वन विभाग ने जेडीए से मांगे अठारह लाख

Jhansi Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
झांसी। महानगर की सड़कों के सुंदरीकरण कार्य के बीच आ रहे वृक्षों की कटान और नए पौधे रोपने के लिए वन विभाग ने झांसी विकास प्राधिकरण से 18 लाख रुपये की मांग की है।
झांसी विकास प्राधिकरण और नगर निगम मिलकर महानगर की अलग - अलग सड़कों के चौड़ीकरण का कार्य कर रहे हैं। इसमें से नगर निगम खंडेराव गेट से जीवनशाह तिराहा, रिसाला चुंगी से मेडिकल कालेज और मेडिकल कालेज से बाईपास तिराहा तक की सड़कों के चौड़ीकरण, बीच में डिवाइडर और बिजली के खंभों की शिफ्टिंग का कार्य कर रहा है। वहीं, जेडीए चित्रा चौराहा से बीकेडी, बीकेडी से खंडेराव गेट, बीकेडी से जीवनशाह, बीकेडी से ग्वालियर रोड रेलवे क्रासिंग, चित्रा चौराहा से रेलवे स्टेशन, चित्रा चौराहा से इलाइट, इलाइट से जेल चौराहा, कचहरी चौराहा होते हुए रिसाला चुंगी तक की सड़कों को नया लुक देने में जुटा है। जिलाधिकारी ने सभी सड़कों को झांसी महोत्सव तक कंपलीट करने के निर्देश दिए हैं। इसे देखते हुए निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। इसमें सड़क बनाना जितना आसान लग रहा है, बिजली के खंभे शिफ्ट करना और वृक्षों को काटना उतना ही पेचीदा कार्य है।
पेड़ काटने से पूर्व वन विभाग की अनुमति लेना आवश्यक है। वन विभाग ने सड़क निर्माण कर रहे विभागों से एक पेड़ के बदले दो पौधे रोपने और उनके संरक्षण की बात कही थी। साथ ही इस पर आने वाले खर्च का स्टीमेट बनाकर जेडीए को भेज दिया है। करीब 18 लाख रुपये का स्टीमेट देखकर जेडीए को लगता है कि यह अतिरिक्त खर्च है। इसमें ट्री गार्ड का ट्रांसपोर्टेशन ही साठ रुपये प्रति ट्रीगार्ड रखा गया है। हालांकि, वन विभाग का तर्क है कि स्टीमेट में ऐसा कोई खर्च नहीं जोड़ा गया है, जो अतिरिक्त हो। बहरहाल, कोई शंका न रहे इसलिए जेडीए ने तय किया है कि सर्वे कर खर्च का वास्तविक आकलन किया जाएगा। इसमें वन विभाग के अफसरों का भी सहयोग लिया जाएगा। फिलहाल फुटपाथ में आ रहे पेड़ों को नहीं काटा जा रहा है, सिर्फ सड़क के दायरे वाले पेड़ ही काटे जा रहे हैं।
उधर, बिजली के खंभों की शिफ्टिंग को लेकर चल रहा कार्य जिलाधिकारी की सख्ती के बाद रफ्तार पकड़ गया है। हालांकि लाइट काटने के लिए शट डाउन लेने में कई बार दिक्कत आ जाती है। बिजली विभाग को जनता की परेशानी का भी ध्यान रखना पड़ता है। इस कारण शट डाउन की टाइमिंग को लेकर दोनों विभागों को समन्वय बनाकर कार्य करना पड़ रहा है। सूत्रों की मानें तो दिन में जब भी विभाग बिजली कटौती करता है, एक या दो घंटे अतिरिक्त शटडाउनले लिया जाता है। बिजली के खंभे शिफ्ट करने में इस बात का भी ध्यान रखा जा रहा है कि भविष्य में यदि सड़क फिर चौड़ी करनी पड़े या किनारे पर नाला आदि बनाना पड़े तो दिक्कत न हो। इसलिए सड़क के बिल्कुल किनारे से बिजली के खंभे शिफ्ट किए जा रहे हैं।


वृक्षारोपण को लेकर वन विभाग ने स्टीमेट दिया है। उसका सर्वे कराया जा रहा है। शहर के विकास के लिए जो भी जरूरी होगा, किया जाएगा।
- आनंद कुमार, सचिव झांसी विकास प्राधिकरण

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

आप विधायकों को हाईकोर्ट ने भी नहीं दी राहत, अब सोमवार को होगी सुनवाई

लाभ के पद के मामले में चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने के मामले में अब सोमवार को होगी सुनवाई।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी के इस टोल प्लाजा पर MLA के रिश्तेदार का तांडव!

यूपी में टोल प्लाजा पर मारपीट की घटना कोई नई बात नहीं है। झांसी में टोल टैक्स मांगने पर खुद को विधायक का रिश्तेदार बताया और टोल कर्मियों की पिटाई कर दी। हालांकि ये साफ नहीं है कि ये कौन लोग हैं।

4 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper