शोहदों से परेशान युवतियों ने ली वूमेन पावर लाइन की शरण

Jhansi Updated Thu, 06 Dec 2012 05:30 AM IST
झांसी। शोहदों की हरकतों से परेशान झांसी की युवतियों ने वूमेन पावर लाइन की शरण ली है। उनकी शिकायत पर लखनऊ मुख्यालय से आए संदेश पर पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया है। सीओ (क्राइम) ने बुधवार को तीनों युवकों को नोटिस जारी कर कार्यालय में काउंसलिंग के लिए तलब किया है। यदि वह सुधार का वायदा नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
मनचलों व शोहदों की हरकतों से आजिज युवतियों व महिलाओं को राहत दिलाने के लिए पिछले 15 नवंबर को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में वूमेन पावर लाइन सेवा (टोल फ्री नंबर 1090) शुरू की थी। इसका मकसद बदनामी के भय से मुंह बंद रखकर उत्पीड़न सहन करने वाली युवतियों व महिलाओं को राहत दिलाना है। साथ ही उनकी पहचान गुप्त रखकर शोहदों के खिलाफ कार्रवाई करना भी है।
पिछले दिनों वूमेन पावर लाइन में झांसी की ग्वालियर रोड स्थित पीएनटी कालोनी की युवतियों ने तीन मनचले युवकों की शिकायत की थी। मामले की प्रथम दृष्टया पड़ताल के बाद युवतियों को परेशान करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। बताते हैं कि जिन युवकों के खिलाफ शिकायत की गई है, उनमें सीपरी थाना क्षेत्र के पुष्पेंद्र कुमार , सुनील कुमार अहिरवार और सुनील कुमार गौतम शामिल हैं। शिकायत यह है कि यह लोग सामूहिक रूप से कालौनी से निकलने वाली लड़कियों पर आवाजकशी और छेड़छाड़ करते हैं।
सीओ (क्राइम) अविनाश कुमार गौतम ने उक्त युवकों को काउंसलिंग के लिए नोटिस जारी करके कार्यालय में तलब किया है ताकि उन्हें समझा बुझाकर तथा एक मौका देकर सही रास्ते पर लाया जा सके। यदि उनमें सुधार नहीं होगा तो उनके खिलाफ पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018