूरत के हिसाब से सफाई कर्मियों की तैनाती आदि प्रस्ताव शामिल थे। कार्यकारिणी ने भी उपरोक्त प्रस्तावों पर मुहर लगा दी थी। तब से लेकर अब तक प्रस्तावों पर अमल नहीं हो सका है, जबकि कार्यकारिणी और सदन की बैठक नजदीक आ गई है। 14 फरवरी को कार्यकारिणी और 18 फरवरी को सदन की बैठकों में सफाई व्यवस्था का मुद्दा जोर शोर से उठना है। इसको लेकर पार्षदों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। पार्षद बैठकों में सफाई का मुद्दा किस तरह उठाएंगे, इसको लेकर वह अलग- अलग गुटों में बैठक कर रणनीति बनाने में जुट गए हैं।

उधर, सफाई को लेकर होने वाले हंगामे की संभावनाओं को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग भी सतर्क है। सफाई निरीक्षकों की हाजिरी के आदेश के बाद ड्यूटी के प्रति लापरवाही बरतने वाले सफाई कर्मियों को भी चिह्नित किया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो अफसरों का प्रयास है कि बैठकों से पूर्व इतना तो हो जाए कि सदन को जवाब दिया जा सके।

बदल गए तीन नगर स्वास्थ्य अधिकारी
झांसी। नवनिर्वाचित बोर्ड की पहली बैठक सात अगस्त 2012 को हुई थी। बैठक में सफाई का मुद्दा जोर शोर से उठा था, लेकिन किन्हीं कारणों से तत्कालीन नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. आर एस वर्मा बैठक में मौजूद नहीं थे। इस पर नगर आयुक्त ने उन्हें अगले ही दिन रिलीव कर दिया था। उनकी जगह पर आए डा. वी एम खेर ने नगर निगम में राजनीति हावी होने का कारण बताते हुए जनवरी माह में कुर्सी छोड़ दी थी। इसके बाद डा. बालकिशन को नगर स्वास्थ्य अधिकारी की जिम्मेदारी दी गई, लेकिन तब से लेकर अब तक सफाई संबंधी प्रस्तावों पर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us