असद उल्ला बने केंद्रीय उपभोक्ता भंडार के अध्यक्ष

Jhansi Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
झांसी। केंद्रीय थोक उपभोक्ता सहकारी भंडार लिमिटेड के अध्यक्ष पद पर असद उल्ला खां का निर्विरोध निर्वाचन हो गया। उपाध्यक्ष समेत अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों का चुनाव भी निर्विरोध हो गया।
सोमवार को तहसील के पीछे स्थित डीसीडीएफ कार्यालय में निर्वाचन अधिकारी/ तहसीलदार राजेंद्र बहादुर के समक्ष अध्यक्ष पद के लिए मुकरयाना वार्ड से सदस्य असद उल्ला खां ने नामांकन किया। उपाध्यक्ष पद के लिए चिरगांव से सदस्य रामनरेश ने परचा दाखिल किया। आम सहमति बन जाने के कारण दोनों पदों पर किसी और ने परचा नहीं भरा, इस कारण निर्विरोध निर्वाचन हो गया। निर्वाचन अधिकारी ने इसकी औपचारिक घोषणा की। अन्य संस्थाओं में भेजे जाने वाले प्रतिनिधियों में से पीसीएफ के लिए केशभान सिंह, डीसीडीएफ के लिए अजय सूद, कपिल पटेल, हरभजन साहू व माया देवी, जिला सहकारी बैंक के लिए मधु सूद, सौरभ, जितेंद्र प्रजापति व अमित यादव, उप्र उपभोक्ता सहकारी संघ लखनऊ के लिए रामनरेश, पैक्सपेड के लिए रामसेवक और शीतगृह के लिए रश्मि हयारण का भी निर्विरोध निर्वाचन हो गया। चुनाव प्रक्रिया में अजय कुमार निरंजन ने सहयोग किया। निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा होते ही समर्थकों ने अध्यक्ष व उपाध्यक्ष को फूल मालाओं से लाद दिया। मिष्ठान खिलाकर एक दूसरे का मुंह मीठा किया।
बताते चलें कि सदस्य पद के लिए छनियापुरा से नरेश सिंह यादव, टकसाल से चतुर सिंह, नई बस्ती से रानी यादव, पुलिया नंबर नौ से नसीमा खान, मसीहागंज से अंजली, सिविल लाइन से कपिल पटेल, मुकरयाना से असद उल्ला खां, गुरसरांय व बामौर से बद्रीप्रसाद पटेल, बबीना से सीमा सिंह, मऊरानीपुर व बंगरा से वंदना राजे, चिरगांव से रामनरेश व बड़ागांव से सरदार सिंह निर्विरोध निर्वाचित हुए थे। मोंठ से विश्वनाथ सिंह व जीतेंद्र प्रजापति राज्य सरकार से नामित सदस्य हैं।

जिलाधिकारी के आदेश की उड़ी धज्जियां
झांसी। झांसी विकास प्राधिकरण में शासन से नामित सदस्य प्रतिपाल सिंह एवं उनके असलहाधारी समर्थकों द्वारा स्टाफ से की गई अभद्रता को देखते हुए जिलाधिकारी ने सरकारी कार्यालयों में असलहा लेकर प्रवेश करने पर रोक लगा दी है। लेकिन, आदेश के अगले ही दिन इसकी धज्जियां उड़ती नजर आईं। डीसीडीएफ कार्यालय में सोमवार को निर्वाचन के दौरान कुछ सदस्यों के समर्थक खुलेआम असलहा लिए कार्यालय में चहलकदमी करते रहे, लेकिन उन्हें रोकने वाला कोई नहीं था।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

Report: पंजाब में टूटने लगी है ड्रग माफिया की कमर, जानिए कैसे और क्यों?

पंजाब में अब ड्रग माफिया की कमर टूटने लगी है, मतलब सरकार ने प्रदेश में नशा खत्म करने के लिए जो वादा किया था, वह पूरा होता दिख रहा है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper