डाटा न सौंपे जाने से नहीं बन पाए बिजली के बिल

Jhansi Updated Wed, 22 Aug 2012 12:00 PM IST
झांसी। एचसीएल द्वारा डाटा न सौंपे जाने से मंगलवार को बिजली के बिल बनाने का काम शुरू नहीं हो सका। बुधवार को भी काम शुरू होने में संदेह है। ऐसे में जिन उपभोक्ताओं के बिल नहीं बन सकेंगे, उनको बिजली विभाग ने सरचार्ज में छूट देने का निर्णय लिया है।
मांग के अनुसार बिजली उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार के रिवाइज्ड एडवांस पावर प्रोजेक्ट डेवलपमेंट प्रोग्राम (आरएपीडीआरपी) के अंतर्गत शहर में इस माह से आनलाइन बिलिंग सेवा शुरू होने जा रही है। इसकी जिम्मेदारी एचसीएल कंपनी को सौंपी गई है। एचसीएल ने झांसी शहर में पूर्व में विद्युत बिलिंग का काम कर रही सांई कंप्यूटर से टाईअप किया है। अनुबंध के तहत सांई कंप्यूटर के मीटर रीडर पूर्व की तरह शहर में बिलिंग का काम करेंगे। एचसीएल कंपनी बिलिंग के लिए सांई कंप्यूटर को पचपन नई मशीनें उपलब्ध करा चुकी है, लेकिन उपभोक्ता का डाटा न मिलने से मंगलवार को बिलिंग का काम शुरू नहीं हो सका। एचसीएल कंपनी अगर बुधवार को डाटा सौंपती है तो बृहस्पतिवार से ही बिल बनने का काम शुरू हो सकेगा।
चूंकि, बिल बनाने का काम तीस अगस्त तक पूरा होना है, ऐसे में शहर के पचासी हजार उपभोक्ताओं को बिल जारी हो पाएंगे, यह संभव दिखाई नहीं दे रहा है। इस संबंध में विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियंता शशिकांत ने बताया कि बृहस्पतिवार से हर हाल में बिलिंग का काम शुरू हो जाएगा। जिन उपभोक्ताओं के इस माह बिल नहीं बन पाएंगे, उनका अगले माह दो महीने का इकट्ठा बिल बना दिया जाएगा। इस स्थिति में उपभोक्ता से कोई अतिरिक्त सरचार्ज वसूल नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोई भी नई व्यवस्था चालू होती है, तो उसे पटरी में आने में दो या तीन महीने लग ही जाते हैं। स्थिति सामान्य होने पर उपभोक्ताओं को आन लाइन बिलिंग से खासी राहत मिल सकेगी।


कलेक्शन काउंटर पर बन सकेंगे बिल
झांसी। विद्युत बिल जमा करने के लिए तेरह कलेक्शन काउंटर बनाए गए हैं। यह काउंटर ढुकुवां कालोनी स्टेशन रोड स्थित विद्युत वितरण खंड कार्यालय एक, गल्ला मंडी सब स्टेशन, रानी महल सब स्टेशन, सदर बाजार विद्युत उप गृह, मुन्नालाल सब स्टेशन खंड कार्यालय दो, प्रेमनगर सब स्टेशन, आरोग्य सदन आवास विकास, मेडिकल कालेज गेट नंबर एक के निकट, हंसारी सब स्टेशन, रामलीला मंच बड़ा बाजार, उन्नाव गेट सब स्टेशन पर बनाए गए हैं। सांई कंप्यूटर में आन लाइन बिलिंग के प्रभारी उदयवीर सिंह ने बताया कि जिन उपभोक्ताओं के बिल नहीं बन सके तो वह पच्चीस से तीस अगस्त के बीच अपने निकट के कलेक्शन काउंटर पर पहुंचकर बिल बनवा सकते हैं। इसमें उपभोक्ता को वर्तमान यूनिट खुद बतानी होगी। इसको एक रजिस्टर में दर्ज किया जाएगा, जिस पर उपभोक्ता के हस्ताक्षर लिए जाएंगे। रीडिंग बताने में अगर कोई गलती होती है तो इसके लिए उपभोक्ता स्वयं जिम्मेदार होगा।

किसी भी काउंटर पर जमा हो सकेंगे बिल
झांसी। उपभोक्ताओं को अब निर्धारित काउंटर पर ही बिल जमा करने की बाध्यता नहीं रहेगी। आन लाइन बिलिंग में उपभोक्ता किसी भी कलेक्शन काउंटर पर बिल जमा कर सकेगा। इसके अलावा सभी को एक ही रंग (सफेद) का बिल प्राप्त होगा। मालूम हो कि अभी वितरण खंड एक के उपभोक्ताओं को लाल व वितरण खंड दो के उपभोक्ताओं को नीला बिल जारी होता था।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

यमुना में अमोनिया बढ़ने से फिर जल संकट, कई दिनों तक होगी दिक्कत

दिल्ली जल बोर्ड के कई संयंत्र क्षमता से कम शोधन कर पा रहे हैं, कई दिन पेयजल संकट रहेगा।

24 फरवरी 2018

Related Videos

आचरण के हिसाब से सीनियर नेता नहीं यशवंत सिन्हा: डॉ महेंद्र नाथ पांडेय

झांसी पहुंचे बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि यशवंत सिन्हा अब आचरण के हिसाब से पार्टी के सीनियर नेता नहीं रहे। यह बात उन्होंने यशवंत सिन्हा के गैर राजनैतिक पार्टी बनाने की घोषणा पर किए सवाल पर कहीं।

16 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen