रेलवे पार्सल: माल की बुकिंग में सख्ती

Jhansi Updated Tue, 30 Oct 2012 12:00 PM IST
झांसी। रेलवे पार्सल विभाग द्वारा व्यापारियों से टिन नंबर या बिक्री कर नंबर मांगने के कारण राजस्व में बीस फीसदी की गिरावट आ गई है। हालांकि, इससे अपंजीकृत व्यापारियों की समस्या बढ़ गई है।
अभी रेलवे में माल बुक करते समय व्यापारी को अपने पंजीकृत होने का प्रमाण नहीं देना पड़ता था। इससे पंजीकृत व अपंजीकृत व्यापारी आसानी से अपने माल को गंतव्य तक पहुंचा देते थे, लेकिन रेलवे बोर्ड ने अब सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए व्यापारियों को माल बुक कराते समय टिन नंबर या बिक्री कर नंबर प्रस्तुत करना अनिवार्य कर दिया है। इस आदेश पर पार्सल विभाग ने व्यापारियों द्वारा किए जाने वाले माल की बुकिंग में सख्ती शुरू कर दी है। इन दिनों व्यापारी द्वारा टिन नंबर या बिक्री कर नंबर प्रस्तुत करने पर ही उसका माल बुक किया जा रहा है। इससे पार्सल विभाग के राजस्व में पंद्रह से बीस प्रतिशत की गिरावट सामने आई है। वहीं, अपंजीकृत व्यापारियों की समस्या भी बढ़ गई है। फुटकर व्यापारियों ने माल बुक कराना बंद कर दिया है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018